कप्तानी की चुनौती से निपटने के लिए तैयार : अश्विन 


नयी दिल्ली : किंग्स इलेवन पंजाब के नये कप्तान रविचन्द्रन अश्विन ने आज यहां कहा कि टीम की बागडोर संभालना एक चुनौती है और वह इससे निपटने के लिए तैयार हैं। अश्विन यहां टीम के क्रिकेट परिचालन निदेशक वीरेन्द्र सहवाग के साथ आगामी सत्र के लिए टीम की जर्सी लॉन्च करने यहां पहुंचे थे। जर्सी पिछली बार की तरह लाल और सिल्वर रंग की है जिस पर प्रायोजक केंट ‘आर ओ’ का लोगो है आईपीएल के 11वें सत्र में टीम क्रिस गेल, युवराज सिंह, करूण नायर, लोकेश राहुल जैसे नये खिलाड़ियों और नये कोच ब्रैड हॉज के साथ उतर रही है। अश्विन ने यहां इस मौके पर ‘प्रेस कांफ्रेंस’ में कहा, ‘‘ मैं इस टीम को पिछले कई वर्षों से देख रहा हूं और कह सकता हूं कि इस बार हमसे ज्यादा उम्मीदें हैं। टीम की कप्तानी संभालना मेरे लिये गर्व और जिम्मेदारी की बात है। मुझे उम्मीद है कि मैं प्रशंसकों और टीम मालिकों की उम्मीदों पर खरा उतरुंगा।’’

अपनी पूर्व टीम चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी से कप्तानी के गुर सीखने के बारे में पूछे जाने पर अश्विन ने कहा, ‘‘ मैं कई खिलाड़ियों की कप्तानी में खेला हूं। मैं वीरू (सहवाग) की कप्तानी में खेला हूं। मैं यह सुनिश्चित करने की कोशिश करूंगा की रणनीतिक तौर पर आगे रहूं।’’ तमिलनाडु को 2008-09 में अपनी कप्तानी में विजय हजारे ट्राफी का खिताब दिलाने वाले अश्विन ने कहा, ‘‘ जब मैं पहली बार राज्य टीम का कप्तान बना, तब मेरी उम्र सिर्फ 20 साल थी। ज्यादातर खिलाड़ी आईसीएल खेलने गये थे और कोच को मुझेमें कुछ दिखा जिससे उन्होंने मुझे कप्तानी करने को कहा। वो मेरे लिए नया अनुभव था लेकिन अब मैं काफी परिपक्व हो गया हूं। कप्तानी में मेरा रिकार्ड ठीक-ठाक है लेकिन मैं पहली बार टी20 टीम की कप्तानी कर रहा हूं। ’’

आईपीएल में 111 मैचों में 100 विकेट लेने वाले अश्विन ने कहा, ‘‘शुरूआती दिनों में चैलेन्जर ट्राफी में मैं युवराज की कप्तानी में खेला। मैं आज जो भी हूं, उनका मुझ पर गहरा प्रभाव है। ’’ इस मौके पर सहवाग ने कहा कि गेंदबाज कप्तानी के लिये बल्लेबाज से ज्यादा सफल हो सकते हैं और अश्विन की कप्तानी में टीम पहली बार चैम्पियन बन सकती है। उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे ऐसा लगता है गेंदबाज मैच में जीत दिलाने में ज्यादा मदद करता है। गेंदबाज के सोचने के तरीका दूसरा होता है, वह दूसरे गेंदबाजों को मैदान में योजना लागू करने में भी मदद कर सकता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ मैं कपिल देव और इमरान खान की कप्तानी का बहुत बड़ा फैन हूं, इसमें वसीम अकरम भी शामिल है। कपिल और इमरान ने अपने देश को विश्व कप का विजेता बनाया। वसिम अकरम और वकार युनूस विश्व कप के फाइनल तक खेले तो इसलिए मुझे लगता है गेंदबाज अच्छी योजना बना सकता है।’’

सहवाग ने कहा, ‘‘ गेल और युवराज का बेस प्राइज में ही टीम के साथ में जुड़ना हमारे लिए अच्छी बात है। अगर दूसरी फ्रेंचाइजी उन पर बोली लगाती तो उनकी कीमत ज्यादा हो सकती थी। वे मैच विजेता खिलाड़ी हैं, अगर अपने दम पर दो या तीन मैच में भी टीम को जीत दिला देते हैं तो हमारे पैसे वसूल हो जाएंगे।’’ सहवाग ने उम्मीद जतायी की उनकी टीम इस बार काफी मजबूत है और चैम्पियन बन सकती है क्योंकि इस बार टीम में भारतीय टीम में खेलने वाले कई खिलाड़ी हैं।

उन्होंने मुस्कुराते हुए कहा, ‘‘ उम्मीद है कि हमने इतने सारे पैसे खर्च कर जो टीम बनाई है वह मैदान में कमाल करेगी। पिछले कुछ सत्र में हमारी टीम में अच्छे भारतीय खिलाड़ी नहीं थे। सिर्फ अक्षर पटेल और ऋद्धिमान साहा ही भारतीय टीम से खेलने वाले खिलाड़ी थे। आईपीएल जीतने के लिए टीम में चार-पांच ऐसे खिलाड़ी चाहिए जो भारतीय टीम का हिस्सा हों और इस बार हमारे साथ ऐसा ही है। टीम के खिलाड़ियों पास काफी अनुभव है। ये टीम अब तक की पंजाब की सबसे मजबूत टीम है।’’ आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब अपने अभियान की शुरूआत आठ अप्रैल को दिल्ली में दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ करेगी।

अधिक जानकारियों के लिए यहाँ क्लिक करें।