BREAKING NEWS

कृषि कानून : किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी, सिंघु बॉर्डर पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात◾देश में कोरोना केस 96 लाख के करीब, अब तक 90 लाख से अधिक लोगों ने महामारी को दी मात ◾हैदराबाद में GHMC चुनाव की मतगणना जारी, प्रचार अभियान में BJP ने झोंक दी थी पूरी ताकत◾TOP 5 NEWS 04 DECEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾दुनियाभर में कोरोना महामारी का हाहाकार, संक्रमितों का आंकड़ा साढ़े 6 करोड़ के पार ◾आज का राशिफल ( 4 दिसंबर 2020 )◾अगले सप्ताह सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात जा सकते हैं सेना प्रमुख जनरल नरवणे ◾PM मोदी IIT 2020 वैश्विक शिखर सम्मेलन को करेंगे संबोधित◾अमरिंदर ने शाह से मुलाकात की : केंद्र किसानों से जल्द गतिरोध समाप्त करने की अपील की◾कृषि कानूनों के विरोध में प्रकाश सिंह बादल ने लौटाया पद्म विभूषण ◾SC ने कोरोना के आंकड़ों की दोबारा जांच के तरीके के बारे में केजरीवाल सरकार से मांगी जानकारी◾दिल्ली में 24 घण्टे में संक्रमण के 3734 नए मामले आये सामने, 82 लोगों की मौत◾साढ़े सात घंटे तक चली किसानों और सरकार के बीच बैठक बेनतीजा, अब 5 दिसंबर को अगली वार्ता ◾गृह मंत्री बासवराज बोम्मई का ऐलान, कहा- लव जिहाद के खिलाफ कर्नाटक में भी लागू होगा कानून ◾किसान आंदोलन: आपस में उलझे CM अमरिंदर और केजरीवाल, कैप्टन को बताया 'मोदी भक्त' ◾नए कृषि कानूनों के विरोध में राज्यसभा सांसद सुखदेव ढींढसा ने भी लौटाया पद्मभूषण◾CM ममता की केंद्र को चेतावनी, 'कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया गया तो देशव्यापी विरोध प्रदर्शन होगा शुरू'◾मीटिंग के दौरान किसानों ने सरकार के लंच को ठुकराया, लंगर से मंगा कर जमीन पर बैठ कर किया भोजन ◾गुजरात में मास्क न पहनने वालों की कोविड सेंटर पर ड्यूटी लगाने के निर्देश पर सुप्रीम कोर्ट की रोक ◾इंटरपोल की चेतावनी - अपराधी गिरोह कोविड-19 का नकली टीका बेच सकते हैं, रहें सावधान ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

इस वजह से नवरात्रि में बंगाली महिलाएं पहनती हैं सफेद और लाल जामदानी साड़ी

हर साल नवरात्रि के दिनों में बंगाल में मां दुर्गा की भव्य पूजा का आयोजन किया जाता है। बंगाल में चारों और बेहद खूबसूरत पंडाल सजाए जाते हैं इस दौरान यहां पर महिलाएं सफेद और लाल रंग की साड़ी पहने नजर आती हैं। हालांकि अब फैशन की होड़ में कई सारी महिलाएं हर तरह की रंग की साड़ी और कपड़े पहन लेती हैं। 

लेकिन बावजूद इसके उनकी पहली पसंद लाल बार्डर वाली सफेद साड़ी ही होती है। तो आइए एक बार जान लें कि इस सफेद और लाल बार्डर वाली साड़ी के बारे में और क्यों दुर्गा पूजा में आखिरकार महिलाओं की पहली पंसद होती है यह साड़ी। 

 साड़ी जामदानी कपड़े से होती है तैयार 

सफेद और लाल रंग की ये साड़ी खास कपड़े जिसे जामदानी कहा जाता है उससे तैयार की जाती है। जामदानी साड़ी को हाथ से बुनकर तैयार किया जाता है। ये साड़ी कॉटन की होती है,लेकिन अब धीरे-धीरे इसमें सिल्क की मिलावट भी की जाती है। 

इस साड़ी की सबसे बड़ी खासियत यह होती है कि इस साड़ी के कपड़े का वजन बेहद हल्का होता है जो बंगाल के नमी वाले मौसम के लिए एकदम परफेक्ट होती है। 

जामदानी साड़ी के हल्के वजन की वजह से बंगाल की महिलाएं इस साड़ी को बहुत पसंद करती है। समय के साथ-साथ और फैशन को देखते हुए जामदानी साड़ी में भी अब एक से बढ़कर एक डिजाइन मिलने लगे हैं जोकि महिलाओं से लेकर लड़कियों तक सभी को पसंद आते हैं। 

बता दें कि सफेद और लाल रंग बंगाल का परंपरागत रंग है। शादीशुदा महिलाएं नवरात्रि के दिनों इस साड़ी को बड़ी सी लाल बिंदी,सिंदूर और सोने के आभूषण के साथ पहनती हैं।

वहीं अष्टïमी के दिन सभी बंगाली महिलाएं परंपरागत रूप से तैयार होकर मां दुर्गा का पुष्पांजलि अर्पित करती हैं। इसके बाद वह इसी साड़ी को दशहरे वाले दिन पहनकर मां दुर्गा को सिंदूर अर्पित कर सिंदूर खेला खेलती हैं।