वैश्विक स्तर पर बात की जाये तो अमेरिका को दुनिया का सबसे ताकतवर देश माना जाता है पर आपको बता दें अमेरिका भले ही दुनिया का सबसे ताकतवर देश हो पर अमीरी के मामले में कई ऐसे देश है जो आर्थिक रूप से अमेरिका से ज्यादा ताकतवर है। अमेरिका भले ही दुनिया के कई मुल्कों को अपने फायदों के लिए कर्ज के रूप में बड़ी धनराशि देता हो पर उसे इन देशों से कर्ज लेना पड़ता है जिसका भुगतान कई तरीकों से किया जाता है।

1. कतर :

qatar

यह देश 20 लाख से भी कम आबादी वाला है पर इस देश की कुल जीडीपी 182 बिलियन डॉलर है। कतर दुनिया का सबसे अमीर देश है और इस देशो को पेट्रोल के निर्यात से ही इसकी 85 फीसदी कमाई होती है। पर्यटन और बैंकिंग भी क़तर की अर्थव्यवस्था के महत्वपूर्ण अंग है।

2. लक्ज़मबर्ग :

luxumberg

लक्ज़मबर्ग यूरोप का सबसे अमीर देश है। साथ ही दुनिया भर के अमीर लोगों के लिए ये पसंदीदा देश है। इसी वजह से दुनिया के कई अरबपति अपने देशों को छोड़ यहां बस गए, ताकि वह अपने देशों के करों से बच सकें। इसे ‘टैक्स हैवन’ मतलब टैक्स का स्वर्ग भी कहा जाता है।

3. सिंगापुर :

Singapore

सिंगापुर सबसे तेजी से तरक्की करने वाले देशों में सबसे आएगी है। सिंगापुर 63 द्वीपों का समूह है और आज ये दुनिया की बड़ी आर्थिक महाशक्ति है। यह देश दुनिया के सबसे बड़े आर्थिक केंद्रों वाले चार देशो में से एक है। 55 लाख की जनसंख्या वाले इस देश की अधिकतर आबादी बौद्ध धर्म को मानती है।

4. नार्वे :

norway

इस देश में करीब 50 लाख लोग बस्ते हैं। जीडीपी के ऊंचे स्तर के कारण यह दुनिया के सबसे धनवान देशों में से एक है और साथ ही यह दुनिया के सबसे सुरक्षित देशों में भी शामिल है।। इस देश की अर्थव्यवस्था नेचुरल गैस और तेल पर निर्भर करते हैं।

5. ब्रूनेइ्र दारएस्सलाम :

brunoi

पूर्वी-दक्षिण एशिया का एक और धनवान देश है। गैस और कच्चे तेल के निर्यात से ही इसकी आय का अधिकांश हिस्सा आता है। 5 लाख से भी कम आबादी वाले इस देश को सबसे कम आबादी वाले देशोंं में भी गिना जाता है।

6. हांगकांग :

hong kong

दुनिया भर के निवेशकों के लिए हांगकांग एशिया की सबसे पसंदीदा जगहों में से एक हैं। चीन से रक्षा और सुरक्षा प्राप्त हांगकांग की मुद्रा अलग ही है। साथ ही यह दुनिया के सबसे महंगा देश है।

दुनिया की 5 सबसे आलिशान शादियाँ जिसमे खर्च की गयी बेशुमार दौलत