सितारगंज :  क्षेत्र में नशे का कारोबार अपनी जड़ें जमा चुका हैं। शराब, स्मैक व चरस के बाद अब यहां हेरोइन भी आने लगी हैं। पुलिस ने एक हेरोइन तस्कर को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 675 ग्राम हेरोइन बरामद की हैं। बरामद हेरोइन की कीमत करीब एक करोड़ रुपये आंकी गई है। बताया जाता है कि यह हेरोइन दिल्ली से लाई गई थी। पुलिस तस्कर के गिरोह के बारे में जानकारी जुटा रही हैं। पुलिस को काफी समय से क्षेत्र में मादक पदार्थ की खेप लाये जाने का संदेह था। इसी के चलते सरकड़ा चौकी इंचार्ज अमित कुमार शर्मा ने तस्कर को पकड़ने के लिए जाल बिछाया। आरोपी पुलिस के जाल में फंस गया।

मामले का खुलासा कोतवाली में अपर पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र फिंचा ने किया। उन्होंने बताया कि स्थानीय पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर खटीमा रोड पर चेकिंग शुरू की। इसी दौरान पुलिस टीम को संदिग्ध व्यक्ति आता दिखाई दिया। उसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया। तलाशी लेने पर उसके कब्जे से 675 ग्राम हेरोइन बरामद हुई। आरोपी ने अपना नाम सिडकुल के समीप ग्राम उकरौली निवासी राजकुमार पुत्र निर्मल सरकार बताया। उसने पुलिस को बताया कि वह दिल्ली से हेरोइन को लाकर औद्योगिक पार्क क्षेत्र में बेचता था। पुलिस उससे गहन पूछताछ में लगी हैं।

माना जा रहा है कि इतना बड़ा कारोबार वह अकेले नहीं कर सकता। पुलिस उसके गिरोह के बारे में पता लगा रही हैं। सूत्र बताते है कि ये हेरोइन पंजाब स्थित पाकिस्तान बार्डर से दिल्ली व वहां से यहां लाई जाती थी। बाद में यहां से अन्य क्षेत्रों को सप्लाई की जाती थी। नशीले पदार्थ के खिलाफ पुलिस को मिली इस सफलता पर एसएसपी सदानंद दाते ने पुलिस टीम को 2500 रूपए का इनाम देने की घोषणा की है। एएसपी ने 1500 रूपये बतौर पुरस्कार देने की घोषणा की।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।

– रमेश यादव