MP में एक चाय बेचने वाले की बेटी ने आसमान में उड़ने के अपने सपने को साकार कर दिखाया है। मध्य प्रदेश के नीमच जिले की चाय बेचने वाले की 24 वर्षीय बेटी आंचल गंगवाल का चयन भारतीय वायुसेना के फ्लाइंग ब्रांच में हो गया है। यानी अब आंचल भारतीय वायुसेना में फाइटर प्लेन उड़ाएगी।

खास बात है कि आंचल के पिता चाय बेचने का काम करते हैं। वह अपनी बेटी की इस सफलता पर फूले नहीं समा रहे। आंचल के पूरे परिवार में खुशी की लहर है। उनके पिता ने अपनी बेटी की इस सफलता पर उसे मिठाई खिलाई और भगवान का शुक्रिया अदा किया।

वही ,आंचल गंगवाल  का कहना है कि वह उत्तराखंड में 2013 में आई आपदा के दौरान भारतीय सशस्त्र बलों द्वारा किए गए बचाव अभियान से काफी प्रेरित थीं और उन्हीं से प्रेरणा लेकर उन्होंने भी भारतीय सेना में जाने का मन बना लिया था।

आंचल गंगवाल ने बताया कि जब मैं 12वीं क्लास में थी, तब उत्तराखंड में भयानक बाढ़ आई थी और इस दौरान भारतीय सशस्त्र बलों के रेस्क्यू ऑपरेशन को देखकर मैं काफी प्रभावित हुई थी और तभी मैंने सेना में जाने का निर्णय कर लिया था। लेकिन उस समय मेरे आर्थिक हालात सही नहीं थे।

उन्होंने आगे कहा कि मैंने आंचल को इंदौर में कोचिंग क्लास लेने के लिए कर्ज लिया और उसे इंदौर भेजा। साथ ही मैंने अपने बड़े बेटे की इंजीनियरिंग के लिए भी कर्ज लिये। मेरी छोटी बेटी अभी 12वीं में है। बता दें कि आंचल को हैदराबाद के डुंडीगुल एयर फोर्स एकेडमी में 30 जून तक रिपोर्ट करने को कहा गया है।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।