आईपीएल 2018 में सबसे फायदे में रही कोलकाता नाइटराइडर्स वही बाकी कई टीमों को नहीं हुआ फायदा।


आईपीएल 11 सारे ही सीजन का सबसे रोमांचक मुकाबलों वाला रहा है। आईपीएल में ऐसा इसलिए रहा क्योंकि टीमों के बीच में बहुत ही कम अंतर रहा था। अगर हम ऑक्शन में किए गए खर्च और प्रदर्शन के आधार पर रिटर्न की बात करें तो इसमें मुकाबला कतई नजदीकी नहीं है।

खबरों की मानें तो इस आईपीएल में कोलकाता नाइटराइडर्स की टीम अपनी लागत के हिसाब से बहुत ज्यादा फायदे में रही है। तो वहीं इस सीजन में सबसे ज्यादा घाटे में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु रही है। मुंबई इंडियंस के मयंक मार्कंडेय की किमत 20 लाख थी लेकिन उन्होंने प्रदर्शन 6.38 करोड़ का किया।

अगर लागत के हिसाब से देखें तो सबसे ज्यादा फायदा और घाटा देने में मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी रहे है। मुंबई इंडियंस ने मयंक मार्कंडेय को 20 लाख रुपए में खरीदा था। लेकिन मंयक ने आईपीएल में 6.38 करोड़ रुपए का प्रदर्शन किया था।

मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने 3.88 करोड़ रुपए का बराबर ही प्रदर्शन किया है। खबरों के अनुसार आईपीएल 11 में पूरे 9 खिलाडिय़ों ने 10 करोड़ रुपए या इससे ज्यादा वैल्यू का प्रदर्शन किया है। इस साल सबसे ज्यादा आगे सुनील नरेन रहे है।

सुनील नरेन ने आईपीएल के इस साल 14.59 करोड़ रुपए के बराबर का प्रदर्शन किया है। अगर सुनील नरेन के अलावा बात करें तो ऋषभ पंत की लागत 8 करोड़ लेकिन प्रदर्शन 12.11 करोड़ किया है। राशिद खान की लागत 9 करोड़ लेकिन प्रदर्शन 11.92 करोड़ किया है। शेन वाटसन की लागत 4 करोड़ लेकिन प्रदर्र्शन 11.06 करोड़ किया है। आंद्रे रसेल की लागत 7 करोड़ लेकिन प्रदर्शन 10.74 करोड़ किया है।

केन विलियम्सन की लागत 3 करोड़ लेकिन प्रदर्र्शन 10.68 करोड़ किया है। लोकेश राहुल की लागत 11 करोड़, प्रदर्र्शन 10.65 करोड़ तो वहीं आंद्रे टाई की लागत 7.20 करोड़, प्रदर्शन 10.64 करोड़ और हार्दिक पंड्या की लागत 11 करोड़, प्रदर्शन 10.50 करोड़ इन सभी खिलाडिय़ों ने 10 करोड़ से ज्यादा रुपए का प्रदर्शन किया है।

आईपीएल में बल्लेबाजों के रनों के ओवरऑल स्ट्राइक रेट और गेंदबाजों के विकेट को ऑवरऑल इकोनॉमी रेट से एडजस्ट किया गया है। बता दें कि इस साल आईपीएल सीजन का स्ट्राइक रेट 137.92 रहा है। तो वहीं इसी सीजन की इकोनॉमी रेट 8.92 रही है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जिन बल्लेबाजों का स्ट्राइक रेट और गेंदबाजों की इकोनॉमी अच्छी रही है उन सभी को ही आईपीएल में फायदा हुआ है। अगर इस साल आईपीएल में रनों की बात करें तो कुल 19908 रन बने तो वहीं गेंदबाजों ने 662 विकेट लिए। इस आईपीएल में टीमों ने 551 करोड़ रुपए खर्च किए थे।

बात दें कि आईपीएल में एक रन के 1 लाख, 44 हजार, 734 रुपए रहा है। तो वहीं एक विकेट के 41 लाख, 75 हजार, 432 रुपए का रहा है। अगर कोलकाता नाईटराइडर्स के सुनील नरेन की बात करें तो इस साल उन्होंने आईपीएल में 357 रन बनाए हैं। सुनील का स्ट्राइक रेट 189.89 रहा है। एडजस्मेंट करने के बाद सुनील के रन 478 हो जाते हैं।

सुनील के बतौर बल्लेबाज 6.91 करोड़ रुपए का प्रदर्शन किया है। नरेन ने आईपीएल में 7.65 की इकोनॉमी रेट से 17 विकेट लिए हैं। एडजस्टमेंट करने के बाद उनकी विकेट 18.4 होतें हैं।

सुनील का बतौर गेंदबाज 7.67 करोड़ के बराबर का प्रदर्शन रहा है। तो इस हिसाब से नरेन का कुल प्रदर्शन 14.59 करोड़ रुपए का रहा है। नरेन का केकेआर ने 8.50 करोड़ रुपए खर्च किया है। इस हिसाब से उन्होंने टीम को 6.09 करोड़ रुपए का फायदा दिया है।

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये की पंजाब केसरी अन्य रिपोर्ट