BREAKING NEWS

PM मोदी ने G-7 सम्मेलन को किया संबोधित, ‘एक धरती, एक स्वास्थ्य’ दृष्टिकोण को अपनाने का किया आह्वान ◾केंद्र सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार में JDU ने दिखाई दिलचस्पी, कहा- सहयोगियों को मिलना चाहिए सम्मानजनक हिस्सा ◾दिग्विजय के बयान पर कांग्रेस का बचाव : जम्मू-कश्मीर पर सीडब्ल्यूसी का प्रस्ताव देखें वरिष्ठ नेता ◾राजधानी दिल्ली में कोविड-19 पर लगी ब्रेक, तीन महीने में सबसे कम नए मामले आये सामने ◾कोविड की दूसरी लहर के दौरान बच्चों के नियमित टीकाकरण में भारी गिरावट पर विशेषज्ञों ने जताई चिंता ◾कोरोना के बहाने बिहार BJP का तंज - 'घरों से उतना ही बाहर निकलें जितना राहुल गांधी मंदिर जाते हैं' ◾सूदखोर ने इतना किया परेशान कि परिवार को देनी पड़ी जान, ऑडियो क्लिप से हुआ आत्महत्या पर खुलासा◾'रक्षकों को बचाओ' : डॉक्टरों पर हमलों के खिलाफ 18 जून को देशव्यापी प्रदर्शन करेगा IMA ◾कोविड-19 दवाओं और उपकरणों पर टैक्स में कटौती, कोरोना वैक्सीन पर 5% GST कायम ◾पिछड़ी जातियों को लेकर क्या है भाजपा की चुनावी रणनीति, पार्टी हाईकमान ले सकता है ये अहम फैसले ◾बहु-प्रतीक्षित विकास और प्रगति के नए युग की शुरुआत करेगा BSP-SAD गठबंधन : मायावती◾दिग्विजय सिंह के क्लब हाउस चैट लीक पर गिरिराज बोले - कांग्रेस का पहला प्यार पाकिस्तान ◾मोदी ने गिरायी है देश की प्रतिष्ठा, डरपोक व्यक्ति की तरह व्यवहार करते हैं PM : प्रियंका गांधी ◾कांग्रेस ने महामारी से मौत के आंकड़े छिपाये जाने का लगाया आरोप, UP- MP और गुजरात के CM इस्तीफा दें◾आर्टिकल 370 करेंगे बहाल......ऑडियो चैट के बाद फारूक अब्दुल्ला ने दिग्विजय का जताया आभार◾जम्मू-कश्मीर : शोपियां में आंतकवादियों ने किया बड़ा हमला, 2 जवान शहीद, 2 नागरिकों की मौत ◾पंजाब विधानसभा चुनाव : अकाली दल और BSP के बीच गठबंधन, जानें किसे मिली कितनी सीटें◾लगातार भारी बारिश से बेहाल मुंबई, मौसम विभाग की चेतावनी के मद्देनजर अलर्ट मोड में प्रशासन ◾दिग्विजय के ऑडियो चैट को लेकर हमलावर BJP, संबित पात्रा बोले-INC को बदलकर ANC कर ले कांग्रेस◾मनरेगा को लेकर राहुल का वार- सरकार किसी की भी हो, जनता भारत की है और जनहित हमारी जिम्मेदारी◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

पूर्व भारतीय कप्तान गावस्कर ने 1975-76 में अपनी पैटरनिटी लीव को लेकर तोड़ी चुप्पी, जानिए क्या कहा?

पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने स्पष्ट किया है कि वर्ष 1975-76 में जब भारतीय टीम न्यूजीलैंड और वेस्टइंडीज के दौरे पर थी, तो उन्होंने वापस भारत लौटने के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से पैटरनिटी लीव (पितृत्व अवकाश) नहीं मांगी थी। मीडिया में ऐसी खबरें थीं कि गावस्कर ने छुट्टी मांगी थी, लेकिन उन्हें बीसीसीआई ने पितृत्व अवकाश देने से मना कर दिया  था।

गावस्कर ने मिड डे अखबार के कॉलम में लिखा, मैंने छुट्टी मांगी थी, इस बात में सच्चाई है, लेकिन इसका कारण सही नहीं है। मैंने अपनी पत्नी के पास लौटने की अनुमति नहीं मांगी थी। जब मैं न्यूजीलैंड और वेस्टइंडीज के दौरे के लिए भारतीय टीम के साथ रवाना हुआ था, तब मैं यह जानता था कि मेरे दौरे पर रहते हुए ही बच्चे का जन्म होगा। इसके बावजूद मैं भारत के लिए खेलने के लिए प्रतिबद्ध था और मेरी पत्नी ने मेरे इस फैसले का समर्थन किया था।

गावस्कर ने कहा कि न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में वह चोटिल हो गए थे और उन्हें चार सप्ताह तक आराम करने की सलाह दी गई थी। उन्होंने कहा कि इस दौरान उन्होंने पैटरनिटी लीव की मांग की थी। उन्होंने लिखा, डॉक्टर ने मुझे 4 हफ्ते तक आराम करने की सलाह दी थी। अगला टेस्ट मैच 3 सप्ताह बाद वेस्टइंडीज में होना था और मैं तब खेलने के लिए फिट नहीं था।

पूर्व कप्तान ने कहा, मैंने अपने मैनेजर पॉली उमरीगर से भारत लौटने की इजाजत मांगी थी, वह भी इस शर्त पर कि वेस्टइंडीज दौरे से पहले टेस्ट मैच टीम के साथ जुड़ जाऊंगा। इसके अलावा मैं अपने खर्चे पर भारत जाऊंगा। इसलिए टेस्ट मैच में खेलने का कोई सवाल ही नहीं था। यहां तक कि डाक्टरों की सलाह के बावजूद मैंने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहला टेस्ट खेला था।