हिंडन एयरबेस से घरेलू उड़ान सेवा शुरू होने का करार प्रदेश सरकार और एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (AAI) के बीच हो गया है। वही, माना जा रहा है कि सरकार की कोशिश आम चुनाव से पहले हिंडन से घरेलू उड़ान सेवा शुरू कर पश्चिम यूपी के साथ दिल्ली को बड़ी सौगात देने की तैयारी है।

ऐसे में सरकार चाहती है कि अब हिंडन एयरबेस के बाहर टर्मिनल बनाने के काम में ओर ज्यादा देरी न हो। इसलिए प्रशासन को तत्काल लीज रेट के हिसाब से निर्धारित धनराशि की तत्काल एयरपोर्ट अथॉरिटी को डिमांड भेजने का निर्देश दिया गया है।

सूत्रों के अनुसार , सरकार की कोशिश है कि हिंडन से घरेलू सेवा की टाइम कुछ ऐसी रहे जहां से आम चुनाव का बिगुल बच चुका हो। ताकि सरकार इसे अपनी एक बड़ी उपलब्धि मानते हुए जनता के बीच जा सके।

आपको बता दे कि लखनऊ में नागरिक उड्डयन विभाग के अधिकारियों और एयरपोर्ट अथॉरिटी के अधिकारियों के बीच एमओयू साइन हुआ। करार के अनुसार अथॉरिटी हर साल 44 लाख रुपये किसानों को जमीन का किराया देगी। दिवाली 7 नवंबर को है।

प्रशासन का दावा है कि इससे पहले उड़ान शुरू हो जाएगी। इससे पूर्वी दिल्ली के साथ गाजियाबाद, मेरठ, बागपत, गौतमबुद्ध नगर, हापुड़, बुलंदशहर, मुजफ्फरनगर सहित आसपास के एक दर्जन जिले के लोगों के लिए उड़ान सेवा आसान हो जाएगी।

वही , बताया जा रहा है कि नोएडा के जेवर बनने जा रहे इंटरनेशनल 2 से 3 वर्ष के अंदर तैयार हो जाएगी। ऐसे में उसके बाद आवश्यकता के अनुसार हिंडन एयरबेस पर विचार भी किया जा सकता है कि उससे चलाई जा रही उड़ान सेवा को जारी रखा जाए या फिर नहीं है।