हाल ही में एक बेहद अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। जिसमें थॉमस कुक एयरलाइन्स ने एक महिला को यात्रा करने के लिए साफ मना कर दिया और वो क्यों? क्योंकि उस महिला ने क्रॉप टॉप पहना था। महिला बर्मिंघम से केनेरी आइलैंड के लिए सफर तय करने वाली थी। पीडि़ता महिला ने इस बात पर सोशल मीडिया पर अपना आक्रोश भी जाहिर किया है।

सोशल मीडिया में इस बात के चारों ओर फैलने के बाद एयरलाइन्स ने अपने व्यवहार के लिए माफी भी मांगी है। ये पूरा मामला 12 मार्च का है। 21 साल की एमिली ओ कॉनर इंग्लैंड के बर्मिंघम से केनेरी आईलैंड के लिए रवाना हो रही थीं।

जब एमिली ने फ्लाइट में एंट्री करी तो थॉमस कुक एयरलाइन्स के स्टाफ ने उनसे बोला कि जो उन्होंने क्रॉप टॉप और हाईवेस्ट पैंट पहनी हुई है उसे उन्हें ढंकना पड़ेगा। एयरलाइन्स स्टाफ का कहना था कि एमिली कि डे्रस काफी ऑफेंसिव है। फ्लाइट के स्टाफ ने एमिली को अंदर आने से साफ मना कर दिया।

यहाँ पढ़ें ट्विटर पोस्ट:https://twitter.com/emroseoconnor/status/1105591871307431936

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर एमिली ने अपने साथ हुई इस शर्मनाक घटना की जानकारी दी है। एमिली ने लिखा कि, ये मेरे जीवन का सबसे लिंगभेदी, गलत, शर्मनाक अनुभव था। वो लोग मुझे और मेरे सामान को बाहर निकालने के लिए पूरी तरह से आमादा थे।

 

बकौल एमिली फ्लाइट स्टाफ की आपत्ति के बाद उन्होंने दूसरे सहयात्रियों से पूछा भी कि उन्हें मेरी ड्रेस से तकलीफ है क्या? लेकिन इस पर किसी ने आपत्ति नहीं जताई।

 

 

 

 

फ्लाइट मैनेजर के सामने हुआ दुर्व्यवहार

एमिली ने बताया कि इतनी ही नहीं बल्कि फ्लाइट मैनेजर के सामने उनके साथ दुर्व्यवहार भी हुआ। फ्लाइट में बैठ एक शख्स ने उन्हें गाली देते हुए कहा- अपना मुंह बंद करो और इसके ऊपर चुपचाप एक जैकेट पहनो। एमिली ने कहा कि इस व्यवहार से मैं बुरी तरह आहत और शर्मिंदा हुई।

मिली ने बताया कि फ्लाइट स्टाफ के रवैये को देखते हुए आखिरकार एमिली ने एक जैकेट पहनी जो उनके कजिन भाई ने दी थी।

इस पूरी घटना के होने के बाद एयरलाइन्स की ओर से माफी भी मांगी गई है। एयरलाइन्स की तरफ से कहा गया है कि हम अपने स्टाफ की तरफ से किए गए इस तरह के व्यवहार के लिए आपसे माफी मांगते हैं। हम इस सिचुएशन को बेहतर तरीके से हैंडल कर सकते थे।

इस पूरी घटना पर ट्विटर यूजर्स दो समूह में बंट गए हैं। एक तरफ लोग एमिली के कपड़ो के लिए उनका समर्थन कर रहें हैं। तो दूसरी और कई लोगों का कहना है कि जो एयरलाइन ने किया वह एक दम सही है।

1#

2#

3#