BREAKING NEWS

राजस्थान: कांग्रेस विधायक दल की बैठक, पायलट की वापसी पर गहलोत खेमे के कई विधायक खफा◾उत्तर प्रदेश : CM योगी ने प्रधानमंत्री से HFNC उपकरणों की खरीद में मदद करने का किया अनुरोध◾पर्यावरण सरंक्षण कानून के खिलाफ और भारत के भविष्य से समझौता है EIA का मसौदा : कांग्रेस◾दिल्ली में कोरोना का विस्फोट जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 1.47 लाख के पार, बीते 24 घंटे में 1,257 नए केस ◾उत्तर प्रदेश में कोरोना का कहर जारी, बीते 24 घंटे में कोरोना के 5,130 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1.31 लाख के पार◾केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- कोरोना के रोजाना बढ़ते मामलों से राज्यों को अधिक चिंतित नहीं होना चाहिए◾उर्दू के मशहूर शायर राहत इंदौरी का दिल का दौरा पड़ने से निधन, कोरोना संक्रमण के बाद अस्पताल में थे भर्ती◾पुतिन का दावा-रूस ने बना ली कोरोना वायरस की पहली वैक्सीन, बेटी को लगाया गया टीका◾ब्रेन सर्जरी के बाद वेंटिलेटर सपोर्ट पर प्रणब मुखर्जी, हालत नाजुक◾मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में PM मोदी में कोरोना टेस्टिंग बढ़ाने पर दिया जोर, कहा-महामारी बदल रही अपना रूप◾राजनीति में व्यक्तिगत शत्रुता का कोई स्थान नहीं, बस पार्टी के सामने जरूरी मुद्दों को रखा : सचिन पायलट◾जम्मू-कश्मीर के दो जिलों में ट्रायल के तौर पर 15 अगस्त के बाद शुरू होगी 4G इंटरनेट सेवा ◾CM गहलोत बोले- BJP की सरकार गिराने की साजिश रही नाकाम, हमारे सभी विधायक है हमारे साथ ◾कोरोना वायरस : देश में पिछले 24 घंटे में 53 हजार 601 नए मरीजों की पुष्टि, 871 लोगों ने गंवाई जान ◾मनरेगा पर राहुल ने शेयर किया ग्राफ, क्या सूट-बूट-लूट की सरकार समझ पाएगी गरीबों का दर्द◾बुलंदशहर : US में पढ़ने वाली छात्रा की छेड़खानी के दौरान सड़क हादसे में मौत◾UP : बागपत में BJP नेता एवं पूर्व जिलाध्यक्ष की गोली मारकर हत्या, CM योगी ने जताया शोक ◾World Corona : दुनियाभर में महामारी का प्रकोप बरकरार, संक्रमितों का आंकड़ा 2 करोड़ के पार◾BSP विधायकों के कांग्रेस में विलय के खिलाफ याचिका पर SC में आज होगी सुनवाई◾पायलट की वापसी के बाद कांग्रेस नेताओं ने जताई खुशी, कहा- 'स्वागत है सचिन'◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

ट्रायल्स में निकहत जरीन से लड़ने से नहीं डरती : मैरी कॉम

नई दिल्ली : छह बार की महिला विश्व चैम्पियन मुक्केबाज एम सी मैरी कॉम ने कहा कि वह ओलंपिक क्वालीफायर के लिये ट्रायल्स में निकहत जरीन से भिड़ने से नहीं डरती क्योंकि यह महज एक ‘औपचारिकता’ भर होगी। जरीन ने चीन में अगले साल होने वाले ओलंपिक क्वालीफायर के लिये भारतीय टीम के चयन से पहले मैरी कॉम (51 किग्रा) के खिलाफ ट्रायल मुकाबला आयोजित करने की मांग की। 

मैरी कॉम ने यहां एक सम्मान समारोह के दौरान कहा, ‘‘यह फैसला बीएफआई द्वारा लिया जा चुका है। मैं नियम नहीं बदल सकती। मैं सिर्फ प्रदर्शन कर सकती हूं। वो जो भी फैसला करेंगे, मैं उसका पालन करूंगी। मैं उससे (जरीन) से भिड़ने से नहीं डरती, मुझे ट्रायल्स से कोई परेशानी नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने सैफ खेलों के बाद से उसे कई बार हराया है लेकिन वह फिर भी मुझे चुनौती देती रहती है। मेरा मतलब है कि इसकी क्या जरूरत है? यह महज एक औपचारिकता है। बीएफआई भी जानता है कि ओलंपिक में कौन पदक जीत सकता है।’’ 

मैरी कॉम ने कहा, ‘‘लोग मुझसे ईर्ष्या करते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘यह पहले भी मेरे साथ हो चुका है। रिंग में प्रदर्शन करो, यही सही चीज है। बीएफआई हमें विदेशी दौरों पर भेजता है इसलिये स्वर्ण पदक के साथ लौटो और खुद को साबित करो। "मैरी कॉम ने कहा, ‘‘मैं उसके खिलाफ नहीं हूं। वह भविष्य में अच्छी हो सकती है, उसे अनुभव लेना चाहिए और उच्च स्तर के लिये तैयारियों पर ध्यान लगाना चाहिए। मैं पिछले 20 वर्षों से रिंग में लड़ रही हूं।’’ वहीं महिला वर्ग में बीएफआई ने पहले कहा था कि विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण और रजत पदक विजेता मुक्केबाजों का ही फरवरी में होने वाले ओलंपिक क्वालीफायर के लिये सीधे चयन होगा।

चयन मामलों में हस्तक्षेप नहीं करेंगे: रिजीजू

खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने शनिवार को स्पष्ट किया कि सरकार चयन मामलों में हस्तक्षेप नहीं करेगी लेकिन उन्होंने भारतीय मुक्केबाजी महासंघ (बीएफआई) को पारदर्शी होने की सलाह देते हुए कहा कि वह निकहत जरीन और एम सी मेरीकोम मामले को बेहतर तरीके से निपटाये। 

रिजीजू ने भारतीय महिला मुक्केबाजी टीम के सम्मान समारोह के कार्यक्रम के मौके पर कहा, ‘‘हमें एक चीज समझनी होगी, सरकार महासंघों को निर्देश नहीं दे सकती या फिर चयन प्रक्रिया में शामिल नहीं हो सकती। उन्होंने कहा, ‘‘अगर कहीं असमानता है और कुछ चीजें खेल के हितों के अनुसार नहीं हैं तो हम सलाह देते हैं। ओलंपिक चार्टर में स्पष्ट है कि सरकार को महासंघ के काम करने के तरीके और प्रशासन में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए।