BREAKING NEWS

TET परीक्षा : सरकार अभ्यर्थियों के साथ-योगी, विपक्ष ने लगाया युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ का आरोप◾संसद में स्वस्थ चर्चा चाहती है सरकार, बैठक में महत्वपूर्ण मुद्दों को हरी झंडी दिखाई गई: राजनाथ सिंह ◾त्रिपुरा के लोगों ने स्पष्ट संदेश दिया है कि वे सुशासन की राजनीति को तरजीह देते हैं : PM मोदी◾कांग्रेस ने हमेशा लोगों के मुद्दों की लड़ाई लड़ी, BJP ब्रिटिश शासकों की तरह जनता को बांट रही है: भूपेश बघेल ◾आजादी के 75 वर्ष बाद भी खत्म नहीं हुआ जातिवाद, ऑनर किलिंग पर बोला SC- यह सही समय है ◾त्रिपुरा नगर निकाय चुनाव में BJP का दमदार प्रदर्शन, TMC और CPI का नहीं खुला खाता ◾केन्द्र सरकार की नीतियों से राज्यों का वित्तीय प्रबंधन गड़बढ़ा रहा है, महंगाई बढ़ी है : अशोक गहलोत◾NFHS के सर्वे से खुलासा, 30 फीसदी से अधिक महिलाओं ने पति के हाथों पत्नी की पिटाई को उचित ठहराया◾कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन को लेकर सरकार सख्त, केंद्र ने लिखा राज्यों को पत्र, जानें क्या है नई सावधानियां ◾AIIMS चीफ गुलेरिया बोले- 'ओमिक्रोन' के स्पाइक प्रोटीन में अधिक परिवर्तन, वैक्सीन की प्रभावशीलता हो सकती है कम◾मन की बात में बोले मोदी -मेरे लिए प्रधानमंत्री पद सत्ता के लिए नहीं, सेवा के लिए है ◾केजरीवाल ने PM मोदी को लिखा पत्र, कोरोना के नए स्वरूप से प्रभावित देशों से उड़ानों पर रोक लगाने का किया आग्रह◾शीतकालीन सत्र को लेकर मायावती की केंद्र को नसीहत- सदन को विश्वास में लेकर काम करे सरकार तो बेहतर होगा ◾संजय सिंह ने सरकार पर लगाया बोलने नहीं देने का आरोप, सर्वदलीय बैठक से किया वॉकआउट◾TMC के दावे खोखले, चुनाव परिणामों ने बता दिया कि त्रिपुरा के लोगों को BJP पर भरोसा है: दिलीप घोष◾'मन की बात' में प्रधानमंत्री ने स्टार्टअप्स के महत्व पर दिया जोर, कहा- भारत की विकास गाथा के लिए है 'टर्निग पॉइंट' ◾शीतकालीन सत्र से पूर्व विपक्ष में आई दरार, कल होने वाली कांग्रेस नेता खड़गे की बैठक से TMC ने बनाई दूरियां ◾उद्धव ठाकरे की सरकार के दो साल के कार्यकाल में विपक्ष पूरी तरह से दिशाहीन रहा : संजय राउत◾कांग्रेस Vs कांग्रेस : अधीर रंजन चौधरी के वार पर मनीष तिवारी का पलटवार◾कल से शुरू हो रहा है संसद का शीतकालीन सत्र, पेश होंगे ये 30 विधेयक◾

‘गुरू’ धोनी पर भारी पड़ा ‘शिष्य’ पंत, दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई को हराया

उस्ताद और शागिर्द के मुकाबले में बाजी शागिर्द ने मारी जब ऋषभ पंत की दिल्ली कैपिटल्स ने शनिवार को इंडियन प्रीमियर लीग के अपने पहले मैच में महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स को सात विकेट से हराकर जीत के साथ आगाज किया । 

श्रेयस अय्यर के चोटिल होने के कारण कप्तानी कर रहे विकेटकीपर बल्लेबाज पंत को भारतीय क्रिकेट में धोनी के वारिस के रूप में देखा जाता है । पंत ने शारदुल ठाकुर को चौका जड़कर टीम को जीत तक पहुंचाया और विकेट के पीछे धोनी खड़े थे । 

इससे पहले आईपीएल में वापसी कर रहे सुरेश रैना के 36 गेंद में 54 रन और आखिरी ओवरों में सैम कुरेन की आक्रामक बल्लेबाजी की मदद से चेन्नई सुपर किंग्स ने सात विकेट पर 188 रन बनाये । जवाब में दिल्ली ने तीन विकेट खोकर आठ गेंद बाकी रहते लक्ष्य हासिल कर लिया । 

पिछले सत्र में 618 रन बनाकर सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में दूसरे स्थान पर रहे शिखर धवन और विजय हजारे ट्रॉफी में 827 रन बनाकर फॉर्म में लौटे पृथ्वी साव ने दिल्ली को शानदार शुरूआत दी । दोनों ने पहले विकेट के लिये 138 रन जोड़े और धोनी का कोई गेंदबाज उनके सामने कामयाब नहीं हो सका । साव 38 गेंद में नौ चौकों और तीन छक्कों की मदद से 72 रन बनाकर 14वें ओवर में आउट हुए । उन्हें ड्वेन ब्रावो ने मोईन अली के हाथों लपकवाया । 

वहीं धवन शतक की ओर बढते दिख रहे थे लेकिन शारदुल ठाकुर ने उन्हें पगबाधा आउट कर दिया । धवन ने 54 गेंद में 85 रन बनाये जिसमें दस चौके और दो छक्के शामिल थे । पंत (नाबाद 15) और मार्कस स्टोइनिस (14) ने इसके बाद आसानी से टीम को जीत तक पहुंचा दिया । 

इससे पहले चेन्नई के लिये सैम कुरेन ने आखिरी ओवरों में सिर्फ 15 गेंद में 34 रन बनाये जिसमें चार चौके और दो छक्के शामिल थे । आखिरी पांच ओवरों में चेन्नई ने 52 रन बनाये । 

दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान पंत ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया । पिछले सत्र की उपविजेता दिल्ली को पहली सफलता के लिये ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ा और आवेश खान ने दूसरे ही ओवर में फाफ डु प्लेसी को पगबाधा आउट कर दिया । आवेश ने चार ओवर में 23 रन देकर दो विकेट लिये । 

तीसरे ओवर की पहली गेंद पर क्रिस वोक्स ने रूतुराज गायकवाड़ को स्लिप में लपकवाया । चेन्नई के दो विकेट सात रन पर गिर गए थे । 

इसके बाद रैना क्रीज पर आये जो निजी कारणों से आईपीएल के पिछले सत्र से बाहर रहे थे । रैना और मोईन अली ने मिलकर चेन्नई की पारी को संभाला । मोईन ने 24 गेंद में चार चौकों और दो छक्कों के साथ 36 रन बनाकर रैना का बखूबी साथ दिया । 

अनुभवी आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने मोईन को पवेलियन भेजा जो रिवर्स स्वीप लगाने के चक्कर में शिखर धवन को कैच दे बैठे । 

अंबाती रायुड ने आते ही आक्रामक खेल दिखाया और 16 गेंद में 23 रन बनाये । उन्हें टॉम कुरेन ने आउट किया । दूसरे छोर पर रैना डटकर खेल रहे थे और लग ही नहीं रहा था कि वह लंबे समय से क्रिकेट से दूर थे । उन्होंने वोक्स को चौका जड़कर शुरूआत की और फिर अश्विन को दो चौके लगातार लगाये । 

उन्होंने अश्विन को एक छक्का भी जड़ा । वहीं दूसरा छक्का मार्कस स्टोइनिस को लगाया । वह तेजी से रन चुराने के प्रयास में रविंद्र जडेजा (26) के साथ तालमेल नहीं बन पाने के कारण रन आउट हो गए ।