BREAKING NEWS

दिल्ली के सरकारी स्कूलों में 8वीं तक के छात्रों को नहीं देनी होगी परीक्षा : शिक्षा निदेशालय ◾एसकेएम राष्ट्रपति कोविंद को लिखा पत्र, गिरफ्तार किसानों की बिना शर्त रिहाई की मांग की ◾25 फरवरी को पश्चिम बंगाल का दौरा करेंगे जे पी नड्डा , कई कार्यक्रमों में करेंगे शिरकत ◾स्टेडियम का नाम बदलने को लेकर राहुल का केंद्र पर तंज, कहा- नरेंद्र मोदी स्टेडियम में एक अडाणी छोर- रिलायंस छोर ◾राजनाथ सिंह को मिले किसानों से बात करने की आजादी, तो हो जाएगा सम्मानजनक फैसला : नरेश टिकैत◾भारत और चीन की सीमा पर सैनिकों का पीछे हटना दोनों पक्षों के लिए लाभकारी : थल सेना प्रमुख ◾'बनावटी' जानकारी वाले नेता है राहुल, भारतीयों का अपमान करना पसंदीदा शगल है : जावड़ेकर ◾इशांत को 100वें टेस्ट की उपलब्धि मैच में राष्ट्रपति और गृहमंत्री द्वारा सम्मान के साथ मिला ‘गार्ड ऑफ ऑनर’ ◾सरकार का काम व्यवसाय करना नहीं, उसका ध्यान जन कल्याण पर होना चाहिए : PM मोदी ◾अक्षर की जादुई फिरकी के आगे ढेर हुई रुट कंपनी, पहली पारी में महज 112 रन पर सिमटा इंग्लैंड ◾CM योगी का राहुल का तीखा हमला- देश को इतना खतरा आतंकवादियों से नहीं जितना ऐसी मानसिकता से है ◾1 मार्च से होगा शुरू कोरोना वैक्सीन का दूसरा चरण, 60 साल से अधिक उम्र वालों को लगेगा टीका◾ममता बनर्जी ने PM मोदी को बताया सबसे बड़ा दंगाबाज,कहा- उनकी किस्मत डोनाल्ड ट्रंप से भी बुरी होगी◾नरेंद्र मोदी स्टेडियम के नाम से जाना जायेगा मोटेरा स्टेडियम, अमित शाह ने खासियतें बताते हुए किये ये ऐलान ◾गिरिराज का राहुल पर तंज, जो काम आपके नाना जी से नहीं हुआ, वो PM मोदी ने किया ◾विश्व के सबसे बड़े मोटेरा स्टेडियम का रामनाथ कोविंद ने किया उद्घाटन, भारत-इंग्लैड के बीच आज होगा मैच ◾Rajasthan : CM गहलोत ने विधानसभा में पेश किया बजट, ‘राइट टु हेल्थ’ विधेयक लाएगी राज्य सरकार◾राहुल गांधी के दक्षिण भारत वाले बयान पर स्मृति ईरानी ने उन्हें बताया 'एहसान फरामोश' ◾केरल में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मछुआरों के साथ पकड़ी मछलियां, बताया समुद्र का अनुभव ◾Today's Corona Update : पिछले 24 घंटे में 104 मरीजों की मौत, 13 हज़ार से ज्यादा नए केस हुए दर्ज◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सौरव गांगुली ने टी-20 प्रारूप का किया समर्थन, कहा- मैं भी अपने खेल में बदलाव करता

भारतीय क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने टी-20 क्रिकेट का समर्थन करते हुए रविवार को कहा कि अगर वह इस दौर में खेल रहे होते तो सबसे छोटे प्रारूप की जरूरतों को पूरा करने के लिए अपने खेल में बदलाव करते। गांगुली ने बीसीसीआई ट्विटर हैंडल के जरिए टेस्ट टीम के सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल के सवाल के जवाब में कहा, ‘‘टी20 बहुत महत्वपूर्ण है। मैं खुद के खेल में इसके लिए बदलाव किया होता। यह आपको खुलकर खेलने की आजादी देता है।’’

भारत के लिए 113 टेस्ट और 311 एकदिवसीय खेलने वाले पूर्व कप्तान उस समय अपने करियर के आखिरी दौर में था जब इस प्रारूप को देश में अपनाया जा रहा था। उन्होंने आईपीएल फ्रेंचाइजी कोलकाता नाइट राइडर्स की कप्तानी की और फिर पुणे वारियर्स के लिए भी खेले। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे टी20 खेलना पसंद था, हालांकि मैंने आईपीएल के पहले पांच साल खेले है। मुझे लगता है कि मैंने टी20 का लुत्फ उठाया था।’’

गांगुली ने इस मौके पर 2003 विश्व कप और लॉर्ड्स की बालकनी से टी-शर्ट लहराने की यादों को ताजा किया। भारतीय टीम गांगुली की कप्तानी में विश्व के फाइनल में पहुंची थी जबकि टीम ने 2002 में नेटवेस्ट ट्रॉफी फाइनल में 326 रन के लक्ष्य का सफलतापूर्व पीछा किया था। उन्होंने कहा, ‘‘यह एक बेहतरीन क्षण था। हम भावनाओं में बह गये थे, लेकिन खेल में ऐसा होता है। जब आप इस तरह का मैच जीतते हैं, तो आप और भी अधिक जश्न मनाते हैं। यह उन शानदार क्रिकेट मैचों में से एक था जिसका मैं हिस्सा रहा हूं।’’

इस जीत की विश्व कप के फाइनल से तुलना के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘दोनों का अपना स्थान है। विश्व कप फाइनल मेरे लिए काफी खास है, हम ऑस्ट्रेलिया से बुरी तरह हार गये थे। वे (ऑस्ट्रेलिया) उस पीढ़ी की सर्वश्रेष्ठ टीम थी।’’ पूर्व कप्तान ने कहा, ‘‘विश्व कप के फाइनल में पहुंचना और ऑस्ट्रेलिया को छोड़ कर सभी टीमों को हराना शानदार उपलब्धि थी।’’