कंगारुओं को सता रहा है विराट का डर


नई दिल्ली : सीमित ओवरों की सीरीज के लिए भारत पहुंच चुकी विश्व चैंपियन आस्ट्रेलियाई टीम को भारतीय कप्तान विराट कोहली का डर सता रहा है। आस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ ने पांच मैचों की वनडे सीरीज के 17 सितंबर को होने वाले पहले मैच के लिए चेन्नई पहुंचने के तुरंत बाद ही कहा कि उनकी टीम का पहला लक्ष्य भारतीय कप्तान को खामोश रखना होगा जो इस समय जबर्दस्त फार्म में चल रहे हैं। विराट ने श्रीलंका में हाल ही में समाप्त हुई पांच मैचों की वनडे सीरीज में 330 रन बनाए थे और सीरीज के आखिरी दो मैचों में शतक जड़े थे। उन्होंने एकमात्र ट्वेंटी-20 मैच में भी मैच विजयी अर्धशतक (82) बनाया था। विराट ने वनडे सीरीज के आखिरी मैच में शतक बनाने के साथ आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग के 30 शतकों की बराबरी कर ली थी। विराट के आगे अब वनडे में सचिन तेंदुलकर के 49 शतकों का विश्व रिकॉर्ड बचा है। भारतीय कप्तान के जबर्दस्त प्रदर्शन को देखते हुए स्मिथ ने चेन्नई में अभ्यास सत्र के बाद कहा, विराट का एकदिवसीय रिकॉर्ड गजब का है। हम उन्हें सीरीज में शांत रखने की भरपूर कोशिश करेंगे। यदि हम ऐसा कर पाते हैं तो हम इस दौरे में बेहतर प्रदर्शन कर पाएंगे।

28 वर्षीय विराट ने 194 वनडे में 55.75 के बेहतरीन औसत से 8587 रन बनाए हैं जिसमें 30 शतक और 44 अर्धशतक शामिल हैं। विराट 2017 में वनडे में 1000 रन पूरे करने वाले पहले बल्लेबाज हैं। उन्होंने इस साल अब तक 18 मैचों में 1017 रन बनाए हैं और उनका औसत 92.45 का है। उन्होंने इस साल चार शतक भी ठोके हैं। विराट का आस्ट्रेलिया के खिलाफ भी वनडे में शानदार रिकॉर्ड है। उन्होंने विश्व चैंपियन टीम के खिलाफ 23 मैचों में 55.66 के औसत और पांच शतकों की मदद से 1002 रन बनाए हैं। विराट ने पिछले वर्ष जनवरी में आस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबोर्न और कैनबरा में लगातार दो शतक (117 और 106) रन ठोके थे। श्रीलंका में विराट के जबर्दस्त प्रदर्शन को देखते हुए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने उन्हें मास्टर चेजर का खिताब भी दिया था। कप्तान के रूप में विराट का प्रदर्शन और भी विराट रूप लेता जा रहा है।

कप्तान रहते उन्होंने मात्र 35 मैचों में आठ शतक और नौ अर्धशतक जड़े हैं। इन 35 मैचों में उनका औसत 81.17 है और उन्होंने 1867 रन बनाए हैं। एक खिलाड़ी के रूप में विराट ने 159 मैचो में 6720 रन बनाए हैं और इन मैचो में उनका औसत 67.20 है जिसमें 22 शतक शामिल हैं। ये आंकड़े किसी भी विपक्षी टीम को खौफजदा करने के लिए काफी है। कंगारूओं ने विराट को रोकने के लिए कोई रणनीति बनाई है तो उस पर कोई हैरानी नहीं होनी चाहिए। इस साल के शुरु में जब भारत और आस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्टों की सीरीज खेली गई थी तो उसमें भी विराट की आक्रामकता मुखर रूप से सामने आई थी और इस सीरीज में भी किसी टकराव के आशंका से इन्कार नहीं किया जा सकता है। स्मिथ बंगलादेश में टेस्ट सीरीज 1-1 से ड्रा कराकर भारत पहुंचे हैं जबकि विराट ने श्रीलंका में 9-0 की क्लीन स्वीप की थी। दोनों टीमों के बीच मुकाबला बेहद कांटे का होगा।