BREAKING NEWS

हमारा ध्यान देश की विरासत और संस्कृति बचाने पर : PM मोदी◾मोदी सरकार चेहरे पर कुछ और बोलती है, लेकिन अपने बगल में खंजर रखती है : दर्शन पाल◾किसानों को डर दिखाकर बहकाया जा रहा है, कृषि कानून पर बैकफुट पर नहीं आएगी सरकार : PM मोदी◾किसानों ने दिल्ली को चारों तरफ से घेरने की दी चेतावनी, कहा- बुराड़ी कभी नहीं जाएंगे◾दिल्ली में लगातार दूसरे दिन संक्रमण के 4906 नए मामले की पुष्टि, 68 लोगों की मौत◾महबूबा मुफ्ती ने BJP पर साधा निशाना, बोलीं- मुसलमान आतंकवादी और सिख खालिस्तानी तो हिन्दुस्तानी कौन?◾दिल्ली पुलिस की बैरिकेटिंग गिराकर किसानों का जोरदार प्रदर्शन, कहा- सभी बॉर्डर और रोड ऐसे ही रहेंगे ब्लॉक ◾राहुल बोले- 'कृषि कानूनों को सही बताने वाले क्या खाक निकालेंगे हल', केंद्र ने बढ़ाई अदानी-अंबानी की आय◾अमित शाह की हुंकार, कहा- BJP से होगा हैदराबाद का नया मेयर, सत्ता में आए तो गिराएंगे अवैध निर्माण ◾अन्नदाआतों के समर्थन में सामने आए विपक्षी दल, राउत बोले- किसानों के साथ किया गया आतंकियों जैसा बर्ताव◾किसानों ने गृह मंत्री अमित शाह का ठुकराया प्रस्ताव, सत्येंद्र जैन बोले- बिना शर्त बात करे केंद्र ◾बॉर्डर पर हरकतों से बाज नहीं आ रहा पाक, जम्मू में देखा गया ड्रोन, BSF की फायरिंग के बाद लौटा वापस◾'मन की बात' में बोले पीएम मोदी- नए कृषि कानून से किसानों को मिले नए अधिकार और अवसर◾हैदराबाद निगम चुनावों में BJP ने झोंकी पूरी ताकत, 2023 के लिटमस टेस्ट की तरह साबित होंगे निगम चुनाव ◾गजियाबाद-दिल्ली बॉर्डर पर डटे किसान, राकेश टिकैत का ऐलान- नहीं जाएंगे बुराड़ी ◾बसपा अध्यक्ष मायावती ने कहा- कृषि कानूनों पर फिर से विचार करे केंद्र सरकार◾देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 94 लाख के करीब, 88 लाख से अधिक लोगों ने महामारी को दी मात ◾योगी के 'हैदराबाद को भाग्यनगर बनाने' वाले बयान पर ओवैसी का वार- नाम बदला तो नस्लें होंगी तबाह ◾वैश्विक स्तर पर कोरोना के मामले 6 करोड़ 20 लाख के पार, साढ़े 14 लाख लोगों की मौत ◾सिंधु बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन जारी, आगे की रणनीति के लिए आज फिर होगी बैठक ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कुछ ही महीनों में खेलों की होगी वापसी, सभी खिलाड़ी शुरू कर दें तैयारी : किरेन रीजीजू

केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने कहा कि कोरोना महामारी के संकट से उभरने के दौरान कुछ ही महीनों में खेल प्रतियोगिताओं की वापसी होने वाली है और देश को खेलों की मेजबानी करने के लिए तैयार हो जाना चाहिए। खेल मंत्री रीजीजू ने कहा कि सरकार की चाहत है कि टारगेट ओलंपिक पोडियम योजना (टॉप्स) में शामिल खिलाड़ी ही नहीं बल्कि सभी खिलाड़ी जल्द से जल्द दोबारा ट्रेनिंग शुरू कर दें। खेल गतिविधियों को दोबारा शुरू करने को लेकर भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) ने मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) तैयार की है।


रीजीजू ने भारतीय टेबल टेनिस स्टार मनिका बत्रा के साथ इंस्टाग्राम चैट के दौरान कहा, ‘‘मैं चाहता हूं कि खेल गतिविधियां जल्द से जल्द शुरू हों। मैं उम्मीद कर रहा हूं कि अगले कुछ महीनों में हम कुछ प्रतियोगिताओं की मेजबानी के लिए तैयार हो जाएंगे।’’ रीजीजू ने हालांकि कहा कि खिलाड़ियों का स्वास्थ्य और सुरक्षा उनकी शीर्ष प्राथमिकता रहेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘इसे ध्यान में रखते हुए खेलों को जल्द से जल्द दोबारा शुरू करने के लिए बेहतर माहौल तैयार करने के पक्ष में हूं। इस महामारी ने हमारे लिए बड़ी बाधा खड़ी की है।’’ रीजीजू ने कहा कि खेल उद्योग से बहुत लोगों को नौकरी मिलती है और वह चाहते हैं कि यह उद्योग खूब फले-फूले।’’ 


रीजीजू ने अपने 2028 मिशन ओलंपिक के संदर्भ में बात की और उम्मीद जताई कि भार लॉस एंजिलिस में शीर्ष 10 में शामिल होगा। उन्होंने कहा, ‘‘2024 खेला हमारा आधा लक्ष्य है लेकिन हमारा दीर्घकालीन लक्ष्य 2028 खेल हैं। जब मैं खेल मंत्री बना था तो मेरे पास बेहद सीमित प्रतिभा और संभावित ओलंपिक पदक विजेता था।’’ खेल मंत्री ने कहा, ‘‘2024 में हमारे पास सक्षम टीम होगी जो हमें अधिकतम पदक दिला सकती है। लेकिन 2028 में मेरे दिमाग में स्पष्ट है कि हम शीर्ष 10 में शामिल होंगे। और मैं यह ऐसे ही नहीं कह रहा हूं, इसके लिए हमारी तैयारी शुरू हो गई है।’’ 


उन्होंने कहा, ‘‘जूनियर खिलाड़ी हमारे भविष्य के चैंपियन हैं, हमारे मजबूत तरीके से अपनी तैयारी शुरू कर दी है। हमें 2024 में नतीजे दिखेंगे और हम तेजी से प्रगति करेंगे।’’
रीजीजू ने कहा, ‘‘आप मेरे शब्द लिख लीजिए, भारत 2020 में शीर्ष 10 में होगा। हम अनुकूल माहौल तैयार कर रहे हैं और सहयोगी स्टाफ ला रहे हैं।’’