BREAKING NEWS

TOP 20 NEWS 24 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾ताजमहल का दीदार करके दिल्ली पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप◾महाराष्ट्र : मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बोले- गठबंधन के भागीदारों के बीच कोई मतभेद नहीं◾जाफराबाद में CAA को लेकर पथराव, गाड़ियों में लगाई गई आग, एक पुलिसकर्मी की मौत◾मोटेरा स्टेडियम में दिखी ट्रंप और मोदी की दोस्ती, दोनों दिग्गज ने एक-दूसरे की तारीफ में पढ़ें कसीदे ◾दिल्ली के मौजपुर में लगातार दूसरे दिन CAA समर्थक एवं विरोधी समूहों के बीच झड़प ◾CM केजरीवाल और मनीष सिसोदिया ने दिल्ली विधानसभा की सदस्यता की शपथ ली◾ट्रम्प के स्वागत में अहमदाबाद तैयार, छाए भारत-अमेरिकी संबंधों वाले इश्तेहार◾दिल्ली और झारखंड में BJP विधानमंडल दल के नेता का आज होगा ऐलान ◾जाफराबाद में CAA को लेकर हुई पत्थरबाजी के बाद इलाके में तनाव, मेट्रो स्टेशन बंद◾Modi सरकार ने पद्म सम्मान के लिये ‘गुमनाम’ चेहरे खोजे : केंद्रीय मंत्री◾अब कुछ ही घंटो में भारत यात्रा के लिए अहमदाबाद पहुंचेंगे अमेरिकी राष्ट्रपति Trump , मोदी को बताया दोस्त◾मेलानिया का स्वागत करके खुशी होती, हमने अमेरिकी दूतावास की चिंताओं का किया सम्मान : मनीष सिसोदिया◾Trump की भारत यात्रा से किसी महत्वपूर्ण परिणाम के सकारात्मक संकेत नहीं हैं : कांग्रेस◾US राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के लिए रवाना, कल सुबह 11.55 बजे पहुंचेंगे अहमदाबाद, जानिए ! पूरा कार्यक्रम◾अमेरिकी दूतावास की सफाई - स्कूल में मेलानिया के साथ CM केजरीवाल की मौजूदगी से कोई आपत्ति नहीं◾ट्रंप की भारत यात्रा को लेकर PM मोदी बोले - अमेरिकी राष्ट्रपति के स्वागत को लेकर हिंदुस्तान उत्सुक◾ट्रम्प की थाली में परोसे जाएंगे गुजराती व्यंजन, सूची में खमण भी शामिल ◾नमस्ते ट्रंप : एयर इंडिया ने जारी की एडवाइजरी - यात्रियों को अहमदाबाद हवाईअड्डा जल्द पहुंचने की जरूरत◾भारत 24वां देश जिसके दौरे पर आ रहे हैं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप◾

टोक्यो ओलंपिक : लो शुरू हो गया पदक लूटने का खेल

नई दिल्ली : जैसे-जैसे टोक्यो ओलंपिक नजदीक आ रहा है, विदेश दौरों के लिए कुख्यात राष्ट्रीय खेल संघों, भारतीय ओलंपिक संघ और खेल मंत्रालय एवं भारतीय खेल प्राधिकरण के अवसरवादियों ने अंगड़ाई लेनी शुरू कर दी है। गाहे बगाहे उन्होनें वही पुराना, बेसुरा और घिसा पिटा राग अलापना शुरु कर दिया है। अपने-अपने स्तर पर उन्होंने टोक्यो में भारतीय खिलाड़ियों द्वारा जीते जाने वाले पदकों का हिसाब किताब लगाना प्रारम्भ कर दिया है। 

इस खेल में जाने माने खेल पंडित, मीडिया का एक भटका हुआ वर्ग, न्यूज एजेंसियों के यस मैन और खेल संघों और खेल मंत्रालय के तथाकथित एक्सपर्ट बढ़चढ़ कर भागीदारी निभा रहे हैं। लेकिन जब देश का खेल सचिव कुर्सी संभालते ही दावा कर दे कि भारतीय खिलाड़ी टोक्यो ओलंपिक में 50 पदक जीत सकते हैं तो आगे कुछ कहने की जरूरत नहीं है।  लेकिन कुछ भी नया नहीं है। हर ओलंपिक से पहले ऐसा ही होता है। कारण, भारतीय खेलों के मठाधीस जानते हैं कि हमारे खिलाड़ी कितने पानी में हैं और उनमें पदक जीतने का कितना माद्दा है। 

लेकिन यदि सच पहले ही बोल दिया जाए तो खेल मंत्रालय, आईओए और खेल संघों के मौका परस्त ओलंपिक का टिकट कैसे पा सकते हैं। नतीजन खिलाड़ियों के साथ साथ अधिकारी भी चोर दरवाजे से ओलंपिक, एशियाड और तमाम आयोजनों में अपनी उपस्थिति दर्ज करते आ रहे हैं। लंदन ओलंपिक में छह पदक जीतने के बाद तमाम जिम्मेदार इकाइयों, मीडिया हाउस और कार्पोरेट जगत नें रियो ओलंपिक में दस से बीस पदक जीतने का दावा ठोक दिया परंतु मिले सिर्फ दो। भला हो सिंधु और साक्षी का जिनके प्रदर्शन ने भारतीय प्रतिष्ठा को नंगा होने से बचा लिया।