राठौड़ ने युवा मुक्केबाजों के लिए छह लाख 70 हजार रुपये के नकद पुरस्कार की घोषणा की


rajyevardhan

नई दिल्ली : खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने हाल में संपन्न युवा महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली सभी मुक्केबाजों के लिए आज छह लाख 70 हजार रुपये के नकद पुरस्कार की घोषणा की। भारतीय जूनियर महिला मुक्केबाजों ने पांच स्वर्ण और दो कांस्य पदक जीते और गुवाहाटी में हुई इस प्रतियोगिता में टीम चैंपियन बने।

भारतीय मुक्केबाजी महासंघ द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में राठौड़ ने कहा, आप लड़कियों ने यह धारणा बदल दी कि लड़कियां कुछ खेलों में ही हिस्सा ले सकती हैं। यह धारणा खत्म होनी चाहिए। कोई भी किसी भी चीज में हिस्सा ले सकता है। राठौड़ ने कहा, मुझे पता है कि खेलने और ट्रेनिंग के लिए आपको कितनी समस्याओं का सामना करना पड़ता होगा और यही कारण है कि आप सभी देश के लोगों और लड़कियों के लिए प्रेरणा हैं। आपकी कहानियां सुनाए जाने की जरूत है जिससे कि लड़कियां इसे सुने और इनसे खेलने के लिए प्रेरित हों।ओलंपिक रजत पदक विजेता राठौड़ ने कहा कि उनका मंत्रालय प्रत्येक खेल के लिए मुख्य कार्यकारी अधिकारी और हाई परफोमे’स मैनेजरों की नियुक्ति करके मौजूदा ढांचे में आमूलचूल बदलाव लाने पर काम कर रहा है।

उन्होंने कहा, हम लक्ष्य ओलंपिक पोडियम योजना में बदलाव करेंगे। प्रत्येक खेल में अब सीईओ और हाई परफोमे’स मैनेजर होंगे। इन मैनेजर का काम यह सुनिश्चित करना होगा कि खिलाडय़रों को प्रत्येक खेल के लिए बेहतर ट्रेनिंग मिले और उन्हें किस टूर्नामेंट में हिस्सा लेना है यह तय करें। राठौड़ ने कहा, सीईओ साजो सामान से जुड़ चीजों को देखेंगे- कहां खिलाडय़रों को खेल विज्ञान, खेल मेडिसिन की जरूरत है। इन सभी चीजों को देखने की जिम्मेदारी इन दोनों पर होगी। पारदर्शिता की जरूरत पर बल देते हुए राठौड़ ने सभी खेल महासंघों से अपील की कि वे अपनी बेवसाइट पर कोष की विस्तृत जानकारी साझा करें।

लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक करें।