मैच फिक्सिंग को रोकने के लिए ICC ने लगाई ये सख्त पाबंदिया , जानिए !


क्रिकेट मैच के दौरान अब खिलाड़ी, अंपायर, रेफरी और यहां तक कोई अन्य पदाधिकारी भी स्मार्ट वॉच पहन नहीं पाएंगे। आईसीसी (ICC) ने खेल में भ्रष्टाचार रोकने के लिए ऐसा कदम उठाया है। ICC ने कहा कि प्लेयर और मैच ऑफिशियल एरिया (PMOA) के अंदर संचार उपकरण पर रोक लगा दी गई है। किसी भी खिलाड़ी को अब स्मार्ट वाच के साथ-साथ इंटरनेट से जुड़ी किसी भी डिवाइस के इस्तेमाल की अनुमति नहीं होगी।

ICC ने एलान किया है कि अब मैच के दौरान खिलाड़ी स्मार्ट वॉच नहीं पहन सकते हैं। ICC ने शुक्रवार को मीडिया को दिए गए बयान में कहा कि, अब मैदान में खेल रहे खिलाड़ी स्मार्ट वॉच नहीं पहनेंगे। इसके साथ ही ICC ने यह भी कहा कि मैदान में खिलाड़ी किसी भी तरह का संचार का उपकरण नहीं ले जाएंगे यह बात ड्रेसिंग रूम के लिए भी लागू होगी।

आपको बता दें कि ICC ने यह कड़ा कदम क्रिकेट जगत में मैच फिक्सिंग के किसी भी तरह के आरोपों से बचने के लिए उठाया है।

ICC ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि अब खिलाड़ियों और मैच अधिकारियों के क्षेत्र दिशा निर्देशों के अंतर्गत आने वाले मैदान और पीएणओए के लिए बनाए गए क्षेत्र में अब स्मार्ट वॉच पहनने की अनुमति नहीं दी जाएगी। आपको बता दें कि इंग्लैंड के दौरे पर सीरीज के पहले टेस्ट के दौरान पाकिस्तानी खिलाड़ी मैदान में स्मार्ट वॉच पहन कर उतरे थे।

दरअसल, इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में खेले जा रहे पहले टेस्ट के पहले दिन पाकिस्तान के कई खिलाड़ी डिजिटल घड़ी पहनकर मैदान पर उतरे थे।

इस मामले में पाकिस्तान के दो खिलाड़ी आईसीसी की एंटी करप्शन यूनिट के निशाने पर आए थे। गुरुवार को असद शफीक और बाबर आजम स्मार्ट वॉच पहने नजर आए। इसी के बाद आईसीसी की एंटी करप्शन यूनिट के अधिकारी हरकत में आ गए थे।

मैच के दौरान किसी भी तरह के भ्रष्टाचार से निपटने के लिए खिलाड़ियों और मैच ऑफिशियल्स को अपने मोबाइल फोन और इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसमिशन में सक्षम उपकरण जमा कराने होते हैं। ऐसी सामग्रियां दिन के खेल के बाद उन्हें वापस मिल जाती हैं।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।