BREAKING NEWS

देश में अब तक कोविड रोधी टीके की 161.81 करोड़ से ज्यादा खुराक दी गई : सरकार ◾भगवंत मान ने सीएम चन्नी को दी चुनौती, कहा- अगर हिम्मत है तो धुरी सीट से मेरे खिलाफ चुनाव लड़ लें◾कनाडा की सीमा पर चार भारतीयों की मौत पर PM ट्रूडो बोले- बेहद दुखद मामला, सख्त कार्रवाई करूंगा◾EC ने रैली-रोड शो पर लगी पाबंदी को 31 जनवरी तक बढ़ाया, दूसरे तरीकों से प्रचार करने पर दी गई ढील ◾गृहमंत्री शाह ने कैराना में मांगे घर-घर BJP के लिए वोट, पलायन कराने वालों पर साधा निशाना ◾ चन्नी और सिद्धू दोनों पंजाब के लिए निकम्मे हैं, कांग्रेस के अंदर की लड़ाई ही उनको चुनाव में सबक सिखाएगीः कैप्टन◾निर्वाचन आयोग : चुनाव वाले राज्यों के शीर्ष अधिकारियों से करेगा मुलाकात, कोविड की स्तिथि का लेंगे जायजा ◾ दिग्विजय सिंह के खिलाफ भोपाल पुलिस ने दर्ज की FIR , पूर्व सीएम बोले- हमने कोई अपराध नहीं किया◾पंजाब में नफरत का माहौल पैदा कर रही है कांग्रेस, गजेंद्र सिंह शेखावत ने EC से किया कार्रवाई का आग्रह◾बाबू सिंह कुशवाहा की पार्टी के साथ गठबंधन करेंगे ओवैसी, UP की सत्ता में आने के बाद बनाएंगे 2 CM◾ पिता मुलायम सिंह यादव की कर्मभूमि से लड़ेंगे अखिलेश चुनाव, सपा का आधिकारिक ऐलान◾जम्मू-कश्मीर : शोपियां जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू, सेना ने रास्ते को किया सील ◾यदि BJP पणजी से किसी अच्छे उम्मीदवार को खड़ा करती है, तो चुनाव नहीं लड़ूंगा: उत्पल पर्रिकर ◾गोवा में BJP के लिए सिरदर्द बनेगा नेताओं का दर्द-ए-टिकट! अब पूर्व CM पार्सेकर छोड़ेंगे पार्टी◾ BSP ने जारी की दूसरे चरण के मतदान क्षेत्रों वाले 51 प्रत्याशियों की सूची, इन नामों पर लगी मोहर◾DM के साथ बैठक में बोले PM मोदी-आजादी के 75 साल बाद भी पीछे रह गए कई जिले◾पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा हुए कोरोना से संक्रमित, ट्वीट कर दी जानकारी ◾यूपी : गृहमंत्री शाह कैराना में करेंगे चुनाव प्रचार, काफी सुर्खियों में था यहां पलायन का मुद्दा ◾उत्तराखंड : टिकट नहीं मिलने से नाराज BJP नेताओं में असंतोष, पार्टी की एकजुटता तोड़ने की दी धमकी ◾मुंबई की 20 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग, 7 की मौत, 15 लोग घायल ◾

कदम-कदम पर डोप का खुला खेल

पटियाला : भारतीय खेलों के कुछ कमजोर पहलुओं में सबसे बड़ा और चिंता जनक डोप को माना जाए तो गलत नहीं होगा। यहां पटियाला में आयोजित फेडरेशन कप में भी एथलीटों के दिल-दिमाग पर डोप लेने और डोप की जांच का डर हावी रहा। हाल के वर्षों में मनप्रीत, धरमवीर, इन्द्रजीत, देवेन्द्र कंग जैसे नामी एथलीटों का डोप पॉजिटिव पाया जाना और दर्जनों अन्य का पकड़ा जाना बताता है भारतीय एथलीट नशाखोरी पर किस कदर निर्भर हैं। फेडरेशन कप के चलते भी यही सब नजारा देखने को मिला।

शौचालयों में इंजेक्शन और प्रतिबंधित दवाओं के खाली पैकेट का पाया जाना एथलीटों की मनोदशा और दमखम बढाने वाली दवाओं पर उनकी निर्भरता को उजागर करता है। हैरानी वाली बात यह है क़ि इस कडवे सच के बारे में कोई भी बोलने और राज खोलने को तैयार नहीं है। नाम न छापने की शर्त पर बहुत कुछ बोल डालते हैं। फेडरेशन अधिकारी मानते हैं क़ि गड़बड़ झाला चल रहा है और कोच-एथलीट मिल कर नशा बांट रहे हैं।

कुछ कोच नाम गुप्त रखने का वास्ता देकर कहते हैं कि लगभग सभी एथलीट ड्रग्स के भरोसे हैं और यह चलन दुनिया भर में है। इस बारे में पूछे जाने पर बड़े नाम वाले एथलीट तो साफ मुकर जाते है पर कम कामयाब कहते हैं क़ि जो जितना ज्यादा नशा लेता है उतना अधिक सफल है।

सीमा पूनिया का डोप परीक्षण होगा

चक्का फेंक खिलाड़ी सीमा पूनिया का राष्ट्रमंडल खेलों से पहले प्रतियोगिता के इतर डोप परीक्षण किया जाएगा क्योंकि यहां 22वीं फेडरेशन कप राष्ट्रीय सीनियर एथलेटिक्स चैम्पियपशिप के दौरान उनका परीक्षण नहीं हो सका था। सीमा ने यहां पांच मार्च को प्रतियोगिता के पहले दिन चक्का फेंक में 61.05 मीटर के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ स्वर्ण पदक अपने नाम किया था लेकिन नाडा अधिकारियों के नहीं पहुंचने के कारण उनका डोप टेस्ट नहीं हो सका था। नाडा अधिकारी छह मार्च को पहुंचे लेकिन तब तक सीमा यहां से जा चुकी थी।

नाडा ने भारतीय एथलेटिक्स महासंघ को कहा था कि वह सीमा से संपर्क कर बताये कि उनका परीक्षण कहां किया जा सकता है। जिस पर एएफआई ने अमल किया और नाडा अधिकारी सीमा के परीक्षण के लिए सोनीपत रवाना हो रहे हैं। राष्ट्रीय शिविर से जुड़े एक अधिकारी ने नाम ना छापने की शर्त पर कहा कि हमने नाडा को सीमा का हरियाणा का पता दे दिया है जहां से अधिकारी परीक्षण के लिए उनका नमूना ले सकते है। उन्होंने कहा कि नाडा अधिकारी यहां (फेडरेशन कप) एक दिन देर से पहुंचे।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहाँ क्लिक  करें।

(राजेन्द्र सजवान)