एशियाड और एएफसी कप में होगी फुटबाल की अग्निपरीक्षा


football

नई दिल्ली: हालाँकि फीफा की वर्ल्ड रैंकिंग को खुद फीफा विश्वसनीय नहीं मानता लेकिन भारत का ताज़ा रैंकिंग मे 105 वाँ स्थान देश के फुटबॉल प्रेमियों को खासा रोमांचित करता है। ऐसे मे वर्ष 2018 भारतीय फुटबॉल के लिए खास महत्व वाला साबित होने जा रहा है। शायद इसी साल भारतीय फुटबॉल अपनी हैसियत का आईना देख पाएगी। वर्ष 2017 अपनी फुटबॉल के लिए खासी व्यस्तता वाला और सम्मान पाने वाला रहा है।

सबसे बड़ी और सराहनीय बात यह है कि देश की सरकार ने फुटबॉल को विशेष महत्व वाले खेल के रूप मे अपनाया है। देशभर मे फुटबॉल को प्रोत्साहन देने और उसे प्रमुखतावाले खेल के रूप मे आगे बढ़ाने का अभियान चलाया जा रहा है। सरकार ग्रास रुत स्तर से इस खेल को बढ़ावा देने के लिए प्रयासरत है। सरकारी प्रयासों को कई औद्योगिक घराने बल दे रहे हैं।

ख़ासकर रिलायंस ने फुटबॉल को आम भारतीय का खेल बनाने का बीड़ा उठाया है आईएसएल के आयोजन से देश के खिलाड़ियों को बड़ा और असरदार प्लेटफार्म मिला है। सबसे बड़ी उपलब्धि माना जाए तो भारत द्वारा अंडर 17 वर्ल्ड कप का आयोजन किया जाना और भारतीय राष्ट्रीय टीम का एएफसी कप के मुख्य ड्रॉ मे स्थान बनाना रहा है।

हमारी मुख्य खबरों के लिए यह क्लिक करें।

(राजेंद्र सजवान)