BREAKING NEWS

यूपी की राह पर शिवराज सरकार - ‘लव जिहाद’ के दोषी को होगी 10 साल की सजा, लाएंगे विधेयक◾यूपी में योगी सरकार ने एस्मा लागू किया, अगले 6 माह तक नहीं होगी हड़ताल ◾लखनऊ विश्वविद्यालय : सामर्थ्य के इस्तेमाल का बेहतर उदाहरण है रायबरेली का रेल कोच फैक्ट्री- PM मोदी◾असंतुष्ट नेताओं से ममता बनर्जी की अपील : पार्टी को गलत मत समझिए, हम गलतियों को सुधारेंगे◾कोरोना के खिलाफ केंद्र ने कसी कमर, 31 दिसंबर तक के लिए जारी की नई गाइडलाइंस, जानें क्या हैं नियम◾लक्ष्मी विलास बैंक के DBS बैंक में विलय को मिली मंजूरी , सरकार ने निकासी की सीमा भी हटाई ◾ललन पासवान बोले-मुझे लगा लालू जी ने बधाई देने के लिए फोन किया, लेकिन वे सरकार गिराने की बात करने लगे◾पंजाब में एक दिसंबर से नाइट कर्फ्यू, कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने पर 1000 का जुर्माना◾'अश्विनी मिन्ना' मेमोरियल अवार्ड में आवेदन करने के लिए क्लिक करें ◾निर्वाचित प्रतिनिधियों की अनुशासनहीनता से उन्हें चुनने वाले लोगों की भावनाएं आहत होती हैं : कोविंद◾भारत में बैन हुए 43 मोबाइल ऐप पर ड्रैगन को लगी मिर्ची, व्यापार संबंधों की दी दुहाई ◾भाजपा MP के विवादित बोल - रोहिंग्याओं, पाकिस्तानियों को भगाने के लिए भाजपा करेगी 'सर्जिकल स्ट्राइक'◾विपक्ष के जबरदस्त हंगामे के बीच NDA के विजय सिन्हा बने बिहार विधानसभा के स्पीकर◾सुशील मोदी का दावा-लालू ने BJP MLA को दिया मंत्री पद का लालच, ट्विटर पर जारी किया ऑडियो◾UN में 'झूठ का डोजियर' पेश करने के लिए भारत ने पाक को लगाई फटकार, कहा- यह उसकी पुरानी आदत ◾लव जिहाद के खिलाफ UP सरकार के फैसले का अनिल विज ने किया स्वागत, बोले-योगी जिंदाबाद◾विश्व के 191 देशों में कोरोना का कहर तेज, अब तक 14 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई जान ◾सोनिया और राजीव के विश्वासपात्र रहे अहमद पटेल थे कांग्रेस के असली संकटमोचक◾Weather update : जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी से उत्तर भारत में बढ़ी ठंड ◾देश में कोरोना एक्टिव केस में बढ़ोतरी, संक्रमितों का आंकड़ा 92 लाख के पार ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

IPL 2020 कोहली की बैंगलौर के सामने वार्नर की सनराइजर्स,जानिए संभावित टीम

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में सोमवार को दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर का सामना सनराइजर्स हैदराबाद से होगा। सनराइजर्स ने 2016 में IPL खिताब जीता है, लेकिन विराट कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स अभी तक ट्रॉफी से दूर ही रही है।

इस संस्करण के लिए डेविड वार्नर की कप्तानी वाली सनराइजर्स ने टीम में कुछ बदलाव किए हैं। ऑरेंज आर्मी ने इस बार शाकिब अल हसन को रिलीज कर दिया था क्योंकि बांग्लादेश के इस ऑलराउंडर पर आईसीसी ने दो साल का बैन लगा रखा है। कप्तान वार्नर और जॉनी बेयरस्टो की सलामी जोड़ी सर्वश्रेष्ठ सलामी जोड़ियों में गिनी जाती है और अगर यह दोनों चल पड़ते हैं तो किसी भी टीम के लिए बड़ा खतरा हो सकते हैं।

वार्नर टीम सनराइजर्स के लिए आईपीएल में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी हैं। उन्होंने टीम के लिए 71 मैचों में 55.44 की औसत से 3271 रन बनाए हैं। पिछले सीजन में सनराइजर्स से जुड़े बेयरस्टो ने 10 मैचों में 55.62 की औसत से 445 रन बनाए हैं। तेज गेंदबाजी आक्रामण की जिम्मेदारी भुवनेश्वर कुमार पर होगी। भुवनेश्वर ने दिसंबर 2019 के बाद से कोई भी पेशेवर मैच नहीं खेला है। 

30 साल के भुवनेश्वर टीम के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने 86 मैचों में 109 विकेट लिए हैं। उन्हें खलील अहमद, संदीप शर्मा, बेसिल थंपी और सिद्धार्थ कौल से मदद की जरूरत होगी। सनराइजर्स अगर 2016 की फॉर्म को दोहराना चाहती है तो काफी कुछ उनके स्पिनरों पर निर्भर होगा कि वे यूएई की धीमी और नीची पिचों पर किस तरह का प्रदर्शन करते हैं।

स्पिन अटैक की अगुआई अफगानिस्तान के राशिद खान करेंगे और इसमें उन्हीं के देश के मोहम्मद नबी उनका साथ देंगे। नबी ने इसी महीने खत्म हुई कैरेबियन प्रीमियर लीग(सीपीएल) में अच्छा प्रदर्शन किया था। नबी ने 12 मैचों में 5.19 की इकॉनोमी रेट से 12 विकेट लिए थे।

अफगान की इस स्पिन जोड़ी के अलावा सनराइजर्स के पास बाएं हाथ के शाहबाज़ नदीम हैं। झारखंड का यह गेंदबाज अपनी सटीक लाइन लेंथ के लिए जाना जाता है। वार्नर की टीम के पास स्पिन ऑलराउंडरों के भी विकल्प हैं। यहां वह फेबियन एलन, संजय यादव, अब्दुल समद, अभिषेक शर्मा में से चुन सकते हैं। दूसरी तरफ रॉयल चैलेंजर्स लीग की उन तीन टीमों में से है जिसने अभी तक एक भी खिताब नहीं जीता है।

कोहली की कप्तानी वाली रॉयल चैलेंजर्स की सबसे बड़ी ताकत उसकी बल्लेबाजी है और उसके कप्तान बिना किसी संदेह के मौजूदा समय में सफेद गेंद के सबसे अच्छे बल्लेबाजों में से एक हैं। ऐसे में फैंस और टीम प्रबंधन उम्मीद करेंगे कि दाएं हाथ का यह बल्लेबाज 2016 की फॉर्म को दोहराए जहां उन्होंने चार शतक लगाए थे।

कोहली के अलावा रॉयल चैलेंजर्स के पास टी-20 के सबसे खतरनाक बल्लेबाजों में से एक एबी डी विलियर्स है। रॉयल चैलेंजर्स की बल्लेबाजी कोहली और एबी के आसपास ही घूमती है। दोनों अगर चल जाते हैं तो रन बहते हैं। दोनों ने यह भी बताया कि मैदान पर फील्डिंग कैसे की जाती है। एरोन फिंच के आने से टीम का टॉप ऑर्डर और मजबूत हुआ है। युवा देवदत्त पदिककल फिंच के साथ ओपनिंग कर सकते हैं। रॉयल चैलेंजर्स के पास ओपनिंग में जोश फिलिप का भी विकल्प है।

ऑल राउंडर क्रिस मॉरिस का आना टीम के लिए फायदे का सौदा साबित हो सकता है। वह रॉयल चैलेंजर्स में उस फिनिशर की भूमिका में दिख सकते हैं, जिसकी टीम तलाश में थी। फ्रेंचाइजी ने मौरिस के अलावा इसुरु उदाना को टीम में डेथ ओवरों की समस्या को सुलझाने के लिए रखा है। उम्मीद है दोनों डेथ ओवरों में टीम के लिए प्रभावी गेंदबाजी कर सकेंगे।मध्य क्रम में रॉयल चैलेंजर्स के पास मोइन अली, शिवम दुबे और मौरिस हैं, और इन सभी में गेंदबाजी आक्रमणों पर तेजी से रन बनाने की क्षमता है।

दक्षिण अफ्रीका के अनुभवी तेज गेंदबाज डेल स्टेन तेज गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई करेंगे। नवदीप सैनी, इसुरु उड़ाना, मोहम्मद सिराज और उमेश यादव के होने से टीम का गेंदबाजी आक्रमण बेहद खतरनाक दिखाई देता है। स्पिन में रॉयल चैलेंजर्स के पास युजवेंद्र चहल, पवन नेगी,एडम ज़म्पा और वॉशिंगटन सुंदर के विकल्प हैं। कप्तान प्लेइंग-11 में किसे जगह देते हैं यह देखना होगा। यूएई की पिचों को देखते हुए इन सभी को आगे आना होगा। दोनों टीमों की तुलना की जाए तो सनराइजर्स का पलड़ा थोड़ा भारी है, लेकिन वेन्यू और कंडीशन में बदलाव, दुबई में यह मैच किसी के भी पक्ष में जा सकता है।

सनराइजर्स हैदराबाद की टीम  

डेविड वार्नर (कप्तान), अभिषेक शर्मा, बैसिल थम्पी, भुवनेश्वर कुमार, बिली स्टानलेक, जॉनी बेयरस्टो, केन विलियम्सन, मनीष पांडे, मोहम्मद नबी, राशिद खान, संदीप शर्मा, शहबाज नदीम, श्रीवत्स गोस्वामी, सिद्धार्थ कौल, खलील अहमद, टी. नटराजन, विजय शंकर, रिद्धिमान साहा, विराट सिंह, प्रीयम गर्ग, मिशेल मार्श, संदीप बवांका, फाबियान ऐलेन, अब्दुल समद, संजय यादव।

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की टीम   

विराट कोहली (कप्तान), पार्थिव पटेल, एबी डिविलियर्स, क्रिस मौरिस, युजवेंद्र चहल, शिवम दुबे, एरॉन फिंच, उमेश यादव, एडम ज़म्पा, वॉशिंगटन सुंदर, नवदीप सैनी, मोहम्मद सिराज, डेल स्टेन, मोइन अली, पवन नेगी, गुरकीरत मान सिंह, इसुरु उड़ाना, देवदत्त पदिककल, शहबाज अहमद, जोशुआ फिलिपे, पवन देशपांडे