भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने हालिया टीम के ओपनर बल्लेबाज K. L. Rahul के लगातार खराब प्रदर्शन को लेकर एक बार फिर से कई सवाल खड़े हो चुके हैं। सुनील गावस्कर ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि अगर राहुल पहले मैच की दूसरी पारी में भी रन नहीं बना पाते हैं तो उन्हें टीम से बाहर कर देना चाहिए।

एडिलेड टेस्ट की पहली पारी में नहीं चले K. L. Rahul

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच में चार मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच एडिलेड ओवल में खेला जा रहा है। इस सीरीज के पहले टेस्ट के पहले दिन भारतीय पारी की शुरूआत करने K. L. Rahul उतरे थे और वह दूसरे ही ओवरी की आखिरी गेंद पर महज 2 रन बनाकर आउट हो गए थे।

 केएल राहुल ने अपनी पारी में महज 8 गेंदों का ही सामना किया था। राहुल जोश हेजलवुड की ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंद को छेडऩे के चक्कर में अपना विकेट गंवा बैठे थे। थर्ड स्लिप में खड़े एरोन फिंच ने केएल राहुल का कैच पकड़ लिया था।

गावस्कर ने K. L. Rahul को बाहर करने की दी सलाह

इस मैच में K. L. Rahul की इस तरह की पारी के बाद सुनील गावस्कर ने कहा, ‘अगर केएल राहुल मैच की दूसरी पारी में भी रन बनाने में असफल रहते हैं तो उन्हें टीम से बाहर कर देना चाहिए क्योंकि इस खिलाड़ी में आत्मविश्वास की कमी है। राहुल लगातार एक्रास द लाइन खेलने की कोशिश कर रहे हैं। इंग्लैंड दौरे पर लगातार खराब खेलने के बाद भी राहुल ने अपनी गलतियां नहीं सुधारी हैं।

सुनील गावस्कर ने आगे कहा, ‘लाल गेंद का क्रिकेट एक अलग तरह का क्रिकेट है और केएल राहुल जिस तरह के शॉट खेलकर आउट हो रहे हैं वो सभी सफेद गेंद के शॉट हैं। टेस्ट में राहुल की बल्लेबाजी में कई टेक्निकल कमियां भी नजर आ रही हैं।’

इसी बीच जब गावस्कर से पूछा गया कि केएल राहुल की जगह जिसे मौका दिया जा सकता है, तो उन्होंने मयंक अग्रवाल का नाम लिया है। गावस्कर ने कहा ऑस्ट्रेलिया में बेशक 18 खिलाडिय़ों का दल गया है, लेकिन उनमें से महज 13 को ही मैच खेलने का मौका मिलेगा। बाकी पांच खिलाड़ी नेट बॉलर बनकर वापस आ जाएंगे।