हरमनप्रीत की प्राप्तियों ने सिख कौम का सम्मान बढ़ाया : सिरसा


चंडीगढ़ : दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डी.एस.जी. एम.सी.) ने भारतीय सिख महिला क्रिकेटर हरमनप्रीत कौर को सम्मानित करने का फैसला किया है, जिसने महिला वल्र्ड कप के सेमीफाइनल में आस्ट्रेलिया के विरुद्ध बेहतरीन बल्लेबाजी कर टीम को जीत दिलाई।
हरमनप्रीत कौर ने अपने जीवन की अब तक की बेहतरीन पारी खेली जिसकी बदौलत सेमीफाइनल में भारत ने आस्ट्रेलिया को 36 रन से हराकर आईसीसी महिला वल्र्ड कप के फाइनल में पहुंचाया।

हरमनप्रीत कज्ञैर ने 115 गेंदों में 7 छक्के तथा 20 चौकों की मदद से 171 रन बनाए। भारत द्वारा साउथ स्टार्स के खिलाफ अब तक का यह सबसे बड़ा स्कोर था, जबकि हरमनप्रीत कौर सबसे अधिक रन बनाने के मामले में व्यक्तिगत तौर पर दूसरे स्थान पर पहुंच गई है। दीप्ति शर्मा ने इस वर्ष की शुरूआत में साउथ अफ्रीका के खिलाफ नाबाद 188 रन बनाए थे। हरमनप्रीत कौर को बेहतरीन खेल की बधाई देते हुए दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के महासचिव मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि सारा देश विशेष तौर पर सिख भाईचारा उस पर सम्मान महसूस कर रहा है।

तथा उसकी प्राप्ति ने विश्व भर में सिख कौम का सम्मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि चाहे विश्व भर में में सिखों ने अपनी प्राप्तियों का लोहा मनवाया है, पर अब ऐसा समय आ गया है, जब सिख लड़कियां अपनी अलग पहचान उन क्षेत्रों में दर्ज कर रही है, जो कभी हमेशा पुरूषों के क्षेत्र माने जाते थे। उन्होंने कहा कि क्रिकेट के अलावा सिख लड़की परबिंदर कौर शेरगिल ने कनाडा में सुप्रीम कोर्ट की पहली दस्तार सजाने वाली महिला जज बनकर भाईचारे का सम्मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी ने हरमनप्रीत कौर के इंग्लैंड से लौटने पर उसका सम्मान करने का फैसला किया है।

– उमा शर्मा