140 साल के टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में इस टीम ने बनाया जानबूझ कर प्रदूषण का मुद्दा


cricket Team

भारत और श्रीलंका के बीच टेस्ट सीरीज का तीसरा टेस्ट खेला जा रहा है। इस तीसरे टेस्ट के दौरान एक ऐसी शर्मनाक स्थिति बन गई जिसके बारे में कोई सोच भी नहीं सकता है। प्रदूषण के कारण वायु गुणवत्ता खराब हो रही थी तो तब लंच के बाद कई बार खेल रोकना पड़ा था। जिसकी वजह से भारत के कप्तान विराट कोहली ने पारी को घोषित करने पर मजबूर होना पड़ा और उन्होंने पारी को घोषित भी कर दिया।

बता दें कि यह 140 साल के टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में ऐसी घटना पहली बार हुई है। जब अंतरराष्ट्रीय टीम को प्रदूष्ण की वजह से टीम को मास्क पहनकर खेल खेलना पड़ा हो और फिर तो उन्होंने खेल जारी रखने से इंकार ही कर दिया हो। इसकी वजह से मैच को लंच के बाद 3 बार रोका गया। फिरोजशाह कोटला में जो फैंस मैच देखने आए थे उन्होंने श्रीलकाई खिलाडिय़ों को ‘लूजर, लूजर’ कहकर इस तरह से उनकी आलोचना करना शुरू कर दिया था।

जब भारतीय टीम फील्डिंग करने के लिए मैदान में उतरी थी तो एक भी खिलाड़ी ने मास्क नहीं पहन रखा था। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार दिल्ली की हवा की गुणवत्ता बहुत ही खराब करार दिया है। सीपीसीबी के अनुसार इस तरह की हवा में लंबे समय तक रहने से सांस की परेशानियों को बढ़ा सकती है। इसमें मुख्य प्रदूष्ण पीएम 2.5 और पीएम 10 हैं। ये इतने सूक्ष्म कण हैं कि ये मनुष्य के बाल की मोटाई को भी 30 गुना कम कर देती है।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।