BREAKING NEWS

बिहार में चमकी बुखार से 107 बच्चों की मौत, आज मुजफ्फरपुर का दौरा करेंगे CM नीतीश◾J&K : अनंतनाग मुठभेड़ में एक जवान शहीद, 2 आतंकी ढेर ◾अगर तीन दिन से ज्यादा किसी अधिकारी ने रोकी फाइल, तो होगी सख्त कार्रवाई : योगी◾कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त होने के बाद बोले नड्डा- कार्यकर्ता के तौर पर BJP को करुंगा मजबूत◾जम्मू-कश्मीर : अनंतनाग में आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ शुरू◾WORLD CUP 2019, WI VS BAN : साकिब के शतक से बांग्लादेश ने वेस्टइंडीज को सात विकेट से हराया ◾दिल्ली में बढ़ा हुआ ऑटो किराया मंगलवार से लागू होगा, अधिसूचना जारी ◾मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति मुर्सी का अदालत में सुनवाई के दौरान निधन ◾ममता बनर्जी से मिलने के बाद बंगाल के चिकित्सकों ने हड़ताल खत्म की ◾जे पी नड्डा भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किये गये ◾पुलवामा में आतंकवादियों ने किया IED विस्फोट, 5 जवान घायल ◾कांग्रेस ने बिहार में दिमागी बुखार से बच्चों की मौत को लेकर सरकार पर निशाना साधा ◾Top 20 News - 17 June : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें ◾बैंकों ने जेट एयरवेज को फिर खड़ा करने की कोशिश छोड़ी, मामला दिवाला कार्रवाई के लिए भेजने का फैसला ◾लोकसभा में साध्वी प्रज्ञा के शपथ लेने के दौरान विपक्ष ने किया हंगामा ◾ममता बनर्जी और डॉक्टरों की बैठक को कवर करने के लिए 2 क्षेत्रीय न्यूज चैनलों को मिली अनुमति◾बिहार : बच्चों की मौत मामले में हर्षवर्धन और मंगल पांडेय के खिलाफ मामला दर्ज◾वायनाड से निर्वाचित हुए राहुल गांधी ने ली लोकसभा सदस्यता की शपथ◾सलमान को झूठा शपथपत्र पेश करने के केस में राहत, कोर्ट ने राज्य सरकार की अर्जी खारिज की◾भागवत ने ममता पर साधा निशाना, कहा-सत्ता के लिए छटपटाहट के कारण हो रही है हिंसा ◾

दिलचस्प खबरें

इस महिला ने पिछले 13 साल में पति की याद में लगाए 73 हजार पौधे

विश्व पर्यावरण दिवस 5 जून को मनाया जाता है। खतरनाक स्टेज पर वायु प्रदूषण पहुंच चुका है। पूरी दुनिया में इसे देखते हुए बचाने के लिए प्रयासों पर चर्चा की जाती रहती है। वहीं इसको लेकर एक्सपट्र्स अपनी राय देते हैं कि आज से ही हम अपने पर्यावरण को बचाने के लिए काम करेंगे तो हम अपनी अगली पीढ़ी के लिए बहुत कुछ बचा जाएंगे।


बेंगलुरु की 68 साल की जेनेट येज्ञश्वरन ने पर्यावरण को बचाने के लिए पहले शुरु कर दी है और वह इसपर जोरों शोरों से काम भी कर रही हैं। जेनेट ने अकेले 75,000 पौधे लगाने का रिकॉर्ड भी बनाया हुआ है। दरअसल जेनेट अपने पति की याद में सारे पौधे लगा रही हैं। 107 साल के पर्यावरणविद साल्लुमरदा थिमक्का से जेनेट को पौधे लगाने का ये खास आईडिया मिला है। इस साल उन्हें पद्मश्री से सम्मानित भी किया जा चुका है।


खबरों की मानें तो, जेनेट के पति आरएस यज्ञेश्वरन की मौत साल 2005 में हो गई थी। बड़े पैमाने पर बेंगुलुरु में विकास के नाम पर पेड़ों को काटा जा रहा था। इसी को देखते हुए जेनेट ने सोचा कि वह अपने आस-पास की चीजों पर बदलाव लाती हैं। जेनेट ने पेड़ों को काटे जाएंगे के खिलाफ अभियान की जगह एक कंस्ट्रक्टिव दिशा में काम करना शुरु किया। पौधे लगाने का अभियान जेनेट ने शुरू कर दिया। 

शुरुआत की अपने घर से 

इस पहले की शुरुआत जेनेट ने अपने घर से की उन्होंने सबसे पहले अपने बगीचे में पौधे लगाना शुरु किया।  उसके बाद लोगों में जागरुकता पैदा करने का काम जेनेट ने शुरु किया। जेनेट ने जब लोगों को बताया तो उसमें से कई लोगों ने सहमति जाताई तो कहीं उनके साथ काम करने से अनिच्छुक दिखाई दिए। जब जेनेट को लोगों का सपोर्ट नहीं मिला तो वह निराश नहीं हुई थी और वह अपना काम करने लगी। 

अभियान शुरु किया दो राज्यों में 

जेनेट ने कर्नाटक और तमिलनाडु में पौधे लगाने के लिए भ्रमण किया। जिस समय जेनेट ने यह अभियान शुरु किया था तो उस समय उनकी जेब से ही ज्यादातर पौधे लगाने के लिए पैसे जाते थे। अब तो बड़े पैमाने में उनका यह अभियान फैल चुका है। अब तो लोग उन्हें पौधे लगाने के लिए डोनेशन भी देते हैं। 


जो क्षेत्र प्राकृतिक आपदाओं से तबाह हो गए हैं उन क्षेत्रों में भी जेनेट काम कर रहीं हैं। जेनेट के प्रोजेक्ट का नाम Thengaja है। गाजा साइक्लोन से प्रभावित इलाकों में 1,000 नारियल के पौधे लगाने का उनका अब टार्गेट है। 


लैंडस्केप डिजाइनिंग की पढ़ाई जेनेट ने की हुई है। इस बात की जेनेट को अच्छे से पता है किस जगह पर कितने पौधे लगाने की जरूरत है। जेनेट अपना अभियान संगठित तरीके से चला रही हैं। जेनेट ने बताया कि जो लोग उनसे किसी भी जगह पौधे लगाने के लिए बोलते हैं तो वह अपनी टीम के साथ वहां जाकर पौधे लगा देती हैं।