BREAKING NEWS

राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ मंडाविया करेंगे बैठक, वैक्सीन की दूसरी डोज समेत कई मुद्दों पर होगी चर्चा ◾UP चुनाव में एक नई हाई-प्रोफाइल पार्टी की होगी एंट्री, हिंदी भाषी क्षेत्र में धूम मचाने के लिए पूरी तरह तैयार TMC◾कांग्रेस ने नफरत के खिलाफ ‘वैचारिक युद्ध’ का लिया निर्णय, AICC मीटिंग में हुए ये तीन अहम फैसले ◾लालू ने नीतीश को बताया 'सबसे अहंकारी', कांग्रेस के साथ तकरार के लिए 'छुटभैए' नेताओं को ठहराया जिम्मेदार ◾आर्यन का गोसावी के साथ संबंधों से इनकार, NCB ने जमानत का किया विरोध, लगाए ये बड़े इल्जाम ◾योगी का केजरीवाल पर तंज- राम को गाली देने वालों को अब आ रही अयोध्या की याद, पहले संभालिए दिल्ली ◾शिक्षित युवा पाकिस्तान के साथ अपनी पहचान क्यों चुनते हैं? केंद्र पता लगाए: महबूबा मुफ्ती◾अखिलेश यादव ने सरकार पर लगाया आरोप, कहा-भाजपा का 'झूठ का फूल' अब बना 'लूट का फूल' ◾मलिक ने लगाई आरोपों की झड़ी, कहा- सेलिब्रिटीज के फोन टैप करवाते हैं वानखेड़े, चलाते हैं 'वसूली गिरोह'◾नवाब मलिक के दावों को क्रांति वानखेड़े ने बताया गलत, बोलीं-मेरे पति एक ईमानदार अफसर◾पंजाब की सियासत में अमरिंदर खेलेंगे दाव? पूर्व मुख्यमंत्री कल कर सकते हैं नई राजनीतिक पार्टी की घोषणा ◾लखीमपुर हत्याकांड : SC का आदेश- गवाहों को दें सुरक्षा, जांच में तेजी लाए सरकार◾कांग्रेस-RJD की लड़ाई को सुशील मोदी ने बताया 'नूराकुश्ती', बोले-चुनाव के बाद हो जाएंगे एक◾दिल्ली : NCB प्रमुख से मुलाकात करने पहुंचे वानखेड़े, मलिक के आरोपों पर बोले DDG- करेंगे आवश्यक कार्रवाई ◾अनिल विज का मुफ्ती पर तीखा हमला- PAK की जीत पर पटाखे फोड़ने वालों का DNA नहीं हो सकता भारतीय ◾BJP खुद को मानती है केंद्रीय जांच एजेंसियों का आका, याद रखें कि लोकतंत्र में हमेशा होता है बदलाव : शिवसेना◾सोनिया की अगुवाई में AICC मीटिंग, कहा- सरकार की ज्यादतियों के खिलाफ और तेज करनी चाहिए लड़ाई ◾जम्मू-कश्मीर में आतंक गतिविधियों का सिलसिला जारी, बांदीपोरा विस्फोट में 5 नागरिक घायल◾समीर वानखेड़े ने फर्जी दस्तावेज से हासिल की सरकारी नौकरी, होनी चाहिए जांच : नवाब मलिक◾देश में कोरोना के मामलों में गिरावट, पिछले 24 घंटे में 356 मरीजों की हुई मौत ◾

पूर्व क्रिकेटर शेन ली का दावा,बोले-कोहली की कप्‍तानी में डरे-डरे से लगते हैं भारतीय खिलाड़ी

क्रिकेट जगत में खिलाड़ी,कप्तान एंव कोच के बीच हमेशा तुलना होती रही है। परंतु जब कभी एक ही युग के दो खिलाडिय़ों की तुलना होने लगे तब बहस होना लाजिमी है। ऐसे में अजिंक्य रहाणे के नेतृत्व में जब से भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया में 2-1 से टेस्ट सीरीज का खिताब अपने नाम किया है तभी से उनकी और विराट कोहली की कप्तानी के स्टाइल की तुलना होना शुरू हो गई है। 

शेन ली ने रहाणे और कोहली में की तुलना

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ब्रेट ली के बड़े भाई शेन ली ने रहाणे और कोहली की कप्तानी के बीच तुलना करके कहा कि विराट कोहली की कप्तानी में खिलाड़ी थोड़ा डरे हुए नजर आते हैं क्योंकि उनसे पेरोवर अंदाज की मांग करते हैं।

शेन ली ने टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के लिए कहा,देखिए मेरे ख्याल से वह जिस टीम में है या जिस टीम में मैं होता तो उन्हें कप्तान के रूप में देखना बहुत पसंद करता। कोहली सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक हैं। लेकिन मुझे ऐसा लगता है कि कोहली टीम के अंदर अपने खिलाडिय़ों के लिए बहुत पवित्र हैं और वो उनके नेतृत्व में लाइन से पैर हटाने में जरा खौफ खाते हैं। क्योंकि कोहली भारतीय टीम के खिलाडिय़ों से पेशेवर अंदाज की मांग रखते हैं। 

रहाणे को बताया बेहतर कप्‍तान 


शेन ली ने आगे कहा, खिलाड़‍ियों को फिट रहना होगा, उन्‍हें मैदान पर अच्‍छा प्रदर्शन करना होगा और अच्‍छे कैच लपकने होंगे। मगर सभी खिलाड़ी कोहली के नेतृत्‍व में डरे हुए दिखते हैं। मैंने अजिंक्‍य रहाणे के नेतृत्‍व में राहतभरी टीम देखी। कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि कोहली से बेहतर टेस्‍ट कप्‍तान रहाणे साबित हो सकते हैं। शेन ली भी इस विचार से सहमत हैं, लेकिन उन्‍हें नहीं लगता कि मौजूदा भारतीय कप्‍तान अपने पद से इस्‍तीफा देकर रहाणे को मौका देंगे।

इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा 'क्‍या कोहली कप्‍तानी छोड़ेंगे? मुझे शक है। अगर मैं भारतीय चयनकर्ता होता और मैं नहीं हूं, लेकिन अगर होता तो रहाणे को टीम की कमान सौंपता और कोहली को खुलकर बल्‍लेबाजी करने के लिए छोड़ता। और मेरे ख्‍याल से टीम का प्रदर्शन बेहतर होता। मगर समय सब बताएगा।' अजिंक्‍य रहाणे ने ऑस्‍ट्रेलिया में जो सफलता हासिल की उससे ऐसा तो नजर नहीं आता कि टीम प्रबंधन कप्‍तान बदलने पर विश्‍वास करेगा, लेकिन मुंबई के क्रिकेटर से अपेक्षाएं बढ़ गई हैं।

वैसे ये कोई पहली बार नहीं जब किसी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने विराट कोहली की कप्तानी को लेकर सवाल खड़े किए हैं। क्योंकि ऑस्टे्रलिया में इतिहास रचने के बाद भी कई सारे क्रिकेट एक्सपर्ट ने यह बात बोली थी कि टेस्ट क्रिकेट की कप्तानी अजिंक्य रहाणे को सौंप देनी चाहिए। खैर,अब शेन ली की इस बात पर क्रिकेट जगत का कैसा रिएक्शन होने वाला है यह तो आने वाले समय में साफ हो सकेगा। वहीं 5 फरवरी से भारतीय टीम की अगली टेस्ट सीरीज इंग्लैंड के खिलाफ होने जा रही है,जिसमें विराट कोहली कप्तानी करने के लिए मैदान में उतरेंगे।