पुणे : कावेरी विवाद के चलते घर बदल जाने के बाद चेन्नई सुपरकिंग आज अपने नये घरेलू मैदान में पहले मैच में राजस्थान रॉयल्स से भिड़ेगी जहां कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के सामने टीम को नयी परिस्थितयों के अनुकूल ढाल कर उसे विजय पथ पर आगे बढ़ने की चुनौती होगी। दो बार आईपीएल खिताब जीत चुकी चेन्नई फिलहाल तीन मैचों में दो जीत और एक हार के बाद चौथे नंबर पर है। दो वर्ष के निलंबन के बाद टूर्नामेंट में वापसी कर रही चेन्नई सुपरकिंग्स ने इस संस्करण में चेपॉक स्टेडियम में सिर्फ एक मैच खेल पायी थी। कावेरी विवाद के कारण अब बाकी के सभी घरेलू मैच वह पुणे में ही खेलेगी।

चेन्नई ने अभी तक टूर्नामेंट में बेहतरीन प्रदर्शन किया है लेकिन पंजाब के खिलाफ पिछले मैच में अच्छी बल्लेबाजी के बावजूद उसे हार का सामना करना पड़ा। वह 198 के लक्ष्य के सामने पांच विकेट पर 193 रन ही बना सकी। इस मुकाबले में धोनी ने सर्वश्रेष्ठ फिनिशर की अपनी प्रतिष्ठा के अनुरुप अहम भूमिका निभाते हुये 44 गेंदों में छह चौकों और पांच छक्कों की मदद से नाबाद 79 रन की लाजवाब पारी खेली थी पर उनके गेंदबाजों और अन्य बल्लेबाजों ने खासा निराश किया। नये मैदान में राजस्थान रायल्स के विरुद्ध धोनी को नयी रणनीति के साथ उतरना होगा।

दूसरी तरफ राजस्थान भी अपने चार मैचों में मात्र दो ही जीत सकी है। कप्तान अजिंक्या रहाणे के नेतृत्व में वह अपना पिछला मैच घरेलू जयपुर मैदान पर कोलकाता के खिलाफ सात विकेट से हारी थी। आगे बढ़ने के लिये राजस्थान को भी गेंदबाजी और बल्लेबाजी दोनों विभाग में प्रदर्शन बेहतर करना जरुरी है। बल्लेबाजों रहाणे, युवा संजू सैमसन, डी आर्की शॉर्ट, जोस बटलर और बेन स्टोक्स को अपने नाम के अनुरुप प्रदर्शन करना होगा। यही बात उसके गेंदबाजों में कृष्णप्पा गौतम, धवल कुलकर्णी, जयदेव उनादकट के लिये लागू होती है।

 

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।