आईपीएल 11 मे राजस्थान रॉयलस और मुंबई इंडियंस के बीच 47वा मुकाबला खेला जा रहा है।यह मुकाबला मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम मे खेला जा चुका है। राजस्थान के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया था।पहले बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई इंडियंस की शानदार शुरुआत हुई।सलामी बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव और इविल लेविस ने मिलकर 87 रन की साझेदारी की।

सूर्यकुमार यादव का विकेट 87 के स्कोर पर गिर गया था।सूर्यकुमार यादव ने 31 गेंदो पर 38 रन बनाकर जोफ्रा आर्चर के शिकार हो गए थे।इनके बाद बल्लेबाजी करानाई आए रोहित शर्मा और इनसे सभी ने बहुत उम्मीदे लगाई हुई थी। परंतु रोहित शर्मा अगली ही गेंद पर जोफ्रा आर्चर के शिकार हो गए।

रोहित शर्मा एक बार फिर इस सीज़न मे गोल्डन डक पर आउट हो गए।इनके बाद ईशान किशन भी कुछ कर नही पाए और 11 गेंदो पर 12 रन बनाकर पैवेलियन लौट गए। वही अंत मे हार्दिक पंड्या ने अपने कुछ हवाईदार शॉट्स दिखाए और 21 गेंदो पर 36 रन के अपने योगदान से मुंबई इंडियंस को निर्धारित 20 ओवर मे 6 विकेट के नुकसान पर 168 रन तक पहुँचाया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी राजस्थान रॉयलस के सलामी बल्लेबाज शॉर्ट ने एक बार फिर अपनी टीम को निराश किया है।शॉर्ट को एक ओर मौका मिला औअर एक बार फिर इन्होने निराश किया।महज 4 के स्कोर पर ये अपनी विकेट गँवा बैठे थे।

इनके बाद कप्तान अजिंक्य रहाणे और जोस बटलर ने रन बटौरना शुरु किया ।इन दोनो ने धीरे धीरे राजस्थान रॉयलस के स्कोरबोर्ड पर रन लगाना शुरु किया।रहाणे 36 गेंदो पर 37 रन बनाकर हार्दिक पंड्या के शिकार हो गए। सलामी बल्लेबाज जोस बटलर ,जो पिछले चार मैचो से बहुत ही शानदार पर्फोर्म कर रहे है ।

उन्होने इस मैच मे भी बहुत ही बेहतरीन पारी खेली।एक बार फिर जोस बटलर ने अपना अर्धशतक पूरा किया।यह अर्धशतक लगाकर इन्होने लगातार 5 अर्धशतक लगाने के मामले मे वीरेंद्र सहवाग की बराबरी कर ली है।

जोस बटलर ने एक बार फिर राजस्थान रॉयलस को मैच जीताया।बटलर ने 53 गेंदो का सामना करते हुए 94 रन बनाए।सैमसन ने भी अंत मे आकर कुछ जलवा दिखाया और फटाफट 14 गेंदो पर 26 रन मारकर अपना काम किया।

राजस्थान रॉयलस ने यह मैच 18वे ओवर मे 7 विकेट से जीतकर प्वॉइंट टेबल पर भी छलांग लगा ली है।अंतिम ओवरो मे मुंबई इंडियंस के गेंदबाजो की बहुत पिटाई हुई है।मिशेल मैकलेंघन और क्रुणाल पंड्या को छोड़कर अन्य गेंदबाज बुमराह, हार्दिक पंड्या और मारकंडे इन तीनो ने 10 से ऊपर की इकॉनॉमी रेट से रन गँवाए।

”अच्छा फॉर्म चल रहा है और मैं इसे जारी रखने की कोशिश कर रहा हूं। हमारे लिए करो या मरो की स्थित है। हमने मध्यमक्रम में बल्लेबाजी में काफी समय बिताया,इसलिए मैं जीत तक जाने की कोशिश करता हूं। हमारे गेंदबाजों ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की और उन्हें लगभग 15 रन तक कम बनाने दिए। फील्ड और विकेट से परिचित होने का मदद आज मिली। अगले मैच की प्रतिक्षा कर रहा हूं।”

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ