BREAKING NEWS

राज्यसभा में पूर्वोत्तर की सभी पार्टियों ने नागरिकता विधेयक के पक्ष में वोट किया : गोयल ◾येचुरी ने सरकार पर लगाया आरोप कहा- भाजपा CAB के जरिए द्विराष्ट्र के सिद्धांत को फिर से जिंदा करने की कोशिश कर रही है ◾नागरिकता विधेयक के खिलाफ जारी प्रदर्शनों के बीच मुख्यमंत्री के घर पर किया गया पथराव ◾नागरिकता संशोधन विधेयक को निकट भविष्य में अदालत में चुनौती दी जाएगी : सिंघवी ◾नागरिकता विधेयक को संसद की मंजूरी मिलने पर भाजपा ने खुशी जताई ◾सुप्रीम कोर्ट में खारिज हो जाएगा CAB : चिदंबरम ◾नागरिकता विधेयक पारित होना संवैधानिक इतिहास का काला दिन : सोनिया गांधी◾मोदी सरकार की बड़ी जीत, नागरिकता संशोधन बिल राज्यसभा में हुआ पास◾ राज्यसभा में अमित शाह बोले- CAB मुसलमानों को नुकसान पहुंचाने वाला नहीं◾कांग्रेस का दावा- ‘भारत बचाओ रैली’ मोदी सरकार के अस्त की शुरुआत ◾राज्यसभा में शिवसेना का भाजपा पर कटाक्ष, कहा- आप जिस स्कूल में पढ़ रहे हो, हम वहां के हेडमास्टर हैं◾CM उद्धव ठाकरे बोले- महाराष्ट्र को GST मुआवजा सहित कुल 15,558 करोड़ रुपये का बकाया जल्द जारी करे केन्द्र◾TOP 20 NEWS 11 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾कपिल सिब्बल ने राज्यसभा में कहा- विभाजन के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार बताने पर माफी मांगें अमित शाह◾नागरिकता विधेयक के खिलाफ असम में भड़की हिंसा, पुलिस ने चलाई रबड़ की गोलियां◾चिदंबरम ने CAB को बताया 'हिन्दुत्व का एजेंडा', कानूनी परीक्षण में नहीं टिकने का जताया भरोसा◾इसरो ने किया डिफेंस सैटेलाइट रीसैट-2BR1 लॉन्च, सेना की बढ़ेगी ताकत ◾हैदराबाद एनकाउंटर: सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए पूर्व न्यायाधीश को नियुक्त करने का रखा प्रस्ताव ◾पाकिस्तान : हाफिज सईद के खिलाफ आतंकवाद वित्तपोषण के आरोप तय◾मनमोहन सिंह की सलाह पर लाया गया है नागरिकता संशोधन विधेयक : भाजपा◾

खेल

शुरू होगी टेस्ट के सिरमौर बनने की दौड़

 aus vs eng

नई दिल्ली : एक अगस्त से इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच ऐतिहासिक एशेज सीरीज की शुरुआत हो रही है। इसके साथ ही आईसीसी की वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की शुरुआत हो जाएगी। द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज को इस चैंपियनशिप के जरिए नए आयाम मिलेंगे। आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप का पहला एडिशन जून 2021 तक चलेगा। इसका फाइनल जून 2021 में क्रिकेट का मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स मैदान पर खेला जाएगा। 

आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप की शुरुआत तो अगले सप्ताह हो रही है। लेकिन पहले पहल इसका विचार 2010 में सामने आया था। शुरुआती प्लान में इसकी शुरुआत 2013 से होनी थी। इसे आईसीसी चैंपियंस ट्रोफी के स्थान पर आयोजित करवाने का विचार था। हालांकि कुछ टीमों के विरोध के कारण इसे 2017 तक टाल दिया गया लेकिन वह भी अमल नहीं हो पाया। अब शुरू हो रही आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप का विचार अक्टूबर 2017 में फाइनल हुआ।

शीर्ष नौ टीमें होंगी इस चैंपियनशिप का हिस्सा

आईसीसी रैंकिंग में चोटी की नौ टीमें इस टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा होंगी। ये टीमें हैं- भारत, इंग्लैंड, पाकिस्तान, श्रीलंका, वेस्टइंडीज, बांग्लादेश, न्यूजीलैंड, साउथ अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया। जिन मैचों में आयरलैंड और अफगानिस्तान शामिल होंगे वे टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा नहीं होगे। सभी नौ टीमों को छह टीमों के खिलाफ खेलना होगा। इसमें तीन सीरीज घरेलू और तीन विदेशी होंगी। एक सीरीज में अधिकतम दो से अधिकतम पांच मैच हो सकते हैं। 


27 सीरीज में 71 टेस्ट मैच खेले जाएंगे

मैच सामान्य द्विपक्षीय सीरीज की तरह ही होंगे लेकिन अब हर मैच का महत्व पहले से अधिक होगा। मैच डे और डे-नाइट कैसे भी खेले जा सकते हैं, यह दोनों बोर्ड की सहमति पर निर्भर करता है। इस पहली टेस्ट चैंपियनशिप में कुल मिलाकर 27 सीरीज और 71 टेस्ट मैच खेले जाएंगे। लीग स्टेज में चोटी पर रहने वालीं दो टीमों के बीच जून 2021 को लॉर्ड्स में फाइनल मुकाबला होगा। पहली चैपिशनशिप समाप्त होने के बाद दूसरे की शुरुआत होगी जो अप्रैल 2023 तक चलेगी।

कैसे मिलेंगे प्वाइंट्स

हर सीरीज के कुल 120  प्वाइंट्स होंगे, जो हर सीरीज में मैचों के आधार पर तय होंगे। एक दो टेस्ट मैच की सीरीज में अधिकतम 60 अंक हासिल किए जा सकेंगे जबकि पांच मैचों की सीरीज में हर मैच से अधिकतम 24 अंक हासिल किए जा सकते हैं। टाई मैचों में जीत के मुकाबले आधे अंक मिलेंगे। वहीं ड्रॉ होने पर जीत के एक-तिहाई अंक मिलेंगे।

71वीं एशेज जीतने के लिये होगी आस्ट्रेलिया-इंग्लैंड में जंग

नई दिल्ली, (एजेंसियां) : आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप के खत्म होने के 17 दिन बाद सबसे बड़ी टेस्ट सीरीज ‘एशेज’ 1 अगस्त से 16 सितंबर तक खेली जाएगी। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच 137 साल से यह सीरीज खेली जा रही है। यह 71वीं एशेज होगी। 

दोनों टीमों के बीच पहला टेस्ट 1877 में मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर खेला गया था। एजबेस्टन में खेला जाने वाला टेस्ट दोनों के बीच 347वां मैच होगा। इनमें ऑस्ट्रेलिया की टीम 144 मैच में जीती। इंग्लैंड को 108 मुकाबलों में ही सफलता मिली। 94 मैच ड्रॉ रहे।