आईसीसी महिला विश्वकप 2017, क्या भारत रचेगा 1983 का इतिहास


महिला क्रिकेट विश्वकप 2017 का आज फाइनल मैच है जो कि लॉड्र्स में खेला जाना है। भारत और इंग्लैड के बीच यह फाइनल का मुकाबला खेला जाएगा। दोनों की टीम अपना अच्छा प्रदर्शन देखाईंगी और यह खिताब अपने नाम करने की पूरी कोशिश करेंगी।

बता दें कि भारत आईसीसी महिला विश्वकप के फाइनल में दूसरी बार पहुंची हैं। मिताली राज की यह भारतीय टीम की पूरी कोशिश होगी इस फाइनल मैच को जीतने की।

भारतीय टीम ने इस विश्व कप के टूर्नामेंट में बहुत ही अच्छा प्रदर्शन दिखाया है। भारतीय टीम ने सेमी फाइनल में ऑस्ट्रेलिया की टीम को अच्छी खासी चौतनी दी थी और उन्हें 36 रन से हरा कर फाइनल में प्रवेश किया है।

ऐसा कहा जा रहा है कि भारत की यह टीम मेजबान टीम इंग्लैंड को फाइनल में हरा देगा। भारत के लिए यह चुनौती जरूर होगी इंग्लैंड जैसी मजबूत टीम को हराने की क्योंकि इंग्लैंड ने सेमी फाइनल में द. अफ्रीका को हरा दिया था।

सेमी फाइनल में भारत की रिकॉर्ड शतकीय पारी खेली थी हरमनप्रीत कौर ने बता दें की हरमनप्रीत ने 171 नाबाद रन बनाए थे। हरमनप्रीत केफैन्स को उम्मीद होगी इस मैच में भी अच्छा प्रदर्शन करेंगी। हरमनप्रीत कौर भी यही चाहेंगी की वह इस मैच में भी अच्छा खेलें। भारतीय टीम कैसे खेलती हैं अपना फैइनल मैच वो तो आने वाला वक्त ही बताएगा। भारतीय टीम ने इस टूर्नामेंट में सारी ही विपक्षी टीमों को अपने जबरदस्त प्रदर्शन से हराया है।

आज के मैच में भारतीय महिला टीम की यही कोशिश रहेगी की वह इंग्लैंड को कम स्कोर पर ही रोक दे। भारत पहले बल्लेबाजी करता है तब भी भारत की यही कोशिश रहेगी की वह इंग्लैंड को बड़ा स्कोर दे।

लॉर्ड्स के मैदान को क्रिकेट का मक्का भी कहा जाता है, जहाँ ये दोनों ही टीमें आज विश्वकप 2017 के फाइनल में एक दूसरे के आमने-सामने होंगी। इंग्लैंड की कोशिश भी भारत के खिलाफ अपने शानदार प्रदर्शन को बरकरार रखने की होगी, वहीँ मेजबान टीम के सामने भी मजबूत मेहमान टीम की चुनौती होगी। अगर भारत इस विश्वकप के खिताब को जीतने में कामयाब होता है, तब यह भारत का पहला आईसीसी महिला क्रिकेट विश्वकप खिताब होगा।