इंदौर : उमेश यादव की अगुआई में गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के बाद तूफानी बल्लेबाजी से रायल चैलेंजर्स बेंगलूर ने इंडियन प्रीमियर लीग में आज यहां किंग्स इलेवन पंजाब को 10 विकेट से रौंदकर नाकआउट में जगह बनाने की उम्मीदों को जीवंत रखा। उमेश ने चार ओवर में 23 रन देकर तीन विकेट चटकाए। युजवेंद्र चहल (दो ओवर में छह रन पर एक विकेट), कोलिन डि ग्रैंडहोम (दो ओवर में आठ रन पर एक विकेट), मोहम्मद सिराज (तीन ओवर में 17 रन पर एक विकेट) और मोईन अली (2.1 ओवर में 13 रन पर एक विकेट) ने भी किफायती गेंदबाजी की जिससे पंजाब की टीम 15 .1 ओवर में ही 88 रन पर सिमट गई जो आईपीएल 2018 में किसी टीम का दूसरा सबसे कम स्कोर है। इससे पहले सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मुंबई इंडियन्स की टीम 87 रन पर आल आउट हो गई थी।

आरसीबी ने इसके जवाब में कप्तान विराट कोहली (28 गेंद में नाबाद 48, चार चौके, दो छक्के) और पार्थिव पटेल (22 गेंद में नाबाद 40, सात चौके) के बीच पहले विकेट की 92 रन की अटूट साझेदारी की बदौलत 71 गेंद शेष रहते बिना विकेट गंवाए 92 रन बनाकर बेहद आसान जीत दर्ज की। यह गेंद शेष रहते आईपीएल इतिहास की चौथे सबसे बड़ी जबकि आरसीबी की सबसे बड़ी जीत है। आरसीबी ने इससे पहले अप्रैल 2015 को दिल्ली डेयरडेविल्स को 57 गेंद शेष रहते 10 विकेट से हराया था। पंजाब का कोई बल्लेबाज 30 रन के आंकड़े को भी नहीं छू पाया। टीम की ओर से आरोन फिंच ने सर्वाधिक 26 रन बनाए। उनके अलावा सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल (21) और क्रिस गेल (18) ही दोहरे अंक में पहुंच पाए। पंजाब के तीन बल्लेबाज रन आउट भी हुए। इस जीत से आरसीबी के 12 मैचों में पांच जीत से 10 अंक हो गए हैं। पिछले छह मैचों में पांचवीं हार के बार किंग्स इलेवन की टीम के 12 मैचों में छह जीत से 12 अंक हैं।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे आरसीबी को कप्तान कोहली और पार्थिव की जोड़ी ने बेहतरीन शुरुआत दिलाई। पार्थिव ने रविचंद्रन अश्विन के पहले ओवर में चौके के बाद एंड्रयू टाइ पर भी लगातार दो चौके मारे। कोहली ने अंकित राजपूत का स्वागत छक्के और दो चौकों के साथ किया लेकिन इसी ओवर में मिड आफ पर उनका कैच भी छूटा। पार्थिव ने मोहित शर्मा पर तीन चौकों के साथ पांचवें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। कोहली ने टाइ की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का मारा जिससे टीम ने पावर प्ले में बिना विकेट गंवाए 66 रन जोड़े।  टीम को पावर प्ले के बाद बाकी बचे 14 ओवर में जीत के लिए सिर्फ 23 रन की जरूरत थी और उसे यह रन बनाने में कोई परेशानी नहीं हुई। कोहली अपनी इस पारी के दौरान मौजूदा सत्र में 500 रन के आंकड़े को पार करने में सफल रहे। वह आईपीएल के किसी सत्र में पांचवीं बार 500 या इससे अधिक बनाने में सफल रहे जो नया रिकार्ड है।

इससे पहले कोहली ने टास जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद उमेश ने टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई। उमेश के पहले ओवर में ही गेल भाग्यशाली रहे जब विकेटकीपर पार्थिव पटेल उनका कैच लपकने में नाकाम रहे। राहुल ने उमेश और टिम साउथी पर छक्के जड़े लेकिन इसके बावजूद टीम तीन ओवर में 14 रन ही बना सकी। गेल ने चौथे ओवर में साउथी पर तीन चौकों के साथ तेवर दिखाए। राहुल ने उमेश पर एक और छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद पर बाउंड्री में डि ग्रैंडहोम ने उनका शानदार कैच लपका। उन्होंने 15 गेंद में तीन छक्कों की मदद से 21 रन बनाए। गेल भी इसी ओवर में उमेश की गेंद को हवा में लहराकर मिडविकेट बाउंड्री पर मोहम्मद सिराज को कैच दे बैठे जिससे टीम का स्कोर दो विकेट पर 41 रन हो गया। गेल ने 14 गेंद में 18 रन की पारी खेली। सिराज ने करूण नायर को अगले ओवर में स्लिप में कोहली के हाथों कैच करा पंजाब को तीसरा झटका दिया।

पंजाब की टीम ने पावर प्ले में तीन विकेट पर 47 रन बनाए। अगले ओवर में युजवेंद्र चहल ने सीधी गेंद पर मार्कस स्टोइनिस (02) को बोल्ड करके पंजाब का स्कोर चार विकेट पर 50 रन किया। पंजाब की टीम ने इस बीच 15 गेंद में नौ रन जोड़कर चार विकेट गंवाए। आरोन फिंच ने सिराज पर छक्का जड़ा लेकिन डि ग्रैंडहोम ने मयंक अग्रवाल (02) को विकेट के पीछे कैच करा दिया। फिंच ने मोईन अली का स्वागत छक्के के साथ किया लेकिन इसी ओवर में कोहली को कैच दे बैठे। अगली गेंद पर कप्तान रविचंद्रन अश्विन भी रन आउट हो गए। उमेश ने एंड्रयू टाइ (00) को विकेटकीपर पार्थिव के हाथों कैच कराके टीम का स्कोर आठ विकेट पर 79 किया। मोहित शर्मा (03) और अंकित राजपूत (01) के रन आउट होने के साथ पंजाब की पारी का अंत हुआ। टीम ने अंतिम पांच विकेट सिर्फ 10 रन जोड़कर गंवाए।