2018 में एशियाई-राष्ट्रमंडल खेलों में पदक लक्ष्य : साइना


Saina Nehwal

नई दिल्ली: पूर्व ओलम्पिक कांस्य पदक विजेता साइना नेहवाल ने कहा है कि इस समय वह मैचों से ज्यादा अपनी फिटनेस पर ध्यान दे रही हैं ताकि अगले साल होने वाले एशियाई और राष्ट्रमंडल खेलों में पदक जीत सकें। साइना को पिछले साल रियो ओलम्पिक की निराशा के बाद घुटने की सर्जरी से भी गुजरना पड़ा था। लेकिन प्रतिभाशाली इस खिलाड़ी ने कमाल की वापसी की और गत माह नवंबर में नागपुर में ओलंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधू को पराजित कर राष्ट्रीय चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया था।

साइना ने यहां प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के 23 दिसंबर से शुरु होने वाले तीसरे संस्करण के उद्घाटन कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से कहा कि मेरा अगला लक्ष्य एशियाई और राष्ट्रमंडल खेलों में पदक जीतना है, इसके लिए मैं शत-प्रतिशत फिट रहना चाहती हूं। मेरे लिए यह लीग एक सामान्य टूर्नामेंट है और मैं इसमें अपना स्वभाविक खेल खेलूंगी।2012 के लंदन ओलंपिक पदक विजेता साइना ने नौ साल बाद जाकर गत माह नवंबर में राष्ट्रीय चैंपियनशिप का खिताब जीता था।

उन्होंने इस वर्ष मलेशिया मास्टर्स का भी खिताब अपने नाम किया था। सायना 2010 में दिल्ली में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में उपविजेता रही थीं। पूर्व नंबर एक साइना ने कहा कि मैं मैच से ज्यादा अपनी फिटनेस को प्राथमिकता दे रही हूं। कई टूर्नामेंट में ऐसा हुआ है कि मेरे फिटनेस का असर मेरे खेल पर पड़ा है। अगले वर्ष बहुत सारे मैच होने हैं और इसके लिए खुद को पूरे सत्र में फिट रखना काफी चुनौतीपूर्ण काम है। अगर आप शत-प्रतिशत फिट रहते हैं तो किसी भी टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए यहाँ क्लिक करें।