BREAKING NEWS

आज का राशिफल (14 जून 2021)◾G-7 शिखर सम्मेलन : समिट में बोले PM मोदी - भारत जी-7 का स्वाभाविक सहयोगी है◾नफ्ताली बेनेट ने ली इजराइल के प्रधानमंत्री पद की शपथ ,नेतन्याहू का 12 साल का कार्यकाल खत्म◾LJP में टूट की खबर : पार्टी के 5 सांसदों ने छोड़ा चिराग पासवान का साथ, JDU में हो सकते हैं शामिल ◾दिल्ली और तमिलनाडु में ‘अनलॉक’ प्रक्रिया को मिली गति, दूसरे राज्यों में भी प्रतिबंधों में छूट◾राहुल ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - Modi सरकार में झूठ और खोखले नारों का मंत्रालय सबसे कुशल◾गोवा सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 21 जून तक बढ़ाया गया कर्फ्यू◾मिल्खा सिंह की पत्नी का कोरोना से निधन, अंतिम संस्कार में नहीं हो पाए शामिल◾मुख्यमंत्री पद 5 साल के लिए शिवसेना के पास ही रहेगा, नहीं हो सकता कोई समझौता : राउत◾अगर किसी को भाजपा में रहना है तो उसे बलिदान देना होगा : दिलीप घोष◾राम जन्मभूमि ट्रस्ट पर लगे भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप, 'AAP' ने की सीबीआई व ईडी से जांच कराने की मांग◾कांग्रेस जड़ता की स्थिति में नहीं, यह दिखाने के लिये पार्टी में व्यापक सुधार की जरूरत : कपिल सिब्बल◾कोटकपूरा गोलीकांड : SIT ने पंजाब के पूर्व CM प्रकाश सिंह बादल को किया तलब◾महाराष्ट्र : संजय राउत का बड़ा आरोप- पूर्ववर्ती भाजपा सरकार में शिवसेना के साथ किया जाता था ‘गुलामों’ की तरह व्यवहार ◾अगले 3 दिनों में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 4 लाख से अधिक कोरोना वैक्सीन मिलेगी ◾केजरीवाल का ऐलान- कल से खुलेंगे मॉल और बाजार, 50 प्रतिशत क्षमता के साथ मिली रेस्तरां खोलने की अनुमति ◾उत्तराखंड : कांग्रेस की वरिष्ठ नेता इंदिरा हृदयेश का निधन, दिल्ली में ली अंतिम सांस◾अमित मित्रा के आरोपों पर बोले अनुराग ठाकुर-वित्त मंत्री ने कभी अनसुनी नहीं की किसी की बात◾कोरोना आंकड़ों पर राहुल गांधी ने उठाए सवाल, पूछा- भारत सरकार का सबसे कुशल मंत्रालय कौन सा है◾यमुना एक्सप्रेस-वे पर भीषण सड़क हादसा, ट्रक में जा घुसी कार, 3 की मौत ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

ऋषभ पंत ने लगवाई कोरोना वैक्सीन की पहली डोज, तस्वीर शेयर करके फैंस से की यह खास अपील

कोरोना वायरस को मात देने के लिए अब एक मात्र सहारा ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण होना है ,जिससे कोरोना के खौफ से निपटा जा सकता है। वहीं, बीते दिनों कप्तान विराट कोहली, शिखर धवन,अजिंक्य रहाणे, चेतेश्वर पुजारा, उमेश यादव, ईशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह ने अलग-अलग केंद्रों पर टीके का पहला डोज ले लिया। इसके बाद अब इस लिस्ट में भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत का नाम भी शामिल हो गया है, जी हां दरअसल कोरोना से बचाव के लिए ऋषभ पंत ने भी कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज लगवा ली है। 

पंत ने शेयर की तस्वीर 


ऋषभ पंत ने कोरोना वायरस की पहली डोज गुरुवार को ली और पंत ने ट्विटर पर कोरोना वैक्सीन लगवाते हुए एक फोटो शेयर करके इस बात की जानकारी दी है। भारत के इस 23 वर्षीय क्रिकेटर ने  फोटो के साथ में लिखा, 'मैंने अपना पहला डोज आज लगवा लिया है।अगर आप टीका लगवाने के योग्य हैं तो देर मत कीजिए। जितनी जल्दी हम टीका लगवाएंगे, वायरस को हरा सकेंगे।

इंग्लैंड,ऑस्ट्रेलिया फिर आईपीएल में जमकर बोला पंत का बल्ला 

पिछले महीने आईपीएल 2021 में ऋषभ पंत दिल्ली कैपिटल्स की कमान संभालते हुए नजर थे। पंत की कप्तानी में दिल्ली का प्रदर्शन काफी बेहतरीन रहा था। टीम ने अपने 8 मुकाबलों में से छह मुकाबले अपने नाम किये थे। जबकि ऋषभ पंत ने 8 मुकाबलों में 35 से अधिक के औसत और 31.48 के स्ट्राइक रेट से 213 रन जोड़े। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों की वजह से फिलहाल के लिए टूर्नामेंट को स्थगित कर दिया गया है,इस दौरान खास बात आईपीएल रद्द होने के समय दिल्ली प्वॉइंट टेबल में टॉप पर रही थी। वहीं, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई सीरीज में भी पंत का बल्ला जमकर बोला था। इसके अलावा उन्होंने गाबा के मैदान पर उन्होंने टीम को ऐतिहासिक जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी।

दरअसल बीसीसीआई को उम्मीद है कि इंग्लैंड दौरे पर जाने वाले खिलाड़ियों को भारत से रवाना होने से पहले कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लग जाएगा। हालांकि इंडियन प्रीमियर लीग के दोरान कोरोना वायरस से संक्रमित होने वाले वाले तेज गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्णा के लिए  इंग्लैंड जाने से पहले टीका लगवाना मुश्किल होगा। 

बीसीसीआई का कहना है 'कोविड-19 से उबरने के बाद आप एक समय अवधि के बाद ही टीकाकरण करवा सकते हैं। अगर प्रसिद्ध कृष्णा 18 या 20 मई को नेगेटिव आते हैं तो भी उनको पहले टीके के लिए चार सप्ताह का इंतजार करना होगा। इस बीच बोर्ड ने यह भी कहा अगर सभी खिलाड़ी भारत में कोविशील्ड टीका लगवाते हैं तो इंग्लैंड में इसके दूसरे डोज को लेने में आसानी होगी, क्योंकि यह ऑक्सफोर्ड का टीका है।