भारतीय क्रिकेट टीम के प्रमुख कोच रवि शास्त्री ने भरोसा जताया है कि कप्तान विराट कोहली के नेतृत्व वाली टीम में किसी भी मैदान और विपक्षी टीम के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन करने की क्षमता है और वह इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज करेगी। भारतीय टीम जहां अपने मैदान पर हमेशा शानदार प्रदर्शन करती है उसका विदेशी जमीन पर प्रदर्शन आलोचनाओं के घेरे में रहता है। भारत ने वर्ष 2014 की शुरूआत से अब तक विदेशी मैदान पर 25 टेस्टों में केवल नौ में ही जीत दर्ज की है जिसमें पांच उसने श्रीलंका और दो वेस्टइंडीज से जीते हैं।  विराट के नेतृत्व में भारत अपनी चुनौतीपूर्ण दक्षिण अफ्रीका दौरे में भी तीन मैचों की टेस्ट सीरीज 1-2 से हार गयी थी।

india test vs sa के लिए इमेज परिणाम

ऐसे में अच्छी फार्म में चल रही इंग्लैंड के खिलाफ एक अगस्त से शुरू होने जा रही पांच टेस्टों की लंबी सीरीज को और भी मुश्किल माना जा रहा है। पूर्व क्रिकेटर एवं कोच शास्त्री ने हालांकि भरोसा जताया है कि मौजूदा भारतीय टीम में बड़े उलटफेर की क्षमता है और विराट के नेतृत्व में टीम जीतने की ताकत रखती है। उन्होंने कहा’ हमारे लिये सबसे बड़ी चुनौती विदेशी जमीन पर टेस्ट प्रारूप में निरंतर अच्छा प्रदर्शन करने की है। हमारा मानना है कि भारत में विदेशी मैदान पर खुद को सर्वश्रेष्ठ टीम साबित करने की क्षमता है। मौजूदा समय में कोई भी टीम विदेशी जमीन पर निरंतर नहीं खेलती है। श्रीलंका में अभी दक्षिण अफ्रीका का जो हाल हुआ वह काफी चौंकाने वाला रहा। लेकिन हम इंग्लैंड में अपने पिछले प्रदर्शन को जानते हैं और आगे अच्छा करने का प्रयास करेंगे।’

india test vs sa के लिए इमेज परिणाम

भारत और इंग्लैंड एजबस्टन में बुधवार से सीरीज के पहले मैच के लिये उतरेंगे। सीरीज को लेकर शास्त्री ने कहा कि भारतीय टीम के पास जीत के लिये बराबरी का मौका है और वह इंग्लैंड के खिलाफ पूरी तरह से प्रतिस्पर्धी साबित होगी। उन्होंने अपने गेंदबाजी क्रम की भी प्रशंसा करते हुये कहा’ हमारे पास 20 विकेट लेने की क्षमता है और इसके लिये टीम में अच्छे गेंदबाज हैं। हमें इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि हम किन परिस्थितियों में खेल रहे हैं।’ उन्होंने कहा’ हमारे पास विभिन्न गेंदबाज हैं लेकिन हमें अपनी योजना को लागू करने करना होगा, इसके साथ ही अच्छी बल्लेबाजी भी हमारे लिये बहुत अहम है। हमारे बल्लेबाजों ने दक्षिण अफ्रीका में काफी निराश किया था।’ गौरतलब है कि भारतीय टीम के लिये फिलहाल ओपनिंग क्रम उसका सिरदर्द बना हुआ है।

india test team shikhar dhawan के लिए इमेज परिणाम

वहीं मध्यक्रम में भी स्थिति स्थिर दिखाई नहीं दे रही है। इंग्लैंड में हालांकि गर्मी अधिक होने के कारण वहां की पिचों को उपमहाद्वीप के हिसाब से माना जा रहा है जो स्पिनरों के लिये मददगार होती हैं। गर्मी के कारण भारत के एसेक्स के साथ चार दिवसीय अभ्यास मैच में भी एक दिन कम किया गया था। वहीं मेरिलबोन क्रिकेट क्लब(एमसीसी) ने भी पहले टेस्ट में अपने खिलाड़ियों को पारंपरिक जैकेट पहनने से छूट दे दी है। भारतीय कोच ने कहा’ मुझे नहीं लगता कि यहां गर्मी से मैच पर बहुत फर्क होगा क्योंकि यहां के मैदान अलग हैं, मौसम अलग हैं और भारत के हिसाब से यहां की परिस्थितियां अलग होंगी। लेकिन इंग्लैंड में जो भी स्थिति रहेगी भारतीय खिलाड़ी उसमें अपनी ओर से अच्छा प्रदर्शन करेंगे।’

india test team practice के लिए इमेज परिणाम

भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली के लिये इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज उनके व्यक्तिगत प्रदर्शन के लिहात्र से भी काफी अहम मानी जा रही है जिनका 2014 की आखिरी सीरीज में बल्ले से प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा था। विराट अब दुनिया के स्टार बल्लेबाजों में शुमार हैं तो बतौर कप्तान उनपर 11 वर्ष बाद भारत को इंग्लैंड की जमीन पर सीरीज जितवाने का दारोमदार है। भारत ने आखिरी बार 2007 में इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज जीती थी जबकि महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में उसे 2011 में 0-4 से और 2014 में 1-3 से सीरीज में शिकस्त मिली है। इसके अलावा भारतीय टीम के मौजूदा बल्लेबाजी क्रम में विराट सबसे भरोसेमंद चेहरा हैं। एसेक्स के खिलाफ अभ्यास मैच में टीम के शीर्ष क्रम के तीन बल्लेबाजों शिखर धवन, चेतेश्वर पुजारा और उपकप्तान अजिंक्या रहाणे की निराशाजनक फार्म के बाद तो विराट की जिम्मेदारी और भी बढ़ गयी है।

india test team practice के लिए इमेज परिणाम

शास्त्री ने कहा’ विराट ने पिछले चार वर्षों में कमाल की फार्म दिखाई है और यह सभी जानते हैं। यदि आप इस तरह से और इस मानसिकता के साथ खेलते हैं तो आप किसी भी परीक्षा के लिये तैयार रहते हैं। जब विराट यहां 2014 में खेले थे तब उन्होंने निराश किया लेकिन चार वर्ष बाद वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर हैं। वह यहां अब दुनिया को दिखाने आये हैं कि वह दुनिया के बेहतरीन खिलाड़ी हैं।’ कोच ने साथ ही माना कि भारतीय टीम को इंग्लैंड में जीत के लिये आक्रामकता के साथ निडर होकर भी खेलना होगा। उन्होंने कहा’ खिलाड़ियों को मजे लेकर और आक्रामकता के साथ खेलना होगा। हम यहां मैच ड्रॉ कराने नहीं बल्कि सीरीज जीतने आये हैं। हम हर मैच को ताकत से खेलेंगे।’

india test team practice के लिए इमेज परिणाम