BREAKING NEWS

BJP में शामिल हुए पूर्व कांग्रेस नेता अल्पेश ठाकोर, जीतू वघानी ने दिलाई सदस्यता◾कर्नाटक संकट : सिद्धारमैया ने कहा-SC के पिछले आदेश के स्पष्टीकरण तक फ्लोर टेस्ट करना उचित नहीं◾कर्नाटक : CM कुमारस्वामी ने पेश किया विश्वास मत प्रस्ताव◾CM केजरीवाल का बड़ा ऐलान- अनधिकृत कॉलोनियों के मकानों की होगी रजिस्ट्री◾मुंबई पुलिस ने दाऊद इब्राहिम ने भतीजे रिजवान कासकर को किया गिरफ्तार◾मायावती के भाई आनंद कुमार के खिलाफ IT विभाग की कार्रवाई, 400 करोड़ का प्लॉट जब्त◾येद्दियुरप्पा ने किया दावा, बोले- सौ फीसदी भरोसा है कि विश्वास मत प्रस्ताव गिर जाएगा◾22 जुलाई को दोपहर 2 बजकर 43 मिनट पर लॉन्च होगा चंद्रयान-2◾सरकार कुलभूषण जाधव की सुरक्षा और जल्द भारत लाने की कोशिश जारी रखेगी : जयशंकर ◾अयोध्या मामला : SC का आदेश, 2 अगस्त से होगी सुनवाई◾रामनाथ कोविंद ने नौ क्षेत्रीय भाषाओं में फैसले उपलब्ध कराने के प्रयासों की प्रशंसा की ◾कुलभूषण जाधव मामले में ICJ के फैसले की पकिस्तान PM इमरान ने की सराहना◾राहुल गांधी बोले- फिर उम्मीद जगी है कि जाधव एक दिन भारत लौटेंगे◾कर्नाटक : कांग्रेस विधायक रामालिंगा रेड्डी इस्तीफा लेंगे वापस, करेंगे सरकार के पक्ष में मतदान ◾कर्नाटक : कुमारस्वामी सरकार का फ्लोर टेस्ट आज◾हाफिज सईद की गिरफ्तारी का डोनाल्ड ट्रंप ने किया स्वागत, ट्वीट कर कही ये बात ◾पीएम मोदी सहित कई दिग्गज नेताओं ने कुलभूषण जाधव पर ICJ के फैसले का किया स्वागत◾कुलभूषण जाधव ICJ के फैसले पर सुषमा ने मोदी को कहा शुक्रिया◾ICJ में भारत की बड़ी जीत : 15-1 से कुलभूषण यादव के पक्ष में गया फैसला , फांसी पर रोक ◾ICJ : जाधव मामले में पाकिस्तान ने विएना संधि का उल्लंघन किया, अब लगा तगड़ा झटका◾

दिलचस्प खबरें

Zomato ने पनीर की जगह भेजा बटर चिकन, अब चुकानी पड़ी बड़ी कीमत

इन दिनों फूड डिलवरी करने वाली कंपनियों की ऐप खूब जोरो-शोरों से चर्चा में है। क्योंकि अब हर दूसरा इंसान ऐप के जरिए खाना मंगवाना पसंद करते हैं। लेकिन बहुत बार ऐसा भी हो जाता है कि खाना पहुंचने के बाद स्वाद या फिर अन्य चीजों को लेकर कई सारे लोग शिकायतें भी कंपनी से करते हैं। लेकिन हाल ही में फूड डिलीवरी ऐप जोमाटो ने कुछ ऐसा कारनामा कर दिखाया जिसकी वजह से मामला सीधा गया उपभोक्ता फोरम जा पहुंचा। जिस वजह से जोमाटो को भारी भरकम जुर्माना भी चुकाना पड़ेगा।  


ये घटना महाराष्ट्र  के पुणे की है। जहां पर पुणे की एक कनज्यूमर फोरम ने जोमाटो पर पूरे 55 हजार रुपए का जुर्माना लगा दिया है। इस घटना पर फोरम ने जोमाटो को 45 दिनों के भीतर जुर्माना देने का आदेश दिया है।  दरअसल हुआ कुछ यूं कि जोमाटो ने वेज ऑर्डर की जगह नॉन वेज आर्डर की डिलवरी कर दी थी। सूत्रों के अनुसार पुणे शहर के एक वकील शानमुख देशमुख को जोमाटो ने कोई एक बार नहीं बल्कि ये तब ऐसा हुआ जब उन्हें दूसरी बार वेज के बदले नॉन वेज फूड डिलवर किया है। 


क्या था पूरा मामला ?

शानमुख देशमुख ने जोमटो से पनीर बटर मसाला ऑर्डर किया था। लेकिन इसके बदले में उन्हें बटर चिकन डिलवर कर दिया गया। मिली जानकारी के अनुसार दरअसल उन्हें पनीर बटर मसाला और बटर चिकन की ग्रेवी में कुछ अंतर समझ नहीं आया और उन्होंने गलती से इसे टेस्ट कर लिया। जैसे ही उन्हें इस बात का पता लगा कि उन्हें वेज की जगह नॉन वेज दिया भेजा गया है। उन्होंने तुरंत जोमाटो को इस बात की शिकायत की और पैसे वापस करने के लिए बोला। 


जोमाटो ने उपभोक्ता को बताया कि ये गलती होटल वालों की है क्योंकि होटल वालों ने गलत डिश पैक की थी और जोमटो ने सिर्फ खाने को डिलवर किया है। लेकिन फोरम ने दोनों की ही गलती बराबर बताई है। इसके बाद होटल ने अपनी गलती को तभी स्वीकार किया। वहीं खराब सर्विस देने के लिए जुर्माने में 50 हजार रुपये और 5 हजार रुपये मानसिक तकलीफ पहुंचाने के ऐवज में देशमुख को मिलेंगे।