BREAKING NEWS

JNU छात्र आज फिर उतर सकते है सड़को पर, प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे स्टूडेंट ◾1 दिसंबर से ग्राहकों की जेब पर बढ़ेगा बोझ, ये दूरसंचार कंपनियां बढ़ाएंगी मोबाइल सेवाओं की दरें◾इंदिरा गांधी की जयंती पर PM मोदी, सोनिया, मनमोहन और प्रणब मुखर्जी ने दी श्रद्धांजलि◾महाराष्ट्र : महीनेभर बाद भी एक ही सवाल, कब और कैसे बनेगी सरकार? ◾झारखंड के चुनाव परिणाम बिहार राजग पर डालेंगे असर! ◾ खट्टर ने स्थानीय युवाओं को नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षण देने वाला विधेयक न लाने के संकेत दिए ◾सबरीमला में श्रद्धालुओं की जबरदस्त भीड़, 2 महिलायें वापस भेजी गयी ◾जेएनयू छात्रसंघ पदाधिकारियों का दावा, एचआरडी मंत्रालय के अधिकारी ने दिया समिति से मुलाकात का आश्वासन ◾प्रियंका गांधी ने इलेक्टोरल बांड को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾TOP 20 NEWS 18 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद पवार बोले- किसी के साथ सरकार बनाने पर चर्चा नहीं◾INX मीडिया धनशोधन मामला : चिदंबरम ने जमानत याचिका खारिज करने के आदेश को न्यायालय में दी चुनौती ◾मनमोहन सिंह ने कहा- राज्य की सीमाओं के पुनर्निधार्रण में राज्यसभा की अधिक भूमिका होनी चाहिए◾'खराब पानी' को लेकर पासवान का केजरीवाल पर पटलवार, कहा- सरकार इस मुद्दे पर राजनीति नहीं करना चाहती◾संसद का शीतकालीन सत्र : राज्यसभा के 250वें सत्र पर PM मोदी का संबोधन, कहा-इसमें शामिल होना मेरा सौभाग्य◾बीजेपी बताए कि उसे चुनावी बॉन्ड के जरिए कितने हजार करोड़ रुपये का चंदा मिला : कांग्रेस ◾CM केजरीवाल बोले- प्रदूषण का स्तर कम हुआ, अब Odd-Even योजना की कोई आवश्यकता नहीं है ◾महाराष्ट्र: शिवसेना संग गठबंधन पर शरद पवार का यू-टर्न, दिया ये बयान◾ JNU स्टूडेंट्स का संसद तक मार्च शुरू, छात्रों ने तोड़ा बैरिकेड, पुलिस की 10 कंपनियां तैनात◾शीतकालीन सत्र: NDA से अलग होते ही शिवसेना ने दिखाए तेवर, संसद में किसानों के मुद्दे पर किया प्रदर्शन◾

Top News

BJP और RSS के दिल में नफरत : राहुल गांधी

भोपाल : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को मध्यप्रदेश के मालवा अंचल में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि 'भाजपा, आरएसएस और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिल में नफरत भरा है, मगर हमारा काम नफरत को मिटाना है।'

मालवा के देवास, धार व खरगोन के कांग्रेस उम्मीदवारों के समर्थन में प्रचार करने आए पार्टी अध्यक्ष ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर हमला करते हुए कहा, 'प्रधानमंत्री मोदी मुझसे चाहे जितनी नफरत करें, मैं तो उन्हें गले लगाऊंगा। मोदी को नफरत से नहीं, प्यार से हराया जा सकता है।'

उन्होंने आगे कहा, 'मैं नरेंद्र मोदी से नफरत नहीं करता हूं। मोदीजी, जो आपको बोलना है बोलिए, नफरत को नफरत नहीं काट सकती। नफरत के साथ नरेंद्र मोदी को नहीं हराया जा सकता, नरेंद्र मोदी को सिर्फ प्यार से हराया जा सकता है।'

मध्यप्रदेश में किसानों की कर्जमाफी को लेकर राहुल ने एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिह चौहान पर हमला बोला। उन्होंने कहा, 'राज्य में सिर्फ गरीब किसानों का कर्ज माफ नहीं हुआ है, बल्कि शिवराज सिह चौहान के भाई और परिवार के सदस्यों का भी कर्ज माफ हुआ है। इसके कागज भी सामने आ गए हैं, परिवार के सदस्यों के दस्तखत वाले फॉर्म कमलनाथ ने निकाले हैं।'

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता राजकुमार चौहान BJP में शामिल

उन्होंने कहा, 'कांग्रेस के कार्यकर्ता के दिल में नफरत नहीं है, भाजपा के लोगों, आरएसएस के लोगों और नरेंद्र मोदी के दिल में नफरत है। हमारा काम उस नफरत को मिटाना है।'

राहुल ने कहा, 'ये लोग मुझ पर आक्रमण करते हैं, मेरे पिता के बारे में बोलते हैं, दादी के बारे में और परनाना के बारे में बोलते हैं। नफरत से बोलते हैं, गुस्से से बोलते हैं और मैं झप्पी देता हूं। जाके गले लग जाता हूं। नरेंद्र मोदी जी देश के प्रधानमंत्री हैं, देश के व्यक्ति आपके पीछे खड़े हैं। नफरत मिटाइए, प्यार से काम कीजिए। आपका ही फायदा होगा।'

उन्होंने कहा, 'देश पूछ रहा है कि नरेंद्र मोदी पुलवामा, बालाकोट की बात करते हैं, मगर राफेल रक्षा सौदे की बात नहीं करते। मैंने संसद में उनसे चार सवाल पूछे। 526 करोड़ का राफेल विमान 16 सौ करोड़ में क्यों खरीदा, उसे हिंदुस्तान के एचएएल में क्यों नहीं बनाया जा रहा, अनिल अंबानी को कांट्रैक्ट क्यों दिलवाया, हिंदुस्तान में विमान क्यों नहीं बनेगा। लेकिन वे कुछ नहीं बोले। नेहरू, इंदिरा, राजीव के नाम लेते रहे। बाहर निकलने पर मुझे अनुभवी लोगों ने कहा, आज आपने नरेंद्र मोदी को खत्म कर दिया। नरेंद्र मोदी आपके सवाल का जवाब नहीं दे पाए। यह नजारा आज पूरे देश ने देख लिया है।'

नोटबंदी और जीएसटी से हुई परेशानियों और इसके रोजगार पर पड़े असर का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, 'नोटबंदी और जीएसटी के कारण देश की अर्थव्यवस्था गड़बड़ा गई है, रोजगार के अवसर कम हुए हैं। बेरोजगारी ने 45 साल का रिकार्ड तोड़ दिया है। युवाओं को कोई रास्ता नहीं सूझ रहा है।'

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, 'कांग्रेस ने देश के गरीबों के लिए न्याय योजना तैयार की है। इस योजना के तहत हिंदुस्तान के सबसे गरीब लोगों के बैंक खातों में सीधे पैसा डाला जाएगा। 72 हजार रुपये साल के और तीन लाख 60 हजार रुपये पांच सालों में डाले जाएंगे। इस योजना से देश के पांच करोड़ परिवारों के 25 करोड़ लोगों को लाभ होगा।'

राहुल ने कहा कि न्याय योजना से लाखों करोड़ रुपये जैसे ही सबसे गरीब परिवारों के खातों में जाएंगे, वैसे ही खरीदारी शुरू होगी। यह खरीदी दुकानों से होगी, जैसे ही माल बिकना शुरू होगा, फैक्टरी चालू होगी। उसके बाद युवाओं को रोजगार मिलेगा। इस योजना का मकसद गरीबों की मदद तो है ही, साथ में देश की अर्थव्यवस्था को सुधारना भी है।

न्याय योजना का ब्योरा देते हुए उन्होंने ने कहा, जिस किसी व्यक्ति की आमदनी 12 हजार रुपये माह से कम है, उसके खाते में इस योजना की राशि तब तक जाएगी, जब तक उसकी आमदनी 12 हजार रुपये प्रति माह नहीं हो जाती।

इससे पहले, मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा, 'कांग्रेस प्रवचन की नहीं, वचन की पार्टी है। हमने सरकार बनने के बाद नीति और नीयत का परिचय दिया है। हर चुनाव प्रजातंत्र का उत्सव होता है। सच्चाई को पहचानिए। आप विकास के भविष्य का बटन दबाएंगे। हमें प्रदेश में कृषि क्रांति लानी है। किसान का जन्म और मृत्यु दोनों कर्जे में होती है। फसल ऋण माफ करके हमने वचन पूरा किया है। शिवराजसिह के गांव जैत में ही अकेले 94 किसानों के ऋण माफ हुए हैं।'

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, 'राहुल गांधी का मतलब है किसानों के साथ न्याय, ऋणमाफी, सही मूल्य, आदिवासियों के साथ न्याय और गरीबी पर वार। वे जो कहते हैं, उसे करते हैं। नरेंद्र मोदी 2014 में गुजरात मॉडल लेकर आए थे, जो अब फेल हो चुका है। अब कभी उसका जिक्र नहीं करते। मोदी फिलहाल हमारे राष्ट्रीय नेताओं का अपमान करने में लगे हुए हैं।'