मैंने अपना वजन घटाया, कमजोरियों पर काम किया : शमी


नयी दिल्ली :   पिछले दो साल से एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेल पाने वाले तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी अब पूरी तरह फिट हैं और इंग्लैंड में एक जून से होने वाली चैंपियन्स ट्राफी में अपना दमदार प्रदर्शन करने के लिये तैयार हैं। शमी ने भारत की तरफ से आखिरी वनडे विश्व कप 2015 में खेला था और 50 ओवरों की क्रिकेट में यह उनके लिये नये सिरे से शुरूआत होगी। शमी ने चैंपियन्स ट्राफी की टीम में चुने जाने पर कहा, ”दो साल तक वनडे टीम से बाहर रहना लंबा समय होता है। इन दो वर्षों में मैंने अपनी ताकत और फिटनेस पर ध्यान दिया। मैंने अपनी कमजोरियों पर भी काम किया। मुझे उम्मीद है कि चैंपियन्स ट्राफी में मैं अच्छा प्रदर्शन करूंगा। मैं अपना सर्वश्रेष्ठ देना चाहता हूं।”

इंडियन प्रीमियर लीग में दिल्ली डेयरडेविल्स की तरफ से खेल रहे शमी का मानना है कि इस बड़े टूर्नामेंट से पहले मैच अभ्यास की दृष्टिकोण से आईपीएल काफी महत्व रखता है। उन्होंने कहा, ”आईपीएल मेरे लिये अच्छा मंच है जहां मुझे अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में जाने से पहले आठ से दस मैच खेलने का मौका मिलेगा।” शमी को विश्वास है कि भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव और जसप्रीत बुमराह और वह मिलकर अच्छा प्रदर्शन करने में सफल रहेंगे। उन्होंने कहा, ”हमारा आक्रमण दुनिया में सर्वश्रेष्ठ है। हमें मैदान पर एक दूसरे की मदद करने की जरूरत है। हम निश्चित तौर पर अपना शत प्रतिशत देंगे और बाकी भाज्ञ पर निर्भर है। मेरा ध्यान अब चैंपियन्स ट्राफी पर है।”

(भाषा)