BREAKING NEWS

यदि सावरकर प्रधानमंत्री होते तो पाकिस्तान नहीं होता : उद्धव ठाकरे ◾राहुल ने अब्दुल्ला की हिरासत की निंदा की, तत्काल रिहाई की मांग की ◾नये वाहन कानून को लेकर ज्यादातर राज्य सहमत : गडकरी ◾यशवंत सिन्हा को श्रीनगर हवाईअड्डे से बाहर निकलने की नहीं मिली इजाजत, दिल्ली लौटे ◾2014 से पहले लोगों को लगता था कि क्या बहुदलीय लोकतंत्र विफल हो गया : गृह मंत्री◾देखें VIDEO : सुखोई 30 MKI से किया गया हवा से हवा में मार करने वाली ‘अस्त्र’ मिसाइल का प्रायोगिक परीक्षण◾नौसेना में 28 सितंबर को शामिल होगी स्कॉर्पीन श्रेणी की दूसरी पनडुब्बी ‘खंडेरी’ ◾भारत और चीनी सैनिकों के बीच झड़प नहीं हुई बल्कि यह तनातनी थी : जयशंकर ◾फारूक अब्दुल्ला की नजरबंदी लोकतंत्र पर दूसरा हमला : NC ◾JNU छात्रसंघ चुनाव में चारों पदों पर संयुक्त वाम के उम्मीदवारों की जीत ◾राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति सहित कई नेताओं ने PM मोदी को जन्मदिन की दी बधाई◾अयोध्या विवाद : SC ने वकीलों से बहस पूरी करने में लगने वाले समय के बारे में मांगी जानकारी◾J&K : पाकिस्तानी रेंजरों ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन , भारतीयों जवानों ने दिया मुहतोड़ जवाब◾TOP 20 NEWS 17 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾भारत को एक पड़ोसी देश से ‘अलग तरह की चुनौती, उसे सामान्य व्यवहार करना चाहिए : जयशंकर ◾जन्मदिन पर PM मोदी ने मां हीराबेन से की मुलाकात, साथ में खाया खाना◾गृह मंत्री अमित शाह बोले- देश की सुरक्षा को लेकर कोई समझौता बर्दाश्त नहीं ◾आज देश सरदार पटेल के एक भारत-श्रेष्ठ भारत के सपने को साकार होते हुए देख रहा है : PM मोदी◾मायावती ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- गैर भरोसेमंद और धोखेबाज है◾शारदा चिट फंड घोटाला : कोलकाता HC ने राजीव कुमार की अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई से किया इनकार◾

खेल

ICC ने टूर्नामेंट के बीच LED गिल्लियों को बदलने से इन्कार किया

लंदन : अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने मंगलवार को विवादास्पद ‘जिंग’ गिल्लियों को बदलने से इन्कार कर दिया जो कुछ अवसरों पर गेंद के स्टंप पर लगने के बावजूद गिरी नहीं है। भारतीय कप्तान विराट कोहली और आस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच ने रविवार को एलईडी गिल्लियों को लेकर शिकायत की थी कि गेंद लगने से उनसे रोशनी निकलती है जिससे टीवी अंपायर का काम तो आसान हो जाता है लेकिन कई बार वे नीचे नहीं गिरती हैं। 

स्काई स्पोर्ट्स ने आईसीसी के हवाले से कहा, ‘‘हम प्रतियोगिता के बीच में कुछ भी नहीं बदलेंगे क्योंकि यह प्रतियोगिता की समग्रता से समझौता होगा। सभी दस टीमों के लिये सभी 48 मैचों में उपकरण एक समान हैं। ’’ वर्तमान विश्व कप में लगभग दस मौके ऐसे आये जबकि गेंद स्टंप पर लगने के बावजूद गिल्लियां नहीं गिरी। इसका कारण गिल्लियों का अधिक वजनी होना बताया जा रहा है कयोंकि चमक सुनिश्चित करने के लिये उनके अंदर कई तारें लगायी गयी हैं।  आईसीसी ने कहा, ‘‘पिछले चार वर्षों में स्टंप नहीं बदल गये। इनका उपयोग विश्व कप 2015 से सभी आईसीसी प्रतियोगिताओं और कई घरेलू टूर्नामेंट में हो रहा है। इसका मतलब है कि इनका उपयोग 1000 से अधिक मैचों में किया गया है। ’’ 

रविवार को आस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर को तब जीवनदान मिला जब जसप्रीत बुमराह की गेंद विकेट पर लगने के बावजूद वह बोल्ड आउट नहीं हुए क्योंकि गिल्लियां नहीं गिरी। कोहली ने मैच के बाद कहा था, ‘‘मुझे पक्का विश्वास है कि कोई भी टीम ऐसा नहीं चाहेगी कि किसी अच्छी गेंद पर भी आपको विकेट नहीं मिले। गेंद स्टंप को हिट करती है लेकिन रोशनी नहीं जलती है या रोशनी जलती है और गिल्लियां नहीं गिरती है। मैंने पूर्व में ऐसा होते हुए बहुत कम देखा है।’’ 

आस्ट्रेलियाई कप्तान फिंच ने भी इसे अनुचित करार दिया। फिंच ने कहा, ‘‘हां मुझे ऐसा लगता है। आज भले ही हमें इसका फायदा मिला लेकिन कई बार यह थोड़ा अनुचित लगता है। और मैं जानता हूं कि डेविड के स्टंप पर काफी तेजी से गेंद लगी थी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन लगता है कि ऐसा लगातार हो रहा है जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है क्योंकि आप विश्व कप फाइनल या सेमीफाइनल में ऐसा होते हुए कतई नहीं देखना चाहोगे। आप किसी खिलाड़ी को आउट करने के लिये एक गेंदबाज या क्षेत्ररक्षक के रूप में जाल बिछाते हो लेकिन आपको उसका फायदा नहीं मिलता है।’’