मनुष्य की फितरत उसके स्वभाव से जुड़ी होती है। महिला अपने घर में सौभाग्य लेकर आती है। वैसे तो हर महिला हर बेटी हर बहु अपने ससुराल के और अपने माता-पिता के लिए लकी होती है लेकिन कुछ शास्त्रो के अनुसार सौभाग्यशाली महिलाओं की विशेषाओं को भी बताया गया है।

ऐसा मना जाता है कि हमारा अतीत ,वर्तमान और भविष्य का रहस्य हमारे कर्मो से जुडा होता है लेकिन आपको बता दें कि भाविष्य का रहस्य आपके पत्नी के पैरों में छिपा होता है ।

एक मनुष्‍य के पैर और हाथ में पांच उंगलियां होती हैं। अंगूठे / सबसे बड़ी पैर की अंगुली, तर्जनी / दूसरे पैर की अंगुली, मध्यम उंगली / तीसरे पैर की अंगुली, अनामिका / रिंग उंगली / चौथे पैर की अंगुली, और छोटी उंगली / थोड़ा पैर की अंगुली।

प्रचीन विद्वानों के अनुसार हर कोई आदमी एक औरत और पुरूष के बिना पूरा नहीं होता । इस तरह मनुष्य का भी भाविष्य उसके साथी के साथ जुडा होता है। यह संकेत अपने साथी के लक्ष्ण आदि के बारे में बताते हैं। महिला के पैर में उनके पति के भाग्य के बारे में बतता है।