नई दिल्ली : दुनिया के दो सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों विराट कोहली और एबी डिविलियर्स की रोमांचक अर्धशतकीय पारियों से राॅयल चैलेंजर्स बेंगलूर ने यहां दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ अपना दबदबा कायम रखकर पांच विकेट की जीत से आईपीएल-11 के प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी धुंधली उम्मीदों को बरकरार रखा। कोहली ने अपने घरेलू मैदान फिरोजशाह कोटला मैदान पर 40 गेंदों पर 70 रन बनाये जिसमें सात चौके और तीन छक्के शामिल हैं। डिविलियर्स ने 37 गेंदों पर चार चौकों और छह छक्कों की मदद से नाबाद 72 रन बनाये। इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिये 118 रन जोड़े। बेंगलूर ने 19 ओवर में पांच विकेट पर पांच विकेट पर 187 रन बनाकर जीत दर्ज की दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर चार विकेट पर 181 रन बनाये थे।

उसकी तरफ से ऋषभ पंत (34 गेंदों पर 61 रन) और कप्तान श्रेयस अय्यर (35 गेंदों पर 32 रन) ने तीसरे विकेट के लिये 62 गेंदों पर 93 रन जोड़कर अपनी टीम को शुरूआती झटकों से उबारा। सत्रह वर्षीय अभिषेक ने 19 गेंदों पर तीन चौकों और चार छक्कों की मदद से नाबाद 46 रन बनाये और विजय शंकर (19 गेंदों पर नाबाद 20 रन) के साथ पांचवें विकेट के लिये 61 रन की अटूट साझेदारी की। दिल्ली प्लेआफ की दौड़ से पहले ही बाहर हो चुकी है। उसकी यह 12 मैचों में नौंवी हार है। बेंगलूर ने 11वें मैच में चौथी जीत दर्ज की। उसके अब आठ अंक हो गये हैं और अगर-मगर के जरिये उसकी प्लेऑफ में पहुंचने की संभावना बनी हुई है। बेंगलूर की दिल्ली पर 2016 से लेकर यह लगातार पांचवीं जीत है।

दिल्ली की तरह बेंगलूर के भी दोनों सलामी बल्लेबाज तीसरे ओवर तक पवेलियन में विराजमान थे। नेपाल के पहले आईपीएल क्रिकेटर बने लेग स्पिनर संदीप लेमिचाने ने दिल्ली की तरफ से गेंदबाजी की शुरूआत की और अपनी विविधता भरी गेंदबाजी से काफी प्रभाव छोड़ा। उन्होंने चार ओवर में 25 रन देकर पार्थिव पटेल (छह) के रूप में अपना पहला टी20 विकेट भी लिया। इससे पहले ट्रेंट बोल्ट ने मोईन अली (एक) को आउट किया था। कोहली दिल्ली के अपने प्रशंसकों को पूरा आनंदित करने के मूड में आये थे। दर्शकों का भी उन्हें भरपूर समर्थन मिल रहा था।

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ।