BREAKING NEWS

राज्य में कोई भी डिटेंशन सेंटर स्थापित नहीं होगा : CM ममता ◾TOP 20 NEWS 22 October : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾अयोध्या मामला : सुप्रीम कोर्ट ने ‘निर्वाणी अखाड़ा’ को लिखित नोट दाखिल करने की दी इजाजत ◾राज्यपाल सत्यपाल मलिक बोले- किसी भी आतंकवादी या नौकरशाह ने अपना बच्चा आतंकवाद में नहीं खोया◾PMC बैंक घोटाला : 24 अक्टूबर तक बढ़ी आरोपी राकेश वधावन और सारंग वधावन की हिरासत◾सोशल मीडिया अकाउंट को आधार से जोड़ने के सभी मामले सुप्रीम कोर्ट में ट्रांसफर◾मोदी से मिले नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी, PM ने मुलाकात के बाद किया ये ट्वीट ◾J&K और लद्दाख के सरकारी कर्मचारियों को केंद्र का दिवाली तोहफा, 31 अक्टूबर से मिलेगा 7th पेय कमीशन का लाभ ◾राजनाथ सिंह बोले- नौसेना ने यह सुनिश्चित करने के लिए सतर्कता बरती कि 26/11 दोबारा न होने पाए◾राज्यपाल जगदीप धनखड़ का बयान, बोले-ऐसा लगता है कि पश्चिम बंगाल में किसी प्रकार की सेंसरशिप है◾भारतीय सेना ने पुंछ में LoC के पास मोर्टार के तीन गोलों को किया निष्क्रिय◾INX मीडिया भ्रष्टाचार मामले में पी.चिदंबरम को मिली जमानत◾गृहमंत्री अमित शाह का आज जन्मदिन, PM मोदी सहित कई नेताओं ने दी बधाई◾अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट करेगा तय, समझौता या फैसला !◾पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में भर्ती◾Exit Poll : महाराष्ट्र और हरियाणा में भाजपा की प्रचंड जीत के आसार◾अनुच्छेद 370 हटाने के भारत के उद्देश्य का करते हैं समर्थन, पर कश्मीर में हालात पर हैं चिंतित : अमेरिका◾चुनाव के बाद एग्जिट पोल के नतीजे, भाजपा ने राहुल को मारा ताना ◾पकिस्तान द्वारा डाक मेल सेवा पर रोक लगाने के लिए रवि शंकर प्रसाद ने की आलोचना ◾सम्राट नारुहितो के राज्याभिषेक समारोह में शामिल होने जापान पहुंचे राष्ट्रपति कोविंद ◾

दिलचस्प खबरें

गर्मियों में तरबूज खरीदते वक्त इन बातों का जरूर रखे ध्यान, वरना पछताएंगे आप!

जैसा की आप जानते ही है कि गर्मी का मौसम शुरू हो चुका है। ऐसे में इस मौसम में हर व्‍यक्ति को खुद को हाइड्रेटेड और तरोताजा रखने की जरूरत है। वही, अगर इस मौसम में 1 कप कटा हुआ तरबूज मिल जाए, तो क्‍या कहना । तरबूज न केवल हेल्‍दी होता है बल्कि टेस्‍टी भी बहुत लगता है। इसमें पानी ज्यादा मात्रा में पाया जाता हैं और तरबूज को खाने से शरीर को तुरंत एनर्जी भी मिलती हैं इसलिए खासतौर पर इसे गर्मियों के दिनों में इसे जरूर खाना चाहिए। इससे हमारे शरीर को ढेर सारे लाभ होते हैं।

watermelon

जी हां, तरबूज गर्मियों के लिए कुदरत का दिया गया वरदान हैं, इसे खाने से गर्मी से राहत मिलती हैं। आपकी जानकारी के बता दें कि तरबूज हाई लाइकोपीन वाले फलों में से एक है यानि की ये खासतौर पर जब आप अपना वजन कम करना चाहते हों तो इससे बेहतर ऑप्‍शन कुछ और नहीं हो सकता है। वहीं ये भी बता दें कि तरबूज आपको दिल के रोगों से दूर रखने के साथ-साथ आपकी किडनी को हेल्‍दी बनाता है और आपके बीपी को कंट्रोल रखता है। अगर आपको कुछ मीठा खाने का मन करें तो बिना किसी टेंशन के आप आसानी से तरबूज खा सकते हैं।

watermelon

तरबूज के फायदे

watermelon

तरबूज में विटामिन सी और ए काफी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। विटामिन सी हमारे शरीर की रोग-प्रतिरोधक प्रणाली को मजबूत बनाता हैं। तरबूज में पाया जाने वाला विटामिन सी आपको फ्लू होने से भी बचाता हैं और इससे आपकी स्किन भी हेल्दी रहती हैं। तरबूज में आयरन, मैग्नीशियम, मैंगनीज, जिंक, कैल्शियम, आयोडीन और पोटैशियम जैसे मिनरल्स पाए जाते हैं जो हड्डियों और दांतों के लिए लाभकारी माने गए हैं।

watermelon

ये तो हो गई तरबूज की खासियत लेकिन आपको बता दें कि बाज़ार में कई प्रजाति के तरबूज मिलते हैं, जिसे हम अपनी आवश्यकता के हिसाब से खरीदते हैं। कई बार होता है कि तरबूज घर लाकर काटने पर कच्चा निकलता है या मीठा नहीं होता है। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे है कुछ ऐसे तरीके , जिससे आपकी ये समस्‍या दूर हो जाएगी। जी हां, तो चलिए जानते है कि जब आप तरबूज खरीदने बाजार जाते हैं तो आपको कैसे पता चले कि वो अंदर से मीठा है या नहीं।

पहला तरीका 

watermelon

सबसे पहले आप ध्‍यान दें कि आप जो तरबूज खरीद रहे है उसपर पीले रंग का धब्‍बा है या नहीं अगर ये पीला रंग थोड़ा गहरा है तो आप समझ जाएं कि ये अंदर से काफी मीठा होगा। लेकिन वहीं इसका रंग हल्‍का फीका है तो मतलब है कि ये तरबूज अंदर से मीठा नहीं है।

दूसरा तरीका 

watermelon

अगर तरबूज अपने साइज के हिसाब से भारी है तो इसका मतलब है कि वो मीठा है।

तीसरा तरीका 

watermelon

तरबूज को उंगलियों से ठोककर देखें अगर वो अंदर से आवाज तेज आता है तो तरबूज पका हुआ और मीठा है लेकिन वहीं अगर आवाज धीमें आती है तो इसका मतलब है कि तरबूज पका हुआ और मीठा नही है।

 अन्य हेल्थ सम्बन्धित जानकारियों के लिए पढ़ते रहिये।