टीम इंडिया के कप्तान कोहली ने एक और विराट रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज कर लिया है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में कोहली ने 41 रन बनाकर बतौर कप्तान सबसे ज्यादा रन बनाने का कीर्तिमान अपने नाम किया है।

बतौर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को पछाड़ते हुए कोहली टेस्ट मैचों में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। कोहली ने कप्तान के तौर पर 35 मैचों में 3456 रन बनाए हैं वहीं, महेंद्र सिंह धोनी ने 60 मैचों में 3454 रन बनाए थे।

35 टेस्ट मैचों के दौरान कोहली का औसत 65.20 का रहा है। वहीं, धोनी ने 3454 रन 40.63 की औसत से बनाए थे। अपनी 35 मैचों की 57 पारियों के दौरान कोहली ने 14 शतक भी बनाए हैं। उन्होंने सात शतक घरेलू मैदान पर और सात शतक विदेशी जमीन पर बनाए हैं।

कोहली का ये रिकॉर्ड इसलिए भी खास है क्योंकि उन्होंने यह कारनामा करने में धोनी से तीन साल से कम समय लिया है। दरअसल, बतौर कप्तान धोनी ने 3454 रन सात साल में बनाए थे, जबकि कोहली ने कप्तान रहते महज चार साल में धोनी के रनों के आंकड़े को पीछे छोड़ दिया है।

इस मामले में कोहली के बाद दूसरे नंबर पर धोनी, तीसरे पर गावस्कर (3449 रन), चौथे पर मोहम्मद अजहरुद्दीन (2856 रन) और पांचवें नंबर पर सौरव गांगुली (2061 रन) हैं।

कोहली ने 35 में से 19 मैच घरेलू मैदान पर और 16 मैच विदेशी जमीन पर खेले हैं। उन्होंने घरेलू मैदान पर 71.1 के औसत से 2062 रन बनाए हैं और विदेश में 58.08 के औसत से 1394 रन बनाए हैं।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहाँ क्लिक  करें।