BREAKING NEWS

देश में कोरोना का आंकड़ा 6 लाख के पार, पिछले 20 दिनों के अंदर 3 लाख से अधिक केस आए सामने ◾दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 करोड़ 6 लाख के पार, अब तक 5 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई जान ◾मध्यप्रदेश : शिवराज सरकार के कैबिनेट का विस्तार होगा आज, करीब 24 मंत्री ले सकते है शपथ ◾असम में बाढ़ से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 33 हुई, 15 लाख लोग हुए प्रभावित◾प्रियंका गांधी का मकान खाली कराने का कदम PM मोदी और CM योगी की बेचैनी दिखाता है : कांग्रेस◾रेलवे ने दी निजी यात्री ट्रेने शुरू करने को हरी झंडी, 30,000 करोड़ रुपये का होगा निवेश◾भारत के साथ सैन्य कमांडरों की बातचीत में प्रगति का चीन ने किया स्वागत, कहा - तनाव जल्द कम होगा ◾चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगाने के फैसले पर भारत के साथ खड़ा हुआ अमेरिका, कहा - सुरक्षा के लिए जरूरी ◾दिल्ली में 2,442 नए मामले सामने आने के बाद कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 89 हजार के पार ◾UAPA कानून के तहत गृह मंत्रालय ने खालिस्तानी समूहों से जुड़े नौ लोगों को आतंकवादी घोषित किया ◾ 5,537 नए मामलों के साथ महाराष्ट्र में कोरोना मीटर पहुंचा 1,80,298, अबतक 8,053 मरीजों की मौत ◾59 चीनी ऐप बैन करने के बाद पीएम मोदी ने चीनी सोशल मीडिया प्लेटफार्म वीबो को कहा अलविदा ◾कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से एक महीने में सरकारी बंगला खाली करने का आदेश◾चीन की दादागिरी पर अमेरिका सख्त,कहा - अगर हांगकांग को “निगलने” की कोशिश की हम चुप नहीं बैठेंगे ◾कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुंबई में 15 जुलाई तक लगाई गई धारा 144◾सैन्य तैयारियों का जायजा लेने के लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को कर सकते है लद्दाख दौरा ◾आनंदीबेन पटेल ने मध्यप्रदेश के प्रभारी राज्यपाल पद की शपथ ली ◾चीन को एक और झटका देने की तैयारी में भारत, हाईवे प्रोजेक्ट्स में चीनी कंपनियों को करेगा बैन◾कोरोनिल को लेकर आयुष मंत्रालय के साथ समाप्त हुआ विवाद, देश में हर जगह होगी उपलब्ध : रामदेव◾कोरोनिल पर विवाद को लेकर बोले रामदेव, क्या सिर्फ कोट-टाई वालों ने रिसर्च का ठेका ले रखा है◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

वीरू का बारूदी विस्फोट, बोले BCCI में नहीं थी कोई सेटिंग, इसलिए नहीं बन पाया कोच

नई दिल्ली: टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने ​एक सनसनीख़ेज़ ख़ुलासा किया है। उन्होंने कहा है कि वह कोच इसलिए नहीं बन पाए क्योंकि जो भी कोच चुन रहे थे उनसे उनसे उनकी सेटिंग नहीं थी।

\"\"

Source

सहवाग ने इंडिया टीवी के लोकप्रिय शो 'क्रिकेट की बात' में कहा- ‘’ मैंने कभी कोच बनने के बारे में सोचा नहीं था। बीसीसीआई के सचिव अमिताभ चौधरी और डॉ. श्रीधर आए मेरे पास ऑफर लेकर आए थे। उन्होंने आग्रह पर विचार करने के लिए मैंने समय लिया और फिर बाद अप्लाई किया।

\"\"

Source

अनिल कुंबले के कोच पद से इस्तीफा देने के बाद 38 साल के वीरेंद्र सहवाग को इस पद का प्रबल दावेदार माना जा रहा था। हालांकि रवि शास्त्री के आवेदन के बाद उनके नाम पर मुहर लगी और उन्हें टीम इंडिया का हेड कोच नियुक्त किया गया। गौरतलब है कि पूर्व दिग्गज स्पिनर अनिल कुंबले ने कप्तान विराट कोहली से विवाद के चलते इस्तीफा दे दिया था। हालांकि शास्त्री ने पहले कोच पद के लिए पहले अप्लाई नहीं किया था। लेकिन बीसीसीआई की ओर से डेडलाइन बढ़ाए जाने के बाद उन्होंने हेड कोच के लिए आवेदन किया था।

\"\"

Source

वीरेंद्र सहवाग बतौर क्रिकेट एक्सपर्ट इंडिया टीवी से जुड़े हैं। सहवाग ने इंडिया टीवी के लोकप्रिय शो 'क्रिकेट की बात' में कहा कि उन्हें टीम इंडिया का कोच बनने में कोई दिलचस्पी नहीं थी, उन्होंने तो सिर्फ बीसीसीआई के टॉप अधिकारियों के राजी करने पर आवेदन किया था। सहवाग ने कहा, 'मैंने सोचा नहीं था, मेरे पास ऑफर आया था। बीसीसीआई के सचिव अमिताभ चौधरी और डॉ. श्रीधर आए थे। उन्होंने रिक्वेस्ट की, मैंने अपना समय लिया फिर उसके बाद मैंने अप्लाई किया। विरोट कोहली से भी मेरी बात हुई तो वो भी ये कह रहे थे। तब जाकर मैंने अप्लाई किया। अगर मुझसे पूछें मेरा मन था, तो मेरा इंटरेस्ट बिल्कुल नहीं था।' सहवाग के पास कोचिंग का कोई अनुभव नहीं था हालांकि उन्होंने आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब के मेंटॉर के तौर पर जरूर काम किया था।

\"\"

Source

टीम इंडिया के सबसे बड़े मैच विनर खिलाड़ियों में शुमार रहे वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि 'बीसीसीआई के अधिकारी मेरे पास आए थे और मैं सिर्फ उनकी मदद करना चाहता था लेकिन आगे भविष्य में वो कभी भी टीम इंडिया के कोच पद के लिए आवेदन नहीं करेंगे।' 'मुझे लगा कि शायद वो रिक्वेस्ट कर रहे हैं तो मुझे उनकी मदद करनी चाहिए। तो मैंने वैसा फैसला किया, ना मैंने अप्लाई करने की सोची थी और न कभी आगे अप्लाई करूंगा।'

\"\"

Source

जब सहवाग से यह सवाल किया गया कि क्यों उन्हें इस जॉब के लिए नहीं चुना गया, सहवाग ने कहा, 'देखिए मैं कोच इसलिए नहीं बन पाया क्योंकि मेरी किसी से भी सेटिंग नहीं थी, जो भी कोच चुन रहे थे उनसे सेटिंग नहीं थी।'

\"\"

Source

टीम इंडिया के लिए 104 टेस्ट मैच और 251 वनडे खेल चुके सहवाग ने कहा कि अगर उन्हें यह मालूम होता कि रवि शास्त्री भी इसके लिए अप्लाई करेंगे तो वे कभी इस पोस्ट के लिए अप्लाई करते ही नहीं। सहवाग ने कहा, 'जब इंग्लैंड में मैंने रवि से पूछा था कि आपने क्यों अप्लाई नहीं किया, तो उन्होंने कहा मैं एक बार गलती कर चुका हूं, दोबारा नहीं करूंगा। अगर पता होता तो फिर शायद मेरी नौबत ही नहीं आती अप्लाई करने की। मैं करता ही नहीं।'