BREAKING NEWS

भारत को कोरोना से लड़ाई में ऐतिहासिक उपलब्धि, स्वस्थ मरीजों के मामले में अमेरिका को पीछे छोड़ बना शीर्ष◾चीन के लिए रक्षा संबंधी जासूसी करने वाले पत्रकार समेत एक चीनी महिला और नेपाली युवक गिरफ्तार◾कृषि बिल को लेकर चिदंबरम का बड़ा हमला : हर पार्टी तय करे कि वह किसानों के साथ है या भाजपा के साथ◾J&K में एक साल के लिए बिजली-पानी के बिल हुए आधे, व्यापारियों के लिए 1350 करोड़ के पैकेज का ऐलान ◾आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद राज्यपाल धनखड़ का ममता पर प्रहार, कहा - राज्य बना अवैध बम बनाने का घर◾जयपुर : ब्याज माफियाओं से परेशान होकर आभूषण व्यवसायी ने परिवार सहित लगाई फांसी ◾राहुल ने शेयर किया वीडियो, कहा- 'भारतीय राष्ट्रवाद क्रूरता और हिंसा का साथ नहीं दे सकता'◾कुलभूषण जाधव का प्रतिनिधित्व करने के लिए भारत की ''क्वींस काउंसल'' की मांग को पाक ने किया खारिज◾देश में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या 53 लाख के पार, 85 हजार से अधिक मरीजों ने गंवाई जान◾कंगना रनौत की याचिका जुर्माने के साथ खारिज की जानी चाहिए : बीएमसी ◾World Corona : विश्व में महामारी का कहर बरकरार, संक्रमितों का आंकड़ा 3 करोड़ 3 लाख के पार ◾एनआईए ने आतंकवादी अल-कायदा मॉड्यूल का किया भंडाफोड़, 9 लोग गिरफ्तार◾नहीं थम रहा महाराष्ट्र में कोरोना का कहर, बीते 24 घंटे में 21,656 नए केस, 405 की मौत ◾दिल्ली में कोरोना का विस्फोट जारी, बीते 24 घंटे में 4,127 नए केस, 30 की मौत ◾अधीर रंजन चौधरी ने अनुराग ठाकुर पर की विवादित टिप्पणी, लोकसभा में हुआ जमकर हंगामा◾नेपाल के स्कूलों में भारत के खिलाफ जहर, पाठ्य पुस्तकों में भारतीय हिस्सों वाला विवादित नक्शा शामिल ◾सीएम केजरीवाल की सभी गैर भाजपा दलों से अपील - राज्यसभा में कृषि विधेयकों का करें विरोध◾कांग्रेस का तीखा वार : सरकार से उठ चुका है किसानों का विश्वास, प्रधानमंत्री किसान विरोधी◾दिल्ली में 5 अक्टूबर तक सभी छात्रों के लिए बंद रहेंगे स्कूल, केजरीवाल सरकार ने जारी किया आदेश◾चीन ने पहली बार माना, खुलासे में बताया गलवान झड़प में मारे गए थे PLA के जवान◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

बजरंग, रवि कुमार ने स्वर्ण पदक जीते

रोम : भारतीय स्टार पहलवान बजरंग पूनिया हालांकि अपने सर्वश्रेष्ठ के करीब नहीं रहे लेकिन उन्होंने और रवि कुमार दहिया ने यहां रोम रैंकिंग सीरीज टूर्नामेंट में अपने वजन वर्गों में स्वर्ण पदक जीतकर ओलंपिक वर्ष में शानदार शुरूआत की। बजरंग ने शनिवार रात 65 किग्रा फ्रीस्टाइल वर्ग के फाइनल में अमेरिका के जोर्डन माइकल ओलिवर के खिलाफ शानदार वापसी करते हुए 4-3 से जीत हासिल की। रवि अपने नियमित 57 किग्रा के बजाय 61 किग्रा वर्ग में भाग ले रहे हैं। 

उन्होंने शनिवार की रात फाइनल में कजाखस्तान के नुरबोलाट अब्दुलीयेव पर 12-2 से जीत हासिल कर स्वर्ण पदक अपने नाम किया। सोनीपत के 23 साल के इस पहलवान ने मोलदोवा के एलेक्सांद्रू चिरतोआका और कजाखस्तान के नुरीस्लाम सानायेव पर शानदार जीत के बाद फाइनल दौर में प्रवेश किया था। भारत ने इस तरह टूर्नामेंट से सात पदक हासिल किये। विनेश फोगाट और अंशु मलिक ने महिला स्पर्धा में अपने वजन वर्गों में क्रमश: स्वर्ण और रजत पदक अपने नाम किया था। 

वहीं ग्रीको रोमन में गुरप्रीत सिंह (82 किग्रा) ने स्वर्ण, सुनील कुमार (97 किग्रा) ने रजत जबकि सजन भानवाल (77 किग्रा) ने कांस्य पदक हासिल किया था। बजरंग ने स्वीकार किया कि वह अपनी सर्वश्रेष्ठ फार्म में नहीं थे। उन्होंने कहा कि मुकाबले करीबी थे, यह सत्र का पहला ही टूर्नामेंट था इसलिये मैं इतना फुर्तीला नहीं था। टूर्नामेंट में जाने से पहले मुझे लग रहा था कि मेरा प्रदर्शन थोड़ ऊपर नीचे हो जायेगा। उन्होंने कहा कि लेकिन करीबी मुकाबले होना चिंता की बात नहीं है, यह अच्छा है। 

इससे मैं सतर्क रहता हूं और अपनी कमियों पर विचार करने का कोई मौका नहीं छोड़ता। बजरंग के व्यक्तिगत कोच शाको बेनटिनिडिस रोम में उनके साथ नहीं थे, इससे भी भारती पहलवान के प्रदर्शन पर असर पड़ा। उन्होंने कहा कि उन्हें वीजा संबंधित कुछ मुद्दे थे, इसलिये वह मेरे साथ नहीं हो पाये। उनकी अनुपस्थिति से भी मेरे प्रदर्शन पर असर पड़ा। मैचों के दौरान मुझे उनके मार्गदर्शन की काफी कमी खली। 

भारत के तोक्यो ओलंपिक में पदक के प्रबल दावेदार 25 साल के बजरंग के खिलाफ मुकाबले में हारने के बाद ओलिवर ने ट्वीट करते हुए स्वीकार किया कि यह मेरी रात नहीं थी। अमेरिकी पहलवान ने बजरंग की प्रतिस्पर्धी जज्बे की प्रशंसा की।