नई दिल्ली : उत्तराखंड के अनु कुमार ने खेलो इंडिया स्कूल गेम्स के एथलेटिक कार्यक्रम के पहले दिन बुधवार को पहला स्वर्ण पदक जीत लिया जबकि 6 स्वर्ण पदकों में से 2 तमिलनाडु ने जीते। जवाहर लाल नेहरु स्टेडियम में आयोजित दौड़ में तमिलनाडु के एथलीटों ने 2 स्वर्ण पदक जीते। शेष उत्तराखंड, केरल, उत्तर प्रदेश और हरियाणा की झोली में गए। अनु ने स्पोर्टस कॉलेज रायपुर में प्रशिक्षण हासिल किया है और वह फ्रांस में आयोजित वर्ल्ड स्कूल गेम्स में 800 मीटर की दौड़ में भारत के लिए रजत पदक जीत चुका है। उसने 1500 मीटर का फाइनल आराम से 4:04.77 सेकंड में पूरा किया।

अनु ने फ्रांस में 800 मीटर की दौड़ 1:53.53 सेकंड में पूरी कर रजत पदक प्राप्त किया था। अनु ने 800-1500 मीटर में डबल का लक्ष्य रखा। अनु ने तमिलनाडु के बी. मथेश और उत्तर प्रदेश के संदीप कुमार को पीछे छोड़ते हुए अपना दबदबा बनाए रखा। तमिलनाडु ने रजत और उत्तर प्रदेश ने कांस्य पदक हासिल किया। लड़कियों की 1500 मीटर दौड़ में गुजरात की कथीरिया श्रद्धा ने सबसे पहले यह दूरी तय की लेकिन एक अन्य टीम द्वारा विरोध करने के बाद उन्हें अयोग्य घोषित कर दिया गया, क्योंकि जजों ने पाया कि अंतिम चरण में वह गलत तरीके से अपनी सहयोगी से आगे बढ़ गई थी।

जजों ने केरल की सी. चनथीनी को स्वर्ण पदक देने की घोषणा की जिसने 4:50.81 सेकड़ में यह दूरी तय की। लड़कों की गोला फेंक स्पर्धा में और ट्रिपल जम्प में अच्छा प्रदर्शन देखने को मिला। उत्तर प्रदेश के अभिषेक सिंह ने 18.73 मीटर दूरी तक गोला फेंक करके यह स्पर्धा जीती, जबकि तमिलनाडु के सी. प्रवीण ने छठे प्रयास में 15.22 मीटर कूद कर ट्रिपल जम्प स्पर्धा जीती। अभिषेक सिंह ने चार बार 18 मीटर से ज्यादा दूरी तक सफलतापूर्वक गोला फेंका और उनकी सर्वश्रेष्ठ दूरी 18.73 मीटर रही जिसने उन्हें स्वर्ण पदक दिलाया।

अधिक जानकारियों के लिए बने रहिये पंजाब केसरी के साथ।