ग्लास्गो विश्व चैंपियनशिप में अच्छा प्रदर्शन करना होगा: सिंधू


चेन्नई : भारत की ओलंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधू ने आज कहा कि उनका ध्यान ग्लास्गो में आगामी विश्व चैंपियनशिप में अच्छा प्रदर्शन करने पर है और इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट के दौरान अपनी सर्वश्रेष्ठ फार्म में होने के लिए वह अपने कोचों के साथ कड़ी मेहनत कर रही हैं। सिंधू ने कहा, यह अगले महीने होने वाली विश्व चैंपियनशिप बड़ी प्रतियोगिता है। मैं इसे लेकर उत्सुक हूं और टूर्नामेंट के लिए कड़ी मेहनत कर रही हूं। यह आसान नहीं होने वाला, मुझे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।  दुनिया की पांचवें नंबर की खिलाड़ी सिंधू ने इससे पहले 2013 और 2014 विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीते थे। रियो खेलों में रजत पदक जीतने के बाद सिंधू ने इंडियन ओपन और चीन ओपन के रूप में दो सुपर सीरीज खिताब जीते लेकिन उन्हें पता है कि उपलब्धियों के साथ जिम्मेदारी भी बढ़ जाती है।

उन्होंने कहा, बेशक रियो के बाद जीवन बदल गया। रजत पदक जीतना मेरे लिए बड़ी उपलब्धि थी। इससे साथ काफी जिम्मेदारियां आई। इन दिनों मैं अधिक जीत दर्ज करने की उम्मीद करती हूं। मुझे कड़ी मेहनत करनी होगी और आने वाले टूर्नामेंटों में अच्छा प्रदर्शन करना होगा। उन्होंने कहा, मैं भाज्ञशाली हूं कि मुझे गोपी सर (पुलेला गोपीचंद) जैसे कोच के साथ काम करने का मौका मिला। मैं कई साल से उनके साथ जुड़ी हूं। मैं और अन्य खिलाड़ी उनके मार्गदर्शन के लिए उनके आभारी हैं। बुनियादी ढांचा काफी अच्छा है और इंडोनेशिया के कोचों (मुल्यो हांदोयो और हरियावान) के आने से काफी मदद मिली है। सिंधू ने हाल में शानदार प्रदर्शन करने वाली भारतीय पुरऊष खिलाडय़िों की भी जमकर सराहना
की।