क्रिकेट बोर्ड टीम के नए कोच की नियुक्ति के लिए इंटरव्यू नहीं करेगा


आजकल क्रिकेट की दुनिया में एक ही खबर हलचल मचा रही है कि भारतीय क्रिकेट टीम का नया कोच कौन बनेगा। अनिल कुबंले के पद से इस्तीफा देने के बाद से बहुत से नाम सामने आ रहे हैं कि टीम इंडीया के कोच पद के लिए सबसे ऊपर तो रवि शास्त्री का ही नाम आ रहा है कि वही टीम इंडीया के अगले कोच हो सकते हैं।

क्रिकेट बोर्ड एक नया कदम उठाने की सोच रही है जिसकी वजह से कोर्ई विवाद न हो पाए। ऐसा ही कुछ पछले साल हुआ था कोच के एक इंटरव्यू में रवि शास्त्री और सौरभ गांगुली में विवाद हो गया था।

source

कोच के पद के लिए बीसीसीआई में भी खींचा तानी चल रही है। कोच के पद को लेकर बीसीसीआई में भी दो गुट बन चुके हैं।ऐसा ही इस बार न हो जाए इसलिए बीसीसीआई ने कुछ नया सोचा है। आपको बता दें कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड टीम इंडिया के मुख्य कोच के लिए साक्षात्कार वाली प्रक्रिया को खत्म करने के बारे में विचार कर रही है।

source

एक खबर के अनुसार यह पता चला है कि क्रिकेट अडवाइजरी कांउसिल (CAC) को कहा गया है कि वह कोच पद के लिए आखिर फैसला करें। बता दें कि सचिन तेंडुलकर, वीवीएस लक्ष्मण और सौरव गांगुली CAC के सदस्य हैं। जब से अनिल कुबंले ने कोच पद से इस्तीफा दिया है तब से यह पद खाली है। यह बताया जा रहा है कि बोर्ड जो इंटरव्यू लेता था उसे खत्म करने के बारे में सोच रहे हैं।

source

जो भी मुख्य कोच पद के लिए आवेदन कर रहा है वह भी प्रेजेंटेशन के साथ तैयारी करके आएं हैं। बता दें कि किसी को नहीं पता है कि क्या और कैसे होगा। खबरों के मुताबिक शनिवार को भी कोई जानकारी सामने नहीं आई थी। मुख्य कोच के लिए आवेदन की आखिर की तारीख 9 जुलाई है।

source

गांगुली ने अपने पहले ही बयान में बोल दिया है कि चुनाव की प्रक्रिया 10 जुलार्ई को मुंबई में होगी। इसी बतों से पता लगाया जा सकता है कि कोच पद के लिए बोर्ड कैसे चयन करेगा वो भी इतने कम वक्त में। यह कहा जा रहा है कि इंटरव्यू को खत्म करने के लिए CAC के सदस्य ने इसलिए ऐसा किया है क्योंकि वह जानते हैं जो दावेदार हैं यानि सहवाग और शास्त्री उनकी क्षमताओं को वह अच्छे से जानते हैं।

source

उन्होंने कहा कि दोनों एक ही डॉक्युमेंट्स को देख लिया है इसलिए वह कोई जरूरत नहीं मानते हैं दोनों दावेदारों को अलग से बुलाने में। बोर्ड के बड़े अधिकारी ने कहा है कि बोर्ड दुबारा से गांगुली और शास्त्री जैसे विवाद में नहीं फंसना चाहता। इस मामले का अंतिम फैसला जल्द ही लेंगे।