आईपीएल 2018 में राजस्थान रॉयल्स को एक बार फिर से हार का सामना करना पड़ा है। कल किंग्स इलेवन पंजाब औैर राजस्थान रॉयल्स के बीच में मैच खेला गया जो इंदौर के स्टेडियम में खेला गया है। राजस्थान रॉयल्स को पंजाब ने इस मैच में 6 विकेट से हरा दिया है।

अब राजस्थान इस मैच के हारने के बाद खुद ही मुसीबत में फंस चुकी है। आईपीएल के इस सीजन में राजस्थान अब तक 6 मैैच हार चुकी है। इसलिए अब राजस्थान को अपने हर मैच में नॉकआउट की तरह खेलना होगा।

किंग्स इलेवन पंजाब के नए होम ग्राउंड मे किंग्स इलेवन पंजाब की पहली जीत है। केएल राहुल के नाबाद अर्धशतक की बदौलत किंग्स इलेवन पंजाब ने आसानी से 6 विकेट हाथ मे रहते लक्ष्य को हासिल किया। इससे पहले मैच में, किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी करने का फैसल किया।

इनके गेंदबाजों ने रविचंद्रन अश्विन के फैसले का सम्मान किया और अच्छी गेंदबाजी की। अश्विन ने मैच के पहले ओवर में डी आर्की शॉर्ट को पैवेलियन भेज दिया था। इसके बाद महज 5 रन बनाने के तुरंत बाद कप्तान अजिंक्य रहाणे भी वापस पैवेलियन लौट गए। संजू सैमसन और जोस बटलर ने पारी को संभाला और धीरे धीरे आगे बढ़ाया।

एंड्रयू टाई ने संजू सैमसन को आउट किया , लेकिन इससे पहले बटलर और सैमसन के बीच 49 रन की साझेदारी हो चुकी थी।जहा एक छोर से विकेट गिरते जा रहे थे,वही जोस बटलर ने अपने बल्ले के साथ अपनी अच्छा फॉर्म जारी रखी।

इन्होंने टूर्नामेंट में लगातार दूसरा अर्धशतक लगाया था। हालांकि, एक माइलस्टोन तक पहुंचने के बाद यह अपने तालमेल में और अधिक नहीं जोड़ सके और 39 गेंदों में 7 चौके लगाकर अपने नाम पर 51 रन किए।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी किंग्स इलेवन पंजाब की शुरुआत खराब हुई क्योँकि तूफानी बल्लेबाज क्रिस गेल महज 8 रन बनाकर पैवेलियन लौट गए थे।इसके बाद तो बस विकेट की झड़ी लग गई । परंतु के एल राहुल शुरु से अंत तक टिके रहे और शानदार बल्लेबाजी का नजारा दिखाया।

मिडिल मे के एल राहुल का साथ करुण नायर ने बखूबी निभाया।करुण नायर ने 23 गेंदो पर 31 रन की पारी खेली।किंग्स इलेवन पंजाब के जिस खिलाड़ी ने ऑपन किया उसी खिलाड़ी ने मैच का अंत भी किया ।के एल राहुल ने अंत तक राजस्थान रॉयलस के गेंदबाजो का सामना किया और किंग्स इलेवन पंजाब को 18.4 ओवर मे 6 विकेट से जीत दर्ज करवाई।

मैच खत्म होने के बाद गुस्से मे अजिंक्य रहाणे ने इन्हे ठहराया जिम्मेदार और कहा कि

“यह हार हमारे लिए काफी निराशाजनक है। हमारा स्कोर अगर 170 या उससे ज्यादा रहता तो शायद हम जीत सकते थे। हमने बल्लेबाजी में कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया। आप हर मैच में कुछ ना कुछ बहाने या कारण नहीं बना सकते। हमने गेंदबाजी में अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन बल्लेबाजी में ठीक नहीं थे। हम बल्लेबाजी में कन्फ्यूंज थे कि क्या हमे शॉट मारना है या डिफेंड करना है। फिर भी हर गेम से कुछ ना कुछ सीखने को मिलता है। हम यहां से अच्छी चीजों को सीख के आगे जाएंगे।”

लोकेश राहुल के एक कैच जिसपर वो आउट होते होते बच गए थे, “उसके बारे में रहाणे ने कहा कि, निश्चित तौर पर वह एक बड़ा मूमेंट था। राहुल अगर आउट हो जाते तो हम गेम में वापसी कर सकते थे। हालांकि हम अपनी कमजोरियों पर काम करेंगे और आगे के मैचों में वापसी करेंगे।”

देश की हर छोटी-बड़ी खबर जानने के लिए पड़े पंजाब केसरी अख़बार