भारतीय महिला क्रिकेट टीम की तूफानी बल्लेबाज Smriti Mandhana के एक बयान ने श्रीलंका के दिग्गज खिलाड़ी को बहुत ही खुशी दे दी है। आईसीसी महिला विश्वकप के दो मैचों में तूफानी बल्लेबाजी की थी।

Smriti Mandhana

आईसीसी महिला विश्वकप में स्मृति मंधाना ने जबरदस्त बल्लेबाजी करके क्रिकेट फैन्स को अपना दीवाना बना लिया है।

Smriti Mandhana

Smriti Mandhana इस क्रिकेटर को मानती हैं आदर्श

Smriti Mandhana

लेकिन क्या आपको पता है कि भारतीय महिला क्रिकेट टीम की इस धाकड़ बल्लेबाज का आदर्श कौन है? इस बारे में Smriti Mandhana ने खुद अपने एक इंटरव्यू में बताया था कि वह पूर्व श्रीलंकाई क्रिकेटर कुमार संगकारा को अपना आदर्श मानती हूं।

कुमार संगकारा की वीडियो देखती हैं  Smriti Mandhana

Smriti Mandhana, Kumar Sangakkara

Smriti Mandhana ने अपनी बल्लेबाजी को ओर भी अच्छा बनाने के पीछे संगकारा की बल्लेबाजी को बताया है। स्मृति का कहना है कि, “मैं जब भी अपनी बल्लेबाजी तकनीक को सुधारने का प्रयास करती हूँ तो मैं कुमार संगकारा के बल्लेबाजी वीडियोज देख लेती हूँ, जिससे मुझे सीखने को बहुत कुछ मिलता है।”

कुमार संगकारा ने दी Smriti Mandhana को शुभकामनाएं

Smriti Mandhana, Kumar Sangakkara

जब श्रीलंकाई क्रिकेटर कुमार संगकारा को यह पता चला कि Smriti Mandhana उन्हें अपना आदर्श मानती हैं तो महान बल्लेबाज ने भी स्मृति को धन्यवाद बोला। कुमार संगकारा ने कहा कि, “मैं बहुत खुश और सौभग्यशाली हूँ। एक उभरते युवा खिलाड़ी ने मुझे इस प्रकार का सम्मान दिया है। मैं उनका आभारी हूँ और उन्हें भविष्य के लिए शुभकामनाएं देता हूँ।”

कुमार संगकारा की बैटिंग स्टाइल की फैन हैं Smriti Mandhana

Kumar Sangakkara

इससे पहले भी Smriti Mandhana ने कई बार बताया है कि जब भी वह बल्लेबाजी में संघर्ष करती हैं तो वह कुमार संगकारा की बल्लेबाजी की वीडियोज देखती हैं। मंधाना को संगकारा की बैटिंग स्टाइल बहुत पंसद हैं। यही वजह है कि वह कुमार संगकारा को अपना आदर्श मानती हैं।

Smriti Mandhana

आईसीसी महिला विश्वकप में भारतीय क्रिकेट टीम ने किया था अच्छा प्रदर्शन

Indian Cricket Team

आईसीसी महिला विश्वकप में भारतीय टीम ने जबरदस्त प्रदर्शन करके सबको ही अपना दीवाना बना दिया है। इस विश्वकप मे महिला क्रिकेट टीम फाइनल में जरूर आई थी लेकिन वह फाइनल जीत नहीं पाई थी।

फाइनल में इंग्लैंड से हार का सामना करना पड़ा था भारत को

भारतीय महिला क्रिकेट टीम के सारी ही खिलाडिय़ों के जबरदस्त प्रदर्शन की वजह से भारत आईसीसी महिला विश्वकप में दूसरी बार फाइनल में पहुंचा था। हालांकि वह इंग्लैंड से फाइनल में 9 रनों से हार का गया था।