BREAKING NEWS

ममता ने नागरिकता कानून को लेकर बंगाल में तोड़फोड़ करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी ◾भाजपा ने आज तक जो भी वादे किए है वह पूरे भी किए गए हैं - राजनाथ◾असम में हालात काबू में, 85 लोगों को गिरफ्तार किया गया : असम DGP◾पीएम मोदी के सामने मंत्री देंगे प्रजेंटेशन, हो सकता है कैबिनेट विस्तार◾मध्यम आय वर्ग वाला देश बनना चाहते हैं हम : राष्ट्रपति ◾कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रैली में पकौड़े बेच सत्ताधारियों का मजाक उड़ाया ◾भाजपा ने किया कांग्रेस सरकार के खिलाफ प्रदर्शन : किसानों के प्रति असंवेदनशील होने का लगाया आरोप ◾कांग्रेस जवाब दे कि न्यायालय में उसने भगवान राम के अस्तित्व पर क्यों सवाल उठाए : ईरानी◾दिल्ली के रामलीला मैदान में 22 दिसंबर को रैली कर दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार शुरू करेंगे PM मोदी ◾जामिया के छात्रों ने आंदोलन फिलहाल वापस लिया◾सीएए के खिलाफ जनहित याचिका दायर की, एआईएमआईएम हरसंभव तरीके से कानून के खिलाफ लडे़गी : औवेसी◾गंगा बैराज की सीढियों पर अचानक फिसले प्रधानमंत्री मोदी ◾संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ पूर्वोत्तर, बंगाल में प्रदर्शन जारी◾PM मोदी ने कानपुर में वायुसेना कर्मियों के साथ की बातचीत ◾कानपुर : नमामि गंगे की बैठक के बाद PM मोदी ने नाव पर बैठकर गंगा की सफाई का लिया जायजा ◾राहुल गांधी के लिए ‘राहुल जिन्ना’ अधिक उपयुक्त नाम : भाजपा ◾TOP 20 NEWS 14 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾उत्तर प्रदेश : फतेहपुर में दोहराया गया 'उन्नाव कांड', बलात्कार के बाद पीड़िता को जिंदा जलाया ◾साबित हो गया कि मोदी ने झूठे वादे किए थे : मनमोहन सिंह◾जम्मू-कश्मीर : फारुक अब्दुल्ला की हिरासत अवधि 3 महीने और बढ़ी◾

खेल

परिवार के समर्थन से बन पाई टेनिस प्लेयर : सानिया मिर्जा

 sania-mirza

नई दिल्ली : भारतीय टेनिस की सबसे सफलतम महिला खिलाड़ी सानिया मिर्जा और बालीवुड की जानी-मानी अभिनेत्री सोनम कपूर आहूजा का मानना है कि किसी भी महिला के विकास मे उसके परिवार और खासकर माता पिता का सबसे बड़ा योगदान होता ह। आज यहां फिक्की द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में दोनों महिलाओं ने अपनी कामयाबी मे अपनी पारिवारिक पृष्टभूमि को सफलता का कारण बताया। सोनम ने अपने पिता अनिल कपूर के रूतबे और अपनी मां के मार्गदर्शन की प्रशंसा की तो सानिया मिर्ज़ा ने कहा कि उसने छह साल की उम्र से घर से बाहर निकलकर खेलना शुरू किया।

तब छोटी स्कर्ट पहनकर खेलने पर छींटाकशी का सामना करना पड़ता था। लेकिन मेरे माता-पिता ने मुझे और मेरी बहनों का हमेशा मनोबल बढ़ाया। उनके समर्थन और लगातार प्रोत्साहन के चलते ही मैं यहां तक पहुंच पाई फिरभी भारतीय महिला को अभी लंबा सफ़र तय करना है। पुरुष प्रधान समाज में वह अभी बहुत पीछे चल रही ह। सानिया मिर्जा ने साइना नेहवाल, सिंधु, साक्षी, मेरी काम आदि खिलाड़ियों का उल्लेख करते हुए कहा कि इन सभी के परिजनों और अपनों ने हमेशा उन्हें आगे बढ़ने की हिम्मत बंधाई और उन्होंने जमाने की परवाह नहीं की।

सानिया के अनुसार आज भी देश में महिला खिलाड़ियों को दूसरी नज़रों से देखा जाता है। भले ही कुछ लड़कियां ओलंपिक और विश्व स्तर पर पहचान बना रही हैं लेकिन जब कोई लड़की क्रिकेट और फुटबॉल जैसे खेलों मे भाग लेती है तो उसे लड़कों से कमतर आंका जाता है और कई बार अपनों से ना भी सुननी पड़ जाती है। फिक्की ने आज अपने महिला कार्यक्रम में गीता टंडन, दीपाली, कल्पना सरोज, अनमोल रोड्रिक्स और चारू बजाज जैसी जीवट महिलाओं को सम्मानित किया।

(राजेंद्र सजवान)