हैमिल्टन : पहले चरण के फाइनल में मिली हार को भुलाते हुए भारतीय टीम चार देशों के आमंत्रण हाकी टूर्नामेंट के दूसरे चरण का आगाज कल मेजबान न्यूजीलैंड के खिलाफ करेगी ।  पहले चरण में भारत ने जापान को 6-0 से हराया लेकिन अगले मैच में बेल्जियम से 0-2 से हार गया ।  मेजबान न्यूजीलैंड को 3- 1 से हराने के बाद फाइनल में जगह बनाई । पूल चरण में भारत शीर्ष पर रहा जिसने नौ गोल किये और तीन गंवाये जबकि बेल्जियम ने दस गोल किये और छह गंवाये ।

भारत के मुख्य कोच शोर्ड मारिन ने पहले चरण में टीम के प्रदर्शन के बारे में कहा ,‘‘एक टीम के रूप में हमने मैच दर मैच अच्छा प्रदर्शन किया है । हमारे पास चार युवा खिलाड़ी थे जिन्होंने भारतीय टीम में पदार्पण किया और गोल भी दागे ।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ हम ओलंपिक रजत पदक विजेता बेल्जियम को हराने के करीब पहुंचे जिससे हमारा आत्मविश्वास काफी बढा ।’’ भारत फाइनल में बेल्जियम से 1-2 से हार गया लेकिन कोच के मुताबिक नतीजा सकारात्मक रहा ।

उन्होंने कहा ,‘‘ आपको समझना होगा कि बेल्जियम पूरी टीम लेकर आया है और वे दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक है । हमारे पास जो टीम है , उसके साथ उनका सामना करना बड़ा कदम रहा ।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ इस युवा टीम ने दुनिया की तीसरे नंबर की टीम के खिलाफ खेलने का आत्मविश्वास दिखाया जिससे बतौर कोच मेरे विकल्प बढे हैं ।’’ कोच ने यह भी कहा कि मौके गंवाने से उनकी टीम को खामियाजा भुगतना पड़ा ।

उन्होंने कहा ,‘‘ मेरे लिये सबसे अहम बात मौकों को गोल में बदलना था । हमने कई मौके बनाये लेकिन वे काफी नहीं थे । हमें और गोल करने होंगे ।’’ कप्तान मनप्रीत सिंह ने कहा कि टीम बेहतर प्रदर्शन को बेताब है । उन्होंने कहा ,‘‘बेल्जियम जैसी टीम के खिलाफ अच्छे प्रदर्शन् से भविष्य के लिये हौसला बढेगा लेकिन उनको हराना इन युवा खिलाड़ियों के लिये बहुत बड़ी बात होगा ।’’ उन्होंने कहा ,‘‘इसके लिये हमें कुछ क्षेत्रों में मेहनत करनी होगी और यह सुनिश्चित करना होगा कि हम गलतियों को ना दोहरायें ।’’

 

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।